PreviousNext

त्रिपुरा में बच्चों को मिला 150 ग्रेनेड, सेना ने किया निष्क्रिय

Publish Date:Sat, 20 May 2017 04:04 PM (IST) | Updated Date:Sat, 20 May 2017 04:34 PM (IST)
त्रिपुरा में बच्चों को मिला 150 ग्रेनेड, सेना ने किया निष्क्रियत्रिपुरा में बच्चों को मिला 150 ग्रेनेड, सेना ने किया निष्क्रिय
उत्तरी त्रिपुरा में पुलिस ने रेत के नीचे से 150 ग्रेनेड का जखीरा बरामद किया है।

अगरतला (आईएएनएस)। त्रिपुरा में ग्रेनेड मिलने का सिलसिला रुक नहीं रहा है। ताजा घटना में बच्चों को रेत में दबा 150 ग्रेनेड मिला जिसे सेना ने निष्क्रिय कर दिया है। पिछले सप्ताह ही लोकल पुलिस ने उत्तरी त्रिपुरा के गौरनगर में दबे मिले 151 ग्रेनेड को निष्क्रिय किया था।

बताते चलें कि स्कूल जाने वाले बच्चों को गौरनगर में केंद्रीय विद्यालय के नजदीक ग्राउंड में खेलते हुए ये ग्रेनेड मिला था। बच्चों ने इसकी जानकारी परिजनों को दी। परिजनों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने मौके से मिट्टी हटाकर सारे ग्रेनेड को बाहर निकाला और जगह को साफ कराया।

स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि ग्रेनेड 1971 में बांग्लादेश युद्ध के दौरान दफन किया गया हो सकता है। जब ये एक स्वतंत्र देश बन कर उभरा। इतिहासकार बीकच चौधरी ने बताया कि त्रिपुरा के चार क्षेत्रों में छह से सात शिविर ऐसे हैं जहां बांग्लादेशी स्वतंत्रता सेनानीयों ने प्रशिक्षण लेकर पाकिस्तानी सेनाओं पर हमला किया था।

नौ महीने की ये लंबी लड़ाई जो बाद में व्यापक रुप से भारत-पाकिस्तान युद्ध का रुप ले ली थी। इस युद्ध में 93,000 पाकिस्तानी सेनाओं ने ढाका में 16 दिसंबर को आत्मसमर्पण किया था। मालूम हो कि, त्रिपुरा, बांग्लादेश के साथ 856 किमी की सीमा साझा करता है।

यह भी पढ़ें : डेढ़ साल पुराने बम को किया गया डिफ्यूज

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Large cache of grenades found in Tripura defused(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

नाथूला में बोले राजनाथ सिंह, शहीदों के परिवार को मिलेगा 1 करोड़ का मुआवजाअजब-गजब हैं हमारे ये गांव, कुछ आपको हंसाएंगे तो कुछ पर होगा गर्व
यह भी देखें