PreviousNext

चीन की खुलेआम धमकी, कहा- नेपाल और श्रीलंका से संबंधों पर भारत चुप रहे तो अच्‍छा

Publish Date:Tue, 21 Mar 2017 12:34 PM (IST) | Updated Date:Tue, 21 Mar 2017 02:48 PM (IST)
चीन की खुलेआम धमकी, कहा- नेपाल और श्रीलंका से संबंधों पर भारत चुप रहे तो अच्‍छाचीन की खुलेआम धमकी, कहा- नेपाल और श्रीलंका से संबंधों पर भारत चुप रहे तो अच्‍छा
चीन ने भारत को खुलेआम चुप रहने की धमकी दी है। चीन की मीडिया का कहना है कि भारत काे चीन के साथ बनते नेपाल और श्रीलंका के रिश्‍तों पर खामोशी बरतनी चाहिए।

नई दिल्‍ली (जेएनएन)। चीन ने खुलतौर पर भारत को धमकी देते हुए कहा है कि यदि उसने दक्षिण एशिया में पांव पसारने की कोशिश की ताे वह चुप नहीं बैठेगा और इसका पुरजोर विरोध करेगा। इसके अलावा उसने भारत को नेपाल और श्रीलंका से बन रहे राजनयिक संबंधों पर चुप रहने को कहा है। चीन की सरकारी मीडिया ग्‍लोबल टाइम्‍स के एक लेख में कहा गया है कि उसे उम्‍मीद है कि भारत उनकी बातों को समझेगा और दक्षिण एशिया के विकास में भागीदार बनेगा। अपनी इस धमकी में चीन ने कहा है कि अब इसका फैसला भारत के हाथों में है कि वह क्‍या निर्णय लेता है।

एक अंग्रेजी अखबार की खबर को कोट करते हुए अखबार ने लिखा है कि नेपाल चीन से न कहने का जोखिम नहीं उठा सकता है। इसमें कहा गया है कि भारत इसलिए भी अभी चुप है क्‍योंकि चीन के रक्षा मंत्री इन दिनों नेपाल और श्रीलंका की यात्रा पर हैं। इस दौरान नेपाल और चीन के बीच ज्‍वाइंट मिलिट्री एक्‍सरसाइज पर भी फैसला होगा। चीन का कहना है भारत को बीआरआई प्रोजेक्‍ट में भागीदार बनना चाहिए। इस लेख में कहा गया है कि भारत भूटान को काबू में रख सकता है क्‍योंकि उसके साथ चीन के कोई राजनयिक संबंध नहीं हैं। इसमें यह भी कहा गया है भारत दक्षिण एशिया और हिंद महासागर को अपनी बपौती समझने लगा है। इन सभी के बावजूद वह दक्षिण एशिया पर पड़ने वाले चीन के प्रभाव को रोक नहीं सकता है।

इसमें कहा गया है कि भारत का इस क्षेत्र में ज्‍यादा सावधानी बरतना चीन के श्रीलंका और नेपाल से बनते रिश्‍तों को प्रभावित कर सकता है। इसमें खुलेतौर पर भारत को धमकी देते हुए लेख में कहा गया है कि यदि भारत क्षेत्र में बैलेंस बनाए रखना चाहता है तो उसको चीन की नीतियों का समर्थन करते हुए आगे बढ़ना होगा। यह लेख लिखने वाले ऐ जुन ने लिखा है कि दोनों देशों के बीच होने वाली किसी भी बातचीत या राष्‍ट्राध्‍यक्षों के दौरों को वहां की मीडिया द्वारा ज्‍यादा तवज्‍जो दिए जाने की खास जरूरत नहीं है। उनका कहना है कि नेपाल और श्रीलंका चीन के प्रोजेक्‍ट की तरफ काफी उम्‍मीद भरी नजरों से देख रहे हैं। इतना ही नहीं यदि चीन की कंपनियां इन देशों मे अपने प्‍लांट लगाती हैं तो यह उनके लिए काफी अच्‍छा होगा। 

गिलगिट-बाल्टिस्तान को पांचवां प्रांत बनाने पर PoK में लगे पाक विरोधी नारे

खुशहाली के मामले में भारत से कहीं आगे है पाकिस्तान, डेनमार्क है नंबर वन

यूपी जीत को चीनी मीडिया ने बताया पीएम की बड़ी सफलता, कहा पार्टी में बढ़ेगा कद - See more at: http://www.jagran.com/news/national-consolidation-of-modi-hold-on-bjp-may-lead-to-absence-of-dissent-says-chinese-media-15709295.html#sthash.PtAPik59.dpuf
यूपी जीत को चीनी मीडिया ने बताया पीएम की बड़ी सफलता, कहा पार्टी में बढ़ेगा कद - See more at: http://www.jagran.com/news/national-consolidation-of-modi-hold-on-bjp-may-lead-to-absence-of-dissent-says-chinese-media-15709295.html#sthash.PtAPik59.dpuf
यूपी जीत को चीनी मीडिया ने बताया पीएम की बड़ी सफलता, कहा पार्टी में बढ़ेगा कद - See more at: http://www.jagran.com/news/national-consolidation-of-modi-hold-on-bjp-may-lead-to-absence-of-dissent-says-chinese-media-15709295.html#sthash.PtAPik59.dpuf
यूपी जीत को चीनी मीडिया ने बताया पीएम की बड़ी सफलता, कहा पार्टी में बढ़ेगा कद - See more at: http://www.jagran.com/news/national-consolidation-of-modi-hold-on-bjp-may-lead-to-absence-of-dissent-says-chinese-media-15709295.html#sthash.PtAPik59.dpuf

यूपी जीत को चीनी मीडिया ने बताया पीएम की बड़ी सफलता, कहा पार्टी में बढ़ेगा कद

यूपी की कमान योगी के हाथों में सौंपने से पाक मीडिया में मची हलचल

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:China will fight back India attempts to sour our South Asia ties says State media(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

मायावती की BJP को चुनौती, बोलीं- जनादेश पर है भरोसा तो फिर से करायें चुनावकोटा में स्‍वाइल फ्लू से गर्भवती महिला की मौत, जिले में इस वायरस से दूसरी मौत
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »