PreviousNext

अगले महीने फिर महंगा हो सकता है पेट्रोल-डीजल

Publish Date:Sat, 16 Feb 2013 08:16 AM (IST) | Updated Date:Sat, 16 Feb 2013 08:17 AM (IST)
अगले महीने फिर महंगा हो सकता है पेट्रोल-डीजल
पेट्रोलियम उत्पादों की गाज आम आदमी पर गिरने का सिलसिला जारी है। बजट सत्र से ठीक एक हफ्ते पहले केंद्र ने तेल कंपनियों को पेट्रोल डेढ़ रुपये और डीजल को पचास पैसे प्रति लीटर महंगा करन

नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। पेट्रोलियम उत्पादों की गाज आम आदमी पर गिरने का सिलसिला जारी है। बजट सत्र से ठीक एक हफ्ते पहले केंद्र ने तेल कंपनियों को पेट्रोल डेढ़ रुपये और डीजल को पचास पैसे प्रति लीटर महंगा करने की इजाजत दे दी। यह वृद्धि शुक्रवार आधी रात से ही लागू हो गई। दिल्ली में टैक्स जोड़कर पेट्रोल में यह बढ़ोतरी 1.80 रुपये और डीजल पर 51 पैसे बैठेगी। पेट्रोल के दाम बढ़ने के बाद अब दिल्ली में पेट्रोल 68.76 रुपए प्रति लीटर मिलेगा, जबकि लखनऊ में एक लीटर पेट्रोल के लिए 74.04 रुपए चुकाने होंगे। इसके अलावा मुंबई में 75.50 रुपए, कोलकाता में 76.22 रुपए, चेन्नई में 71.61 रुपए, पटना में 73.41 रुपए और देहरादून में 71.68 रुपए प्रति लीटर मिलेगा। यह मूल्य वृद्धि अगले माह भी जारी रह सकती है।

तेल कीमतों में वृद्धि के पीछे सरकारी तेल कंपनियों ने तर्क यह दिया है कि हाल के एक महीने में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल (क्रूड) की कीमतों में लगातार वृद्धि को देखते हुए यह फैसला किया गया है। इसके पहले सरकारी तेल कंपनियों ने 18 जनवरी को पेट्रोल को 25 पैसे सस्ता किया था। वैसे, उन्होंने संकेत दिए हैं कि अगले महीने भी पेट्रोल और डीजल की कीमत में वृद्धि का सिलसिला जारी रह सकता है। डीजल की कीमत में हर महीने 50 पैसे प्रति लीटर बढ़ाने का फैसला पिछले महीने सरकार ने किया था। ताजा वृद्धि के बाद भी तेल कंपनियों ने डीजल पर 10.27 रुपये प्रति लीटर के घाटे का दावा किया है।

कंपनियों की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि उन्हें इस समय केरोसीन पर 31.60 रुपये प्रति लीटर और सब्सिडी वाले रसोई गैस पर 481 रुपये प्रति सिलेंडर का घाटा हो रहा है। इस हिसाब से तेल कंपनियों को पूरे वित्त वर्ष के दौरान 1,63,000 करोड़ रुपये का घाटा होने के आसार हैं। इसका आधा हिस्सा यानी लगभग 82 हजार करोड़ रुपये केंद्र को अपने खजाने से चुकाना होगा। पिछले नौ महीने में सरकार 55 हजार करोड़ रुपये तेल कंपनियों को अदा कर चुकी है।

तेल कंपनियों को जून, 2010 में पेट्रोल की कीमत तय करने की आजादी मिली थी। अब तक वे 28 बार कीमत तय कर चुकी हैं। इसमें 20 बार कीमत बढ़ाई गई है, जबकि आठ बार घटाई गई है। डीजल पर घाटे के जो आंकड़े तेल कंपनियों ने दिए हैं उनके मुताबिक अगले 22 महीनों तक डीजल की कीमत बढ़ती रहेगी।

टेबल-

पेट्रोल के दाम

शहर पुरानी कीमत नई कीमत

दिल्ली 67.26 69.06,

कोलकाता 74.72 76.59

डीजल के दाम

दिल्ली 47.65 48.16

कोलकाता 51.51 52.04

[कीमत रुपये प्रति लीटर]

विभिन्न शहरों में पेट्रोल की बढ़ी कीमतें :-

दिल्ली :- 68.76 रुपए

लखनऊ :- 74.04 रुपए

मुंबई :- 75.50 रुपए

कोलकाता :- 76.22 रुपए

चेन्नई :- 71.61 रुपए

पटना :- 73.41 रुपए

देहरादून :- 71.68 रुपए

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Petrol, diesel prices may be hike again in next month(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

मोदी सरकार लागू करे अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजनादिल्ली-एनसीआर में दो बच्चियों के साथ रेप
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »