PreviousNext

जानें, जब बिकिनी किलर शोभराज ने कहा कि अब मुझे भेज दो पेरिस

Publish Date:Fri, 09 Jun 2017 10:01 AM (IST) | Updated Date:Fri, 09 Jun 2017 02:55 PM (IST)
जानें, जब बिकिनी किलर शोभराज ने कहा कि अब मुझे भेज दो पेरिसजानें, जब बिकिनी किलर शोभराज ने कहा कि अब मुझे भेज दो पेरिस
बिकिनी किलर के नाम से कुख्यात चार्ल्स शोभराज की दिल की बीमारी है। काठमांडू में शनिवार को ऑपरेशन होगा। लेकिन वो पेरिस जाना चाहता है।

नई दिल्ली [स्पेशल डेस्क] । बिकनी किलर चार्ल्स शोभराज को उम्मीद है कि वो काठमांडू जेल से रिहा हो जाएगा। एक अंग्रेजी अखबार को दिए साक्षात्कार में उसने कहा कि वो दिल की बीमारी से जुझ रहा है। और चाहता है कि उसका इलाज फ्रांस में हो। लेकिन काठमांडू जेल प्रशासन ने उसकी अपील को ठुकरा दिया है। 2003 से काठमांडू की जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे शोभराज को दिल की बीमारी है। शनिवार को काठमांडू में वाल्व रिप्लेसमेंट के लिए उसकी ओपन हार्ट सर्जरी होनी है। 73 वर्षीय शोभराज पश्चिमी पर्यटकों की हत्या के लिए कुख्यात था। शोभराज लड़कियों को अपने प्रेमजाल में फंसाकर उनका रेप और हत्या कर देता था। 

पेरिस क्यों जाना चाहता है शोभराज

काठमांडू की जेल में बंद चार्ल्स शोभरज को लगता है कि अगर उसकी सर्जरी नेपाल में हुई तो उसका बचना मुमकिन नहीं है। उसने हॉर्ट सर्जरी का हवाला देते हुए कहा कि पेरिस की तुलना में काठमांडू में सर्जरी में सफलता की दर बेहद कम है। इसके अलावा उसे ये भी डर सता रहा है कि कहीं उसकी हत्या न हो जाए। दरअसल जब शोभराज को जेल से अस्पताल ले जाया जा रहा था तो एक शख्स ने कहा कि वो चाहता है कि उसकी मौत नेपाल की धरती पर ही हो। 

कौन है शोभराज

शोभराज के पिता मूल रूप से भारतीय और मां वियतनामी थी। शोभराज का जन्म वियतनाम में हुआ था। उसका असली नाम हतचंद भाओनानी गुरुमुख चार्ल्स शोभराज है। जवानी के दिनों में शोभराज थाइलैंड पहुंचा और अपराध की दुनिया में कदम रखा। इस दौरान वो मैरी एंड्री नाम की अपनी गर्लफ्रेंड के साथ आपराधिक वारदातों को अंजाम देता था। थाईलैंड में पकड़े जाने के डर से शोभराज ऑस्ट्रेलिया और इसके बाद भारत आ पहुंचा था, लेकिन यहां भी वो आपराधिक गतिविधियों में शामिल रहा। भारत घूमने आने वाली विदेशी महिला पर्यटकों को अपने प्रेमजाल में फांसता था और नशीली दवाएं देकर उनके साथ दुष्कर्म और हत्या कर देता था। 

कुछ समय बाद ही वो 'बिकिनी किलर' के नाम से जाना जाने लगा। दरअसल शोभराज की शिकार बनी कई महिलाओं की डेड बॉडी बिकिनी में मिली थी। 1970 में चार्ल्स पर 24 लोगों की हत्या का आरोप लगा जिसमें अधिकतर विदेशी पर्यटक महिलाएं थीं। इसके अलावा चार्ल्स लूटपाट, नशीली दवाएं बेचने, विदेशी पर्यटकों के कीमती सामानों की चोरी जैसे अपराध भी किया करता था। 


साथियों के साथ भाग निकला था तिहाड़ जेल से

चार्ल्स ने भारत में साल 1976 में घूमने आए एक फ्रेंच कपल का मर्डर किया था। इसके अवाला उसने एक इजरायली लड़की का भी मर्डर किया था।  इन दोनों मामलों में उसे सात साल की सजा मिली थी। इसके बाद उसे तिहाड़ जेल भेज दिया गया था। लेकिन, 1986 में शोभराज अपने साथियों के साथ तिहाड़ जेल से भाग निकला था। हालांकि, उसे दोबारा गिरफ्तार कर लिया गया था।  सजा पूरी होने के बाद शोभराज फ्रांस चला गया। फ्रांस में कुछ समय काटने के बाद वह नेपाल आ गया था। नेपाल में भी शोभराज आपराधिक गतिविधियों में शामिल रहा। दुष्कर्म, लूटपाट के आरोप में वह काठमांडू में पकड़ा गया और उसे आजीवन कैद की सजा सुनाई गई। तबसे शोभराज काठमांडू की जेल में है।

21 साल की लड़की का आया शोभराज पर दिल

नेपाली लड़की निहिता बिस्वास, शोभराज को अपना दिल दे बैठी थी। वह अक्सर उससे मिलने जेल जाती थी। इस दौरान दोनों के बीच प्यार हुआ और जेल में ही इन्होंने शादी कर ली थी। शादी के वक्त निहिता 21 साल की थी जबकि चार्ल्स 64 साल का था। शादी से पहले निहिता ने मीडिया में खुलकर यह कहा था कि वह शोभराज से प्यार करती है। चार्ल्स शोभराज पर 'मैं और चार्ल्स' नाम से बॉलीवुड फिल्म भी बन चुकी है, जिसमें एक्टर रणदीप हुड्डा लीड रोल में थे।
 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:jagran special Charles Shobhraj heart surgery will be on saturday(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

मंदसौर में फर्फ्यू में ढील,धरना और प्रदर्शन की इजाजत नहींमध्‍य प्रदेश: आंदोलन के नेता का पता नहीं, सोशल मीडिया के जरिए दी गई हवा
यह भी देखें