PreviousNext

इस जादुई स्पिनर ने दोनों हाथों की गेंदबाजी, कर दिया कंगारुओं को परेशान

Publish Date:Wed, 13 Sep 2017 11:43 AM (IST) | Updated Date:Thu, 14 Sep 2017 10:03 AM (IST)
इस जादुई स्पिनर ने दोनों हाथों की गेंदबाजी, कर दिया कंगारुओं को परेशानइस जादुई स्पिनर ने दोनों हाथों की गेंदबाजी, कर दिया कंगारुओं को परेशान
क्रिकेट के नियम आपको इसकी इजाजत देते हैं।

नई दिल्ली, जेएनएन। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने भारत में बोर्ड प्रेसीडेंट इलेवन के साथ मैच खेलकर अपने दौरे का आगाज कर लिया है। इस मैच में 103 रनों से जीत हासिल करने के बाद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के हौसले जरूर बुलंद हैं, लेकिन इस मैच में कंगारू टीम को भारत के एक चौंकाने वाले गेंदबाज का सामना करना पड़ा।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चल रहे मैच में बोर्ड प्रेसीडेंट इलेवन के 24 साल के गेंदबाज अक्षय कर्णेवार ने अपने गेंदबाजी तरकश से ऐसे-ऐसे तीर निकाले, जिससे पूरी ऑस्ट्रेलियाई टीम हैरान रह गई।

 

दोनों हाथों से की गेंदबाजी

अक्षय ने इस मैच में दोनों हाथों से गेंदबाजी की। उन्होंने अपने कोटे के 6 ओवरों में से एक ओवर में दोनों हाथों से गेंदबाजी की। दोनों हाथों से गेंदबाजी क्रिकेट में बहुत कम देखने को मिलती है। हालांकि, ऐसा करने से गेंदबाजों को आइसीसी का कोई नियम नहीं रोकता है। इसलिए, अक्षय ने अपने 6 ओवरों में यह कमाल किया और ट्रैविस हेड का विकेट भी हासिल किया।

 

दोनों हाथों से करते हैं कमाल

यह अक्षय की खास बात है कि वह वह दोनों हाथों से शानदार ऑफ स्पिन करा लेते हैं। अक्षय ज्यादातर दाएं हाथ के बल्लेबाजों को बाएं हाथ से और बाएं हाथ के बल्लेबाजों को दाएं हाथ से गेंद करते हैं। दाएं हाथ के बल्लेबाजों को वह बाएं हाथ से 'ओवर द विकेट' गेंदबाजी करते हैं, जबकि बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए दाएं हाथ से 'राउंड द विकेट' गेंदबाजी करते हैं।

 

अक्षय की गेंदबाजी का नमूना

 

इस गेंदबाजी का यह है फायदा

इसकी वजह तो यह है कि वह फिंगर स्पिनर होकर रिस्ट स्पिनर जैसा कमाल करते हैं। चूंकि वह दाएं हाथ के बल्लेबाजों को बाएं हाथ से ऑफ स्पिन के अंदाज में गेंदबाजी करते हैं तो वह बल्लेबाज के लिए लेग स्पिन होकर आती है, जो रिस्ट स्पिनर करते हैं। अक्षय बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए वह दाएं हाथ से ऑफ स्पिन करते हैं तो वह भी लेग से ऑफ की ओर निकलती है। और इसका असर यह पड़ता है कि विकेट पर सेट बल्लेबाज भी चौंक जाता है। जैसे अक्सर गेंदबाज बल्लेबाजों के स्टांस बदलने से चौंक जाते हैं, वैसे ही बल्लेबाज भी गेंदबाजों के हाथ बदलने से अचरज में पड़ जाते हैं। चूंकि रिस्ट स्पिनर फिंगर स्पिनर के मुकाबले कम टर्न कराते हैं, इसलिए रिस्ट की शैली में फिंगर स्पिन से उन्हें ज्यादा टर्न मिल जाता है। 

 

शुरुआत की थी दाएं हाथ से 

आपको बता दें कि अक्षय अपने ज्यादातर काम बाएं हाथ से काम करते हैं, लेकिन उन्होंने करियर की शुरुआत दाएं हाथ के ऑफ स्पिनर के रूप में की थी। हालांकि अब वह ज्यादातर समय बाएं हाथ से गेंदबाजी करते हैं। इससे पहले अक्षय ने सैयद मुश्ताक अली टी-20 ट्रॉफी 2016 में भी दोनों हाथ से गेंदबाजी की थी। अक्षय 17 फर्स्ट क्लास मैच खेल चुके हैं, जिसमें उनके नाम 34 विकेट हैं। आइपीएल 2016 में उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने खरीदा था। अक्षय बल्लेबाजी भी बाएं हाथ से करते हैं। 

 

और भी हुए हैं ऐसे गेंदबाज

भारत के अक्षय कर्णेवार और श्रीलंका के कामिंडु मेंडिस ऐसे दो गेंदबाज हैं, जो अपने दोनों हाथ से गेंदबाजी कर सकते हैं। श्रीलंका के कामिंडु मेडिंस ने अंडर-19 वर्ल्ड कप 2016 में दोनों हाथों से गेंदबाजी कर सुर्खियां बटोरी थीं। इसके अलावा साल 1958 में गैरी सोबर्स के सामने पाकिस्तान के दाएं हाथ के स्पिनर हनीफ मोहम्मद ने बाएं हाथ से भी गेंदबाजी की थी। आपको बता दें कि वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज गैरी सोबर्स स्पिन और तेज गेंदबाजी दोनों किया करते थे। 

 

 चयनकर्ताओं की रहेगी नजर

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बोर्ड प्रेसीडेंट के मैच में अक्षय ने बल्ले से भी अपना दम दिखाया और 28 गेंदों में 2 चौके और 4 छक्कों की मदद से 40 रन बनाए। उम्मीद करते हैं कि चयनकर्ताओं की नजर इस युवा प्रतिभा पर बनी रहेगी। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Know about mystery spinner Akshay Karnewar who bowled with both hands in Australia vs Board President XI match ahead of India vs Australia ODI series(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

डिविलियर्स ने धौनी से पूछा- कब लोगे संन्यास, जवाब से घूम गया सिरऑस्ट्रेलियाई पत्रकार ने विराट को कहा स्वीपर तो भड़क उठे भारत-पाक के फैंस
यह भी देखें