PreviousNext

आधार कार्ड में हुई बड़ी गड़बड़, घर बैठे खुद ही ऐसे करें सुधार

Publish Date:Sat, 20 May 2017 02:53 PM (IST) | Updated Date:Sat, 20 May 2017 03:14 PM (IST)
आधार कार्ड में हुई बड़ी गड़बड़, घर बैठे खुद ही ऐसे करें सुधारआधार कार्ड में हुई बड़ी गड़बड़, घर बैठे खुद ही ऐसे करें सुधार
देशभर से मिल रही शिकायतों के बाद आप भी एक बार अपने आधार कार्ड को अच्छे से देख लें। क्योंकि ऐसी कोई भी गड़बड़ सरकारी योजनाओं में मिलने वाले लाभ से आपको वंचित कर सकती है।

नई दिल्ली, [स्पेशल डेस्क]। इलाहाबाद की पहचान दुनियाभर में संगम नगरी के तौर पर होती है। लेकिन इन दिनों इलाहाबाद का एक गांव किसी दूसरी वजह से चर्चा में है। घूरपुर में जसरा ब्लॉक का कंजासा गांव इस अनोखी वजह का गवाह बना है। आपको सुनने में शायद अजीब सा लगे, लेकिन यहां का हर शख्स एक ही दिन पैदा हुआ है। ऐसा भी नहीं कि गांव में कम लोग रहते हों। गांव की जनसंख्या 10 हजार से ज्यादा है और यहां का हर रहवासी 1 जनवरी को पैदा हुआ है।

कुदरती नहीं इंसान की गलती

इससे पहले कि आप इस बारे में कुछ मत बनाएं, बता दें कि इसके पीछे कोई दैवीय शक्ति नहीं बल्कि इंसानी गलती है। सरकार ने तमाम योजनाओं के लिए आधार कार्ड को जरूरी बना दिया है। ऐसे में हर किसी के लिए आधार कार्ड बनाना जरूरी है। इस गांव के लोगों ने भी आधार कार्ड के लिए पंजीकरण कराया। पंजीकरण कराने के बाद पहले तो काफी समय तक उन्हें आधार कार्ड मिले ही नहीं, और जब मिले तो सभी की जन्मतिथि एक ही थी। यानी आधार कार्ड की अंकित जन्मतिथि के अनुसार गांव के सभी लोग 1 जनवरी को ही पैदा हुए थे।


स्कूल से खुली इस गड़बड़ी की पोल

इस मामले की पोल गांव के ही सरकारी प्राथमिक विद्यालय से खुली। राज्य सरकार सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों के बारे सही जानकारी के लिए आधार कार्ड नंबर का रजिस्ट्रेशन करवा रही है। इसी के तहत स्कूल टीचर जब गांव में हर छात्र के आधार नंबर की एंट्री के लिए पहुंचीं तो पता चला कि यहां तो सभी एक ही दिन पैदा हुए हैं। गांव की सरपंच राम दुलारी कहती हैं, 'हमने आधार कार्ड में गड़बड़ी को सुधारने के लिए पहल कर दी है। आधार कार्ड में सभी की जन्म तारीख सुधर जाएगी और ग्रामीणों को जल्द ही नए आधार कार्ड जारी हो जाएंगे।' अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व डीएस पाण्डेय का कहना है कि मामला उनके संज्ञान में है और जल्द ही यहां पर एजेंसी को तलब करके नए कार्ड जारी करा देंगे।

सद्दाम बनवा रहा था ओसामा का आधार

आधार कार्ड में गड़बड़ी की खबर कोई नई बात नहीं है। देशभर से कभी नाम तो कभी पिता का नाम, पता और यहां तक कि लिंग की गड़बड़ी की खबरें तक आती रही हैं। यही नहीं विदेशियों के आधार कार्ड बनने के मामले भी सामने आए हैं। हाल ही में राजस्थान के भीलवाड़ा में सद्दाम हुसैन मंसूरी नाम के एक शख्स द्वारा ओसामा बिन लादेन का आधार कार्ड बनवाने के लिए एनरोलमेंट कराने का मामला सामने आया था। बता दें कि वैश्विक आतंकी ओसामा को अमेरिकी सील कमांडो ने पाकिस्तान के एबटाबाद में मार गिराया था।

क्या आपके आधार कार्ड में भी है गड़बड़

देशभर से मिल रही शिकायतों के बाद आप भी एक बार अपने आधार कार्ड को अच्छे से देख लें। क्योंकि ऐसी कोई भी गड़बड़ सरकारी योजनाओं में मिलने वाले लाभ से आपको वंचित कर सकती है। यही नहीं बैंक, इंश्योरेंस आदि के मामले में भी यह गड़बड़ी बड़ा पेंच फंसा सकती है।

आधार कार्ड में हुई गलती को ऐसे सुधारें

आधार कार्ड में हुई किसी भी तरह की गलती को आप खुद ही इंटरनेट के जरिए सुधार सकते हैं। यूआईडीएआई की वेबसाइट पर जाने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें...

https://uidai.gov.in/enrolment-update/aadhaar-enrolment/aadhaar-data-update.html

वेबसाइट पर पहुंचकर दायीं ओर रेफ्रेंस लिंक्स में अपडेट आधार डिटेल (ऑनलाइन) पर क्लिक करें। ऐसा करने पर एक नई विंडो खुलेगी। इस विडों में आधार अपडेट करने के संबंध में जरूरी जानकारी दी गई है। इसके बाद पेज में नीचे जाने पर आपको To submit your update/ correction request please CLICK HERE दिखेगा। इस लिंक पर क्लिक करें। ऐसा करने पर आपको नीचे दिखाए गए बॉक्स में अपना आधार नंबर दर्ज करना होगा। टैक्स्ट वैरीफिकेशन कोड दर्ज करने के बाद सेंट ओटीपी पर क्लिक करते ही आपके रजिस्टर मोबाइल नंबर पर ओटीपी आ जाएगा।

अब आपको खाली बाक्स में ओटीपी दर्ज करना है। इसके बाद लॉगइन बटन पर क्लिक करते ही आपसे पूछा जाएगा कि आप अपने आधार में क्या अपडेट करना चाहते हैं। यहां पर आप अपने आधार में हुई किसी भी तरह की गड़बड़ी को सुधार सकते हैं। फिर चाहे आपके घर का पता बदल गया हो या नाम की स्पेलिंग लगत हो। लिंग गलत लिखा गया हो या डेट ऑफ बर्थ में किसी तरह की गड़बड़ी हो।

अब आप जो जानकारी अपडेट करना चाहते हैं उसे भर दें। जानकारी भरकर समिट करें। ताजा जानकारी को साबित करने वाले डॉक्यूमेंट की स्कैन कॉपी अपलोड करें और समिट कर दें। बस आपके आधार में हुई गड़बड़ी सुधर गई। एक हफ्ते बाद अपने आधार की ताजा कॉपी निकलवाएंगे तो आपके द्वारा भरी गई सही जानकारी आपके आधार कार्ड पर छपी हुई आएगी।

यह भी पढ़ें: सिंधु घाटी की तरह खत्‍म न हो जाएं हम, अब भी वक्‍त है संभल जाएं

यह भी पढ़ें: खराब किडनी की तरह सिर भी बदला जाएगा, इसी साल होगा पहला ऑपरेशन

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Aadhaar Mistake every one of this village has same date of birth(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

मोहन भागवत ने किया मंथनकश्मीर हिंसा पर सरकार पर दबाव बनाने के लिए कांग्रेस ने कसी कमर
यह भी देखें