PreviousNext

कलकत्ता हाईकोर्ट का निर्देश, लापता शिशु को जल्द खोजे सीआइडी

Publish Date:Wed, 30 Nov 2016 07:59 PM (IST) | Updated Date:Wed, 30 Nov 2016 08:31 PM (IST)
कलकत्ता हाईकोर्ट का निर्देश, लापता शिशु को जल्द खोजे सीआइडी
अदालत से मिली जानकारी के अनुसार जयश्री चौधरी नामक एक महिला ने कलकत्ता हाई कोर्ट में एक मामला दायर किया था।

कोलकाता, (जागरण संवाददाता)। कलकत्ता हाई कोर्ट ने सीआइडी को सरकारी होम से लापता शिशु को जल्द से जल्द खोज निकालने का निर्देश दिया है। अदालत से मिली जानकारी के अनुसार जयश्री चौधरी नामक एक महिला ने कलकत्ता हाई कोर्ट में एक मामला दायर किया था। इसमें उसने आरोप लगाया था कि उसने तीन महीने के शिशु को मालदा स्थित एक सरकारी होम में रखा था।

कुछ दिनों बाद जानकारी मिली की उनका बच्चा होम से लापता हो गया है। इसके बाद उन्होंने हाई कोर्ट में मामला दायर किया था। बुधवार को जस्टिस असीम कुमार राय की पीठ में इस मामले की सुनवाई की गई। सुनवाई के दौरान न्यायाधीश ने कहा कि किसी भी सरकारी होम से बच्चा कैसे लापता हो सकता है? बच्चे की देखभाल की जिम्मेदारी होम प्रबंधन की है। फिर उन्होंने सीआइडी को जल्द से जल्द लापता शिशु को खोजने का निर्देश दिया।

शिशु तस्करी में दो और डॉक्टर गिरफ्तार

कोलकाता। शिशु तस्करी के मामले में सीआइडी को एक और कामयाबी मिली है। भाजपा नेता एवं पेशे से चिकित्सक दिलीप कुमार घोष समेत दो डॉक्टरों को गिरफ्तार किया गया है। उधर डॉ. घोष की गिरफ्तारी की भनक लगते ही हरकत में आए पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने फोन पर ही उन्हें तलब कर लिया। इसके बाद उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया।

बता दें कि 10 दिन पूर्व सीआइडी ने उत्तर 24 परगना जिले के बादुडि़या स्थित सोहन नर्सिग होम में शिशु तस्करी रैकेट का भंडाफोड़ किया था। जांच में करीब 50 शिशुओं को अन्य राज्यों में बेचे जाने का पर्दाफाश हुआ था। सीआइडी इस मामले में अभी तक चार डॉक्टरों समेत 20 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। आरोपियों से पूछताछ में कोलकाता के कुछ प्रसिद्ध नर्सिग होम से जुड़े नामी डॉक्टरों के नामों का पर्दाफाश हुआ था।

सीआइडी ने बिना समय गंवाए कोलकाता के कॉलेज स्ट्रीट स्थित श्रीकृष्ण नर्सिग होम से जुड़े साल्टलेक निवासी डॉ. दिलीप कुमार घोष को पूछताछ के लिए मंगलवार को भवानी भवन तलब कर लिया। मैराथन पूछताछ के बाद संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। डॉ. दिलीप कुमार घोष ने 2014 में हुए नगर निगम चुनाव में विधाननगर के वार्ड 31 से भाजपा के टिकट पर तृणमूल प्रत्याशी सव्यसाची दत्ता के खिलाफ पार्षद का चुनाव लड़ा था। लेकिन उन्हें पराजय का मुंह देखना पड़ा था। सीआइडी ने मछलंदपुर के एक दंपती की शिकायत पर बेहाला स्थित मोहनानंद शिशु सेवा सदन में बतौर विशेषज्ञ चिकित्सक काम कर रहे डॉ. नित्यानंद विश्वास को भी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया।

झाडि़यों में कंबल में लिपटे मिले तीन नवजात

शिशु तस्करी रैकेट के पर्दाफाश के बाद एक ओर जहां बच्चे बेचने व खरीदने वालों की सांसें फूली हुई हैं, वहीं दक्षिण 24 परगना जिले में झाडि़यों से तीन शिशुओं को बरामद किया गया। सूत्रों के अनुसार मंगलवार रात फलता थाना क्षेत्र के चांदमाला इलाके में स्थित एक नहर के पास झाडि़यों में ग्रामीणों ने कंबल में लिपटे तीन शिशुओं को पड़ा देखा। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शिशुओं को बरामद कर डायमंड हर्बर अस्पताल में दाखिल करवाया। इनमें से दो कन्या शिशु और एक पुत्र शिशु है। आशंका जताई जा रही है कि शिशु तस्करी का पर्दाफाश होने के बाद आरोपियों ने पुलिस से बचने के लिए शिशुओं को फेंक दिया होगा। पुलिस ने आसपास के नर्सिग होम में जांच शुरू कर दी है।

घर से रहस्यमय तरीके से तीन साल की बच्ची लापता

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:High Court directs CID for discover missing baby soon(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

नोटबंदी पर गुजरात हाईकोर्ट ने केंद्र और आरबीआइ से मांगा जवाबआरक्षण नहीं मिला तो करेंगे सियासी सर्जिकल स्ट्राइक : हार्दिक
यह भी देखें

संबंधित ख़बरें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »