PreviousNext

अब सेना को मिलेगी सुरक्षित और गोपनीय टेलीकॉम सेवाएं

Publish Date:Thu, 08 Oct 2015 02:18 AM (IST) | Updated Date:Thu, 08 Oct 2015 02:45 AM (IST)
अब सेना को मिलेगी सुरक्षित और गोपनीय टेलीकॉम सेवाएं
भारतीय सेना को अब सुरक्षित और सिक्योर्ड टेलीकॉम सेवाएं मिलेगी। इसके लिए भारत संचार निगम लिमिडेट द्वारा 6 हजार किलोमीटर का हाइली सिक्योर्ड ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क तैयार किया जा रहा ह

जबलपुर। भारतीय सेना को अब सुरक्षित और सिक्योर्ड टेलीकॉम सेवाएं मिलेगी। इसके लिए भारत संचार निगम लिमिडेट द्वारा 6 हजार किलोमीटर का हाइली सिक्योर्ड ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क तैयार किया जा रहा है। केंद्र सरकार की 'नेटवर्क फॉर स्पेक्ट्रम" योजना के तहत इस स्कीम पर काम शुरू हो चुका है। इस नेटवर्क का लाभ थल सेना के साथ साथ वायु सेना और नौसेना को भी मिलेगा।
बीएसएनएल और भारतीय सेना दोनों मिलकर इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं। इसके लिए शहर में स्थित भारतरत्न भीमराव आंबेडकर दूरसंचार प्रशिक्षण संस्थान में पांच दिवसीय प्रशिक्षण शिविर मंलगवार से शुरू हो गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम के पहले संस्थान की महाप्रबंधक निधि माथुर ने सेना और बीएसएनएल के अधिकारियों का स्वागत किया। उपमहाप्रबंधक राजीव गंगवार ने बताया कि सेना के अधिकारियों को संस्थान की हाई क्वालिटी प्रयोगशालाओं में अनुभवी प्रशिक्षकों द्वारा ऑप्टिकल फाइबर केबिल में पारंगत किया जाएगा।
इस अवसर पर संस्थान के मुख्य महाप्रबंधक डॉ.गोपाल चंद मन्न्ा ने बताया कि दूरसंचार के क्षेत्र में नित नए परिवर्तन हो रहे हैं। साथ ही दूरसंचार मीडिया का रोल महत्वपूर्ण होता जा रहा है। उपमहाप्रबंधक डीपी तिवारी ने सेना के अफसरों को विस्तार से प्रोजेक्ट की बारीकियां समझाईं।

पढ़ेंः पाक को मुंहतोड़ जवाब देने को सेना हर समय तैयार

पढ़ेंः मंडी में सेना भर्ती के दौरान पकड़ा फर्जी लांस नायक

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Now the army will secure and confidential Telecom Services(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

राशन, एलपीजी को छोड़ निराधार ही रहा आधारदिल्ली की उच्च सुरक्षा वाली तिहाड़ जेल में गैंगवार, दो कैदियों की हत्या
यह भी देखें