PreviousNext

दो बेटी होने की सजा, बेटियों के साथ मां को जिंदा जलाया

Publish Date:Fri, 23 Aug 2013 01:52 AM (IST) | Updated Date:Fri, 23 Aug 2013 01:54 AM (IST)
दो बेटी होने की सजा, बेटियों के साथ मां को जिंदा जलाया
आगरा, जागरण संवाददाता। निबोहरा के गांव बिलईपुरा में लगातार दो बेटी पैदा होने के बाद गर्भवती के तीसरी संतान भी बेटी होने की आशंका के चलते उसे मासूमों के साथ जिंदा जला दिया गया। पति

आगरा, जागरण संवाददाता। निबोहरा के गांव बिलईपुरा में लगातार दो बेटी पैदा होने के बाद गर्भवती के तीसरी संतान भी बेटी होने की आशंका के चलते उसे मासूमों के साथ जिंदा जला दिया गया। पति समेत चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। ससुराल वाले फरार हैं।

पिनाहट के गांव मलहन का पुरा निवासी सुदामा पुत्री सुखलाल की शादी 2007 में देवेंद्र सिंह के साथ हुई थी। उसकी ससुराल निबोहरा के गांव बिलई का पुरा में थी। शादी के बाद लगातार दो बेटी पैदा होने पर ससुराल वाले उसे ताना देकर उत्पीड़ित करते थे। अतिरिक्त दहेज की मांग कर रहे थे। बुधवार को रक्षाबंधन पर ससुराल वालों ने उसे बेटी पैदा करने की सजा के तौर पर मायके भेजने से इन्कार कर दिया। सुदामा के भाई राम नरेश के आरोप के मुताबिक बुधवार देर रात पति और ससुराल वालों ने तीसरी बेटी होने की आशंका के चलते गर्भवती सुदामा और दोनों बेटियों पर मिट्टी का तेल छिड़क करआग लगाने के बाद कमरे को बंद कर दिया। कमरे से धुंआ निकलता देख मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने दरवाजा तोड़ा, लेकिन तब तक मां- बेटियां दम तोड़ चुकी थीं। घटना के बाद ससुराल वाले फरार हो गए। एसपी ग्रामीण केपी यादव का कहना है कि मृतका के भाई रामवीर ने पति देवेंद्र सिंह, सास शीला देवी, ससुर दु:शासन और चचिया ससुर कालीचरन के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। जांच की जा रही है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:mother with two daughter burnt alive(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

अमिताभ की मार्मिक अपील, बच्चों के खिलाफ यौन हिंसा रोकेंआसाराम हो सकते हैं गिरफ्तार, उमा उतरी समर्थन में
यह भी देखें

संबंधित ख़बरें

      जनमत

      पूर्ण पोल देखें »