PreviousNext

80 फीसद अंक फिर भी नहीं मिला एडमिशन, थामा फावड़ा बन गया किसान

Publish Date:Mon, 17 Jul 2017 04:25 PM (IST) | Updated Date:Mon, 17 Jul 2017 04:38 PM (IST)
80 फीसद अंक फिर भी नहीं मिला एडमिशन, थामा फावड़ा बन गया किसान80 फीसद अंक फिर भी नहीं मिला एडमिशन, थामा फावड़ा बन गया किसान
लीजो ने अपनी निराशा को फेसबुक में अपनी एक पोस्ट के जरिए जाहिर किया। फेसबुक पर उसने फावड़े के साथ अपनी एक तस्वीर भी पोस्ट की है।

तिरुवनंतपुरम, जेएनएन। किसी अच्छे कॉलेज में दाखिला लेने के लिए छात्र 12वीं की कक्षा में अच्छे नंबर लाने के लिए जी तोड़ मेहनत करते हैं। 12वीं में अच्छे अंक लाने के बाद भी अगर किसी छात्र को कॉलेज में दाखिला ना मिले तो जाहिर है उसे निराशा होगी। ऐसा ही कुछ हुआ है तिरुवनंतपुरम में एक छात्र के साथ।

लीजो जॉय नाम का ये लड़का 12वीं में करीब 80 फीसद अंक तो लाया लेकिन पांचवें अलॉटमेंट के बाद भी उसे एडमिशन नहीं मिला। इस बात से निराश लीजो ने हाथ में फावड़ा उठा लिया और अब खेतीबाड़ी करने का फैसला कर लिया है। लीजो ने अपनी निराशा को फेसबुक में अपनी एक पोस्ट के जरिए जाहिर किया। फेसबुक पर उसने फावड़े के साथ अपनी एक तस्वीर भी पोस्ट की है। उसकी ये पोस्ट अब काफी वायरल हो गई है। इस पोस्ट को हजारों लोग अपनी फेसबुक वॉल पर शेयर कर चुके हैं।

लीजो ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि उसे मजबूरन खेती को चुनना पड़ा क्योंकि मौजूदा एजुकेशन सिस्टम में खराब रिजर्वेशन व्यवस्था के कारण उसे दाखिला नहीं मिल पाया। लीजो ने अपनी पोस्ट में ये भी बताया कि आरक्षण की वजह से 50 फीसद अंक हासिल करने वाले उनके दोस्तों को भी ऐडमिशन मिल रहा है।

सरकारी स्कूल जो कभी बंद होने के कगार पर था, अाज एडमिशन के लिए मारामारी

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:lijo roy decided to farming after denied to get admission(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

फारूक का तंज, कहा- चीन को चुनौती नहीं दे सकता भारतघाटी में आतंक के सौदागरों का होगा अंत, अब सैन्य अभियान होगा और तेज
यह भी देखें