PreviousNext

कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में बोले राहुल- PM की TRP पॉलिटिक्स में रुचि

Publish Date:Fri, 02 Dec 2016 10:46 AM (IST) | Updated Date:Fri, 02 Dec 2016 07:53 PM (IST)
कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में बोले राहुल- PM की TRP पॉलिटिक्स में रुचि
राहुल गांधी ने लोकसभा और राज्यसभा के कांग्रेस सांसदों से मुलाकात की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला भी किया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी सिर्फ टीआरपी वाली राजनीति में

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी के फैसले पर सवाल उठाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अब तक का सबसे तीखा वार किया है। राहुल ने कहा है कि प्रधानमंत्री अपनी ही छवि के गुलाम बन गए हैं और उनकी टीआरपी की राजनीति का खामियाजा जनता को उठाना पड़ रहा है। नोटबंदी के साथ सरकार की पाकिस्तान नीति को नाकाम बताते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के बावजूद सीमा पर पाक की गोलीबारी से बड़ी संख्या में हमारे सैनिकों की शहादत चिंताजनक है।

सोनिया गांधी की गैर मौजूदगी में शुक्रवार को कांगेस संसदीय दल की बैठक के अपने पहले संबोधन में राहुल ने प्रधानमंत्री पर यह हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अक्सर सवाल उठाते हैं कि कांग्रेस ने 60 साल में देश को क्या दिया? इसके जवाब में वे यही कहेंगे कि कांग्रेस ने ऐसा कोई प्रधानमंत्री नहीं दिया जिसने अपनी छवि की खातिर देश की जनता को मुसीबत में डाल उसे अपने ही पैसों के लिए मोहताज कर दिया हो। उन्होंने कहा कि पीएम का नीति निर्माण ही टेलिविजन की लोकप्रियता रेटिंग के आधार पर हो रहा है। नोटबंदी के फैसले से लोगों को हो रही दिक्कतों के साथ अर्थव्यवस्था पर इसके प्रतिकूल असर का आकलन नहीं करने का भी राहुल ने सरकार पर आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ सरकार के किसी सही कदम का कांग्रेस पूरी तरह समर्थन करने को तैयार है। मगर इस नोटबंदी की आपाधापी में घोषणा करने से पहले पीएम ने इस बात की अनदेखी कि किसान, छोटे दुकानदार, मजदूर और गृहणियों को हर दिन की जिंदगी के लिए नगदी की जरूरत होती है। राहुल ने कहा कि सभी नगदी कालाधन नहीं हो सकते क्योंकि यह तथ्य है कि नगदी के रुप में केवल छह फीसद ही कालाधन है और बाकी सोने, रियल इस्टेट व डॉलर के रुप में बाहर जमा हैं।

इस हकीकत के बावजूद सरकार ने देश में प्रचलित 86 फीसदी नगदी पर नोटबंदी लागू कर सवा अरब लोगों का भविष्य दांव पर लगा दिया है। उन्होंने दावा किया कि नोटबंदी के कारण रोजगार की क्षति, नए नोटों की प्रिंटिग और इसके प्रबंधन पर अब तक देश को 1.28 लाख करोड रुपए के बराबर नुकसान हो चुका है। उनका यह भी कहना था कि नोटबंदी से जहां गरीबों की मुश्किल बढ़ी है वहीं सरकार ने आयकर कानून में संशोधन कर अमीरों को पचास फीसदी देकर कालाधन सफेद करने की खुली छूट दे दी है।सीमा पार से पाकिस्तान की गोलीबारी में सैनिकों की बड़ी संख्या में शहादत पर राहुल ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाक 21 बड़े हमले सीमा पर कर चुका है।

पाकिस्तान पर हमारी सरकार की ढूलमूल नीति की कीमत हमारे सैनिकों को शहादत देकर चुकानी पड़ रही है। राहुल ने कहा कि नरेंद्र मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तो कांग्रेस की पाकिस्तान नीति का मजाक उड़ाते थे। मगर यह भी हकीकत है कि तब श्रीनगर में हालात सामान्य थे और वहां की सड़कें पर्यटकों से गुलजार थी। उन्होंने कहा कि आज घाटी जल रही है और इसके लिए पीडीपी-भाजपा का अवसरवादी गठबंधन जिम्मेदार है जिसने भारत विरोधी तत्वों को खड़ा होने का मौका दिया। संसदीय दल की बैठक में चिदंबरम ने नोटबंदी के प्रतिकूल प्रभावों को लेकर सांसदों को जानकारी दी और संसद में इसको लेकर कांग्रेस की लड़ाई को जायज ठहराया।

पढ़ें- नोटबंदी पर संसद में आज भी हंगामे के आसार, पीएम मोदी से जवाब की मांग

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Congress never gave India a PM who based his entire policy on TRPs, says Rahul Gandhi(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

ब्रेक्जिट से नाराज लंदन ने सरकार को दिया झटकानोटबंदी: सरकार की बड़ी कार्रवाई, 27 बैंक अधिकारी निलंबित; 6 का तबादला
यह भी देखें

संबंधित ख़बरें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »