PreviousNext

खेती को संकट से उबारने के लिए नीति आयोग ने किया मंथन

Publish Date:Sat, 08 Jul 2017 09:51 PM (IST) | Updated Date:Sat, 08 Jul 2017 09:51 PM (IST)
खेती को संकट से उबारने के लिए नीति आयोग ने किया मंथनखेती को संकट से उबारने के लिए नीति आयोग ने किया मंथन
यह बैठक नीति आयोग के सदस्य और कृषि विशेषज्ञ रमेश चंद की अध्यक्षता में हुई।

नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। खेती पर संकट और देशभर में जगह-जगह किसानों के प्रदर्शन के मद्देनजर नीति आयोग ने शनिवार को कृषि की लागत घटाने और उत्पादन बढ़ाने के उपायों पर चर्चा की। आयोग ने इस सिलसिले में राज्यों के किसान आयोगों के साथ बैठक कर उपाय तलाशने को विचार विमर्श किया।

यह बैठक नीति आयोग के सदस्य और कृषि विशेषज्ञ रमेश चंद की अध्यक्षता में हुई। इसमें कृषि क्षेत्र से जुड़े नियमन की व्यवस्था को सरल बनाने पर जोर दिया गया। बैठक में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान के कृषि आयोगों के अध्यक्ष शामिल हुए। राजस्थान की ओर से इस बैठक में राज्य किसान आयोग के अध्यक्ष सांवर लाल जाट शामिल हुए। उन्होंने कहा कि बैठक में कृषि इनपुट और आउटपुट रेगुलेशन, किसानों की आय दोगुनी करने और कृषि उत्पादकता बढ़ाने पर चर्चा की।

वहीं उत्तर प्रदेश के कृषि, कृषि शिक्षा और अनुसंधान विभाग मंत्री सूर्य प्रताप ने कहा कि कृषि से संबंधित इनपुट कम करने और आउटपुट बढ़ाने से संबंधित सुधार पर नीति आयोग की बैठक में चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने संबंधी उपायों पर भी चर्चा हुई। यूपी के किसानों का कर्ज माफ करने की घोषणा के बारे में पूछे जाने पर शाही ने कहा कि तैयारी चल रही है। आगामी बजट में इसका खाका पेश किया जायेगा।

बैठक में आए मध्य प्रदेश किसान आयोग अध्यक्ष ईश्र्वर लाल पाटीदार ने कहा कि बैठक में कृषि और किसानों की स्थिति सुदृढ़ करने पर हुई चर्चा। साथ ही एमएसपी बढ़ाने, निर्यातोन्मुख कृषि नीति अपनाने, नकली खाद पर रोक और इंटीग्रेटेड ऑनलाइन मार्केट पर चर्चा हुई

हरियाणा किसान आयोग अध्यक्ष रमेश यादव ने कहा कि आज किसानों की वित्तीय हालात बहुत ख़राब है। बैठक में किसानों की आय दोगुनी करने, फसलों और अनाज के लिए ऑनलाइन एकल बाजार और फसलों के विविधीकरण जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई।

 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:niti aayog consider on farming condition in india(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जानिए, क्यों अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने किया गुरू पूर्णिमा का जिक्रगोरखालैंड की मांग पर दार्जिलिंग में फिर हिंसा, चार की मौत, सेना तैनात
यह भी देखें