PreviousNext

सीओएआइ ने जीएसटी दर पर वित्त मंत्रालय को पत्र लिखा

Publish Date:Tue, 06 Jun 2017 07:51 AM (IST) | Updated Date:Tue, 06 Jun 2017 07:51 AM (IST)
सीओएआइ ने जीएसटी दर पर वित्त मंत्रालय को पत्र लिखासीओएआइ ने जीएसटी दर पर वित्त मंत्रालय को पत्र लिखा
यह पत्र जीएसटी काउंसिल की 11 जून को होने वाली उस बैठक से पहले लिखा गया है जिसमें केंद्र व राज्यों के प्रतिनिधि विभिन्न उद्योगों की जीएसटी दर घटाने संबंधी मांगों पर विचार करेंगे।

नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो मोबाइल सेवा प्रदान करने वाली कंपनियों ने सरकार से दूरसंचार सेवाओं पर जीएसटी की दर को 18 फीसद से कम करने का अनुरोध किया है। मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों के संगठन सीओएआइ ने राजस्व सचिव हंसमुख अडि़या को इस संबंध में पत्र लिखा है।

पत्र में सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन आफ इंडिया (सीओएआइ) के महानिदेशक राजन मैथ्यू ने लिखा है कि उद्योग की नाजुक वित्तीय हालत को देखते हुए वस्तु एवं सेवा कर की दर को घटाना बेहद जरूरी है। 'हमारा अनुरोध है कि दूरसंचार उद्योग पर मौजूदा बोझ को कम करने के लिए इस पर निर्धारित की गई जीएसटी की दर को घटाया जाए।'

यह पत्र जीएसटी काउंसिल की 11 जून को होने वाली उस बैठक से पहले लिखा गया है जिसमें केंद्र व राज्यों के प्रतिनिधि विभिन्न उद्योगों की जीएसटी दर घटाने संबंधी मांगों पर विचार करेंगे। वित्त मंत्रालय पहले ही इस बात के संकेत दे चुका है कि जीएसटी दर की समीक्षा उन्हीं मामलों में की जाएगी जहां यह मौजूदा दर से बहुत ज्यादा होगी।

राजन मैथ्यू के पत्र में कहा गया है कि वित्त मंत्रालय ने मौजूदा शुल्कों व करों के क्रेडिट से प्राप्त होने वाले लाभों का सही आकलन नहीं किया है। यह सोच कि कर के ऊपर कर का प्रभाव कम होने से जीएसटी दर में तीन फीसद की वृद्धि की भरपाई हो जाएगा, सही नहीं है। चूंकि जीएसटी के तहत कर दर में तीन फीसद की बढ़ोतरी संपूर्ण राजस्व पर होगी, जबकि इनपुट टैक्स का लाभ केवल पूंजीगत उपस्करों की खरीद आदि पर ही मिलेगा, जो कि राजस्व का एक छोटा भाग भर है। वैसे भी दूरसंचार उद्योग में इस्तेमाल होने वाले डी़जल तथा बिजली को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है। इनके लिए किसी तरह का क्रेडिट नहीं मिलेगा। इस तरह जीएसटी के बाद भी दूरसंचार उद्योग टैक्स पर टैक्स के बोझ से दबा रहेगा।

भारती एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया तथा रिलायंस जियो समेत प्रमुख दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियां सीओएआइ की सदस्य हैं।

इसे भी पढ़ें: वित्त मंत्री ने बताया इन तीन चीजों के बल पर बढ़ेगी भारत की इकोनॉमी, जानिए

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:COAI writes to Finance Minister seeks cut in GST rates for Telecom(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

एनडीटीवी के मालिकों पर सीबीआइ का छापाअप्रैल, 2018 में शुरू हो जाएगी नोएडा मेट्रो
यह भी देखें