PreviousNext

अशांत दार्जिलिंग के कारण सिक्‍किम में सामानों का परिवहन प्रभावित

Publish Date:Sat, 15 Jul 2017 01:08 PM (IST) | Updated Date:Sat, 15 Jul 2017 01:08 PM (IST)
अशांत दार्जिलिंग के कारण सिक्‍किम में सामानों का परिवहन प्रभावितअशांत दार्जिलिंग के कारण सिक्‍किम में सामानों का परिवहन प्रभावित
सिक्‍किम में आवश्‍यक सामग्रियों की बुरी तरह कमी हो गयी है क्‍योंकि दार्जिलिंग में तनाव और अशांति जारी है।

गंगटोक (प्रेट्र)। पड़ोसी दार्जिलिंग हिल्‍स में जारी अशांति के कारण सिक्‍किम के पूर्व जिला में आवश्‍यक सामग्रियों का परिवहन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। जिला के विभिन्‍न हिस्‍सों के बाजारों व दुकानों से आवश्‍यक सामग्रियों की कमी से संबंधित खबरें आ रही हैं।

खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के विभाग के सचिव की अध्यक्षता में जिला कलेक्टर के साथ बैठक हुई। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि पड़ोसी दार्जिलिंग जिले में अशांति के कारण जिले में जरूरी चीजों की कमी से संबंधित सार्वजनिक शिकायतों और शिकायतों को प्राप्त करने के लिए पर्यटन सूचना केंद्र के विपरीत, एमजी मार्ग पर एक कंट्रोल रूम स्थापित किया जाएगा।

जिला कलेक्‍टर प्रभाकर राव ने कहा, ‘जनता कंट्रोल रूम में फोन नंबर 03592-204995 पर सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।‘ उन्‍होंने यह भी सूचित किया कि सब डिविजनल मजिस्‍ट्रेट की अध्‍यक्षता में स्‍पेशल टास्‍क फोर्स का गठन किया जा रहा है ताकि ब्‍लैक मार्केटिंग जैसे अवैध गतिविधियों पर शिकंजा कसा जा सके। दार्जिलिंग हिल्‍स में अनिश्‍चितकालीन बंद का आज 30वां दिन है। सिक्‍किम ने आरोप लगाया कि सिलीगुड़ी व गंगटोक को जोड़ने वाले हाइवे 10 पर अनाज व अनिवार्य वस्‍तुओं, सब्‍जियों से लदी गाड़ियों पर हमला किया जा रहा है। सिक्‍किम ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की जिसमें आग्रह किया है कि पश्‍चिम बंगाल व इसके डीजीपी को राष्‍ट्रीय राजमार्ग 10 पर सुरक्षा इंतजाम का निर्देश दिया जाए।

यह भी पढ़ें: अशांति-अव्यवस्था से घिरा बंगाल, क्‍या होगा भविष्‍य

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Darjeeling unrest affects transportation of goods to Sikkim(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

11 साल की शानदार उड़ान और सबकी चहेती बन गई यह चिड़ियागृहमंत्री से मिलीं महबूबा, कहा- जंग में जीत के लिए चाहिए पूरे मुल्‍क का साथ
यह भी देखें