PreviousNext

राष्ट्रपति चुनावः NDA के दलित कार्ड के जवाब में विपक्ष का दलित महिला

Publish Date:Tue, 20 Jun 2017 09:43 AM (IST) | Updated Date:Tue, 20 Jun 2017 12:38 PM (IST)
राष्ट्रपति चुनावः NDA के दलित कार्ड के जवाब में विपक्ष का दलित महिलाराष्ट्रपति चुनावः NDA के दलित कार्ड के जवाब में विपक्ष का दलित महिला
एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद से मुकाबले के लिए विपक्ष खेमे में मीरा कुमार को राष्ट्रपति प्रत्याशी बनाने पर विचार हो रहा है। अगर ऐसा हुआ तो वास्तव में मुकाबला दिलचस्प होगा।

नई दिल्ली(जेएनएन)। रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने के भाजपा के फैसले ने विपक्षी गोलबंदी की नींव हिला दी है। एनडीए ने राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए दलित कार्ड खेलकर विपक्षी दलों को चित करने और शांत करने की कोशि‍श की है। लेकिन अब विपक्ष खेमा भी इससे निपटने के लिए इससे बड़ा 'दलित महिला' कार्ड निकालने की कोशिश कर रहा है।

एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद से मुकाबले के लिए विपक्ष खेमे में मीरा कुमार को राष्ट्रपति प्रत्याशी बनाने पर विचार हो रहा है। अगर ऐसा हुआ तो वास्तव में मुकाबला दिलचस्प होगा।

कोविंद जैसा गैरविवादित चेहरा सामने आने से असहज विपक्ष ने सियासत बचाने के लिए अपना राष्ट्रपति उम्मीदवार भी उतारने का इरादा कर लिया है। इस बीच विपक्षी खेमा पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार को उम्मीदवार बनाने पर गंभीर है। राजग के सियासी दांव से मिले घाव पर मरहम लगाने के लिए पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे और बाबा साहब अंबेडकर के पौत्र प्रकाश अंबेडकर भी विपक्ष के संभावित उम्मीदवारों की सूची में शामिल हैं। विपक्षी दल 22 जून को अपनी बैठक में अपने उम्मीदवार का फैसला करेंगे।

रामनाथ कोविंद के नाम के एलान के तत्काल बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने राजग के कदम को एकतरफा फैसला करार देते हुए संकेत दे दिया कि विपक्ष अब आम सहमति के लिए राजी नहीं होगा। इसीलिए विपक्षी दल सामूहिक रूप से राष्ट्रपति चुनाव में उतरने पर फैसला लेंगे। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने भी राजग उम्मीदवार के खिलाफ विपक्ष का प्रत्याशी उतारे जाने का ही संकेत दिया।

कांग्रेस और वामदलों के अलावा तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी भी कोविंद के नाम पर आम सहमति के पक्ष में नहीं हैं। कांग्रेस और वामदल बेशक कोविंद के खिलाफ दलित चेहरे को उम्मीदवार बनाने की वकालत कर रहे हैं।  उनमें इस पर गंभीर मतभेद हैं कि राष्ट्रपति चुनाव को दलित बनाम दलित की लड़ाई बनाना कितना सही होगा। इन मतभेदों के बीच मीरा कुमार बड़े दलित और महिला चेहरे के तौर पर पहली पसंद रही हैं। 

यह भी पढ़ेंः कभी मोदी की जीत के रणनीतिकार थे कोविंद, अाज राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Oppositions Dalit woman in response to NDAs Dalit card in Presidential election(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

कभी मोदी की जीत के रणनीतिकार थे कोविंद, अाज राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारराजग उम्मीदवार से नाखुश शिवसेना, कोविंद का नाम पसंद नहीं
यह भी देखें