PreviousNext

नगरोटा: आतंकी हमले में 30 घंटे छिप कर ग्रेफ कर्मी ने बचाई जान

Publish Date:Wed, 30 Nov 2016 02:37 PM (IST) | Updated Date:Wed, 30 Nov 2016 03:24 PM (IST)
नगरोटा: आतंकी हमले में 30 घंटे छिप कर ग्रेफ कर्मी ने बचाई जान
जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में हुए आतंकी हमले में एक ग्रेफ कर्मी ने तीस घंटे छिपकर अपनी जान बचाई।

श्रीनगर (जेएनएन)। जम्मू के नगरोटा मे मंगलवार को आंतकवादियों सेना में मुठभेड़ के चलते ग्रेफ (जनरल रिजर्व इंजीनियर फोर्स) कर्मी ने तीस घंटे छिपकर जान बचाई। बुधवार सुबह ग्रेफ के चौकीदार फकीर चंद ने अचानक आफिसर मैस के सामने वाली इमारत से निकल कर तलाशी अभियान चला रही सेना को हैरान कर दिया।

फकीर चंद के अपनी पहचान बताने के बाद सेना ने ग्रैफ से संपर्क किया। पुष्टि होने के बाद दोपहर बारह बजे के करीब फकीर का रेजीमेंट से बाहर निकाला गया।फकीर ने नगरोटा में पत्रकारों को बताया कि सुबह 5.20 बजे पहला घमाका हुआ तो उसे लगा कि हाईवे पर ट्रक का टायर फटा है।

पढ़ें- नगरोटा मामले में कांग्रेस का निशाना, उड़ी हमले से केंद्र ने नहीं लिया सबक

फकीर ने बताया कि चंद मिनटों में स्पष्ट हो गया कि आतंकवादी घुस आए हैं। मौत सामने दिखी लेकिन सेना के जवानों की हिम्मत देख जान में जान आई ।फकीर ने बताया कि वह रातभर इमारत में दुबका रहा व बुधवार सुबह जब उसे माहौल शांत दिखा तो वह बाहर आ गया। सेना फकीर चंद को अपने साथ ले गई है।

पढ़ें- सूझबूझ से आर्मी अफसरों की बहादुर पत्नियों ने टाला नगरोटा बंधक संकट

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:GREF guard Fakir Chand rescued by Army in Nagrota(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

पश्चिम बंगाल के सुकना में सेना का एक हेलीकॉप्टर क्रैश, 3 अधिकारियों की मौतनोटबंदी मुद्दे पर अरुण जेटली और शरद यादव के बीच राज्यसभा में छींटाकशी
यह भी देखें

संबंधित ख़बरें