Dainik Jagran Hindi News

www.jagran.com
April 24,2014
1 | 2 | 3 | 4 | 5 | 6 | 7 | 8 | 9 | 10 | Next »

रुद्रप्रयाग

पैदल मार्ग पर ग्लेशियरों के टूटने का खतरा

बृजेश भट्ट, रुदप्रयाग रामबाड़ा से केदारनाथ तक बनाया जा रहा नया पैदल मार्ग ग्लेशियर प्रभावित क्षेत्र है, जिससे यात्रा के दौरान खतरा पैदा हो सकता है। इस स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन को सतर्कता बरतने की जरूरत है। गत वर्ष आपदा में रामबाड़ा से केदारनाथ तक पैदल मार्ग बह गया था। प्रशासन ने रामबाड़ा से दूसरी पहाड़ी पर लिनचोली होते हुए केदारनाथ तक नया पैदल मार्ग बनवाया। इस बार भी इसी रास्ते को दुरुस्त कि... और पढ़ें »

Updated on: Wed, 23 Apr 2014 07:02 PM (IST)
        

फार्मेसिस्ट के भरोसे केदारघाटी के वाशिंदे

संवाद सूत्र, फाटा: फाटा स्थित अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में डाक्टरों एवं पर्याप्त स्टाफ की तैनाती न होने के कारण लोगों का इसका समुचित लाभ नहीं मिल पा रहा है। दूरस्थ क्षेत्र की जनता को उपचार कराने के लिए कई किमी का सफर तय करना पड़ता है। केदारनाथ घाटी के मुख्य कस्बे फाटा में अतिरिक्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में विगत लंबे समय से डाक्टरों एवं अन्य कर्मचारियों का टोटा बना हुआ है। चिकित्स... और पढ़ें »

Updated on: Wed, 23 Apr 2014 07:02 PM (IST)
        

केदारनाथ यात्रा मार्गो पर एसडीआरएफ की टीम

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: आगामी यात्रा सीजन में विभिन्न पड़ावों पर पुलिस बल के साथ ही स्टेट डिजास्टर रिलीफ फोर्स (एसडीआरएफ) की टीम भी नजर आएगी। देश-विदेश से केदारनाथ पहुंचने वाले तीर्थयात्रियों की सुरक्षा व उन्हें कोई दिक्कत न हो, इसका टीम ध्यान रखेगी। 90 सदस्यीय यह टीम अपने-अपने पड़ावों पर तैनात हो गई है। विगत जून माह में आई प्राकृतिक आपदा के दौरान जिले में भारी क्षति पहुंची थी, तथा आपदा में फ... और पढ़ें »

Updated on: Wed, 23 Apr 2014 07:02 PM (IST)
        

चार किमी बर्फीली होगी यात्रियों की डगर

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: केदारनाथ के दर्शन करने वाले भक्तों को इस बार लिनचोली से लेकर केदारनाथ तक बर्फीले व ग्लेशियर वाले रास्ते से गुजरना होगा। चार किमी का यह सफर रोमांच के साथ खतरनाक भी होगा। वहीं, केदारनाथ में हुई जबदस्त बर्फबारी के चलते वहां समय से व्यवस्थाएं जुटाना मुश्किल हो रहा है। हालांकि मंदिर समिति व स्पेशल टॉस्कफोर्स की टीमें केदारनाथ पहुंच चुकी है, लेकिन कड़ाके की ठंड व लगातार मौसम ख... और पढ़ें »

Updated on: Tue, 22 Apr 2014 06:43 PM (IST)
        

धारा-पंदेरों में भी किया मतदाताओं को जागरूक

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: लोकसभा चुनावों में शत-प्रतिशत मतदान सुनिश्चित करने को लेकर जिला निर्वाचन विभाग मतदाता जागरुकता अभियान चला रहा है। अधिकारी-कर्मचारी गांव-गांव जाकर वोट के लिए जागरूक करने के अभियान में 'धारा-पंदेरों' में भी मतदाताओं से वोट देने की अपील कर रहे हैं। मतदाताओं को मतदान के लिए जागरूक करने के लिए जिला निर्वाचन कार्यालय के जागरुकता अभियान का विधिवत शुभारंभ हो गया है। अधिकारी-क... और पढ़ें »

Updated on: Tue, 22 Apr 2014 06:29 PM (IST)
        

नहीं मिला 387 डोली मालिकों को मुआवजा

गुप्तकाशी : आपदा में केदारनाथ यात्रा के दौरान बही मां गौरी डोली कामगार समिति के 387 डोली मालिकों को अब तक मुआवजे का भुगतान नहीं किया गया है। इससे उनके सामने रोजगार का संकट पैदा हो गया है। इस संबंध में कामगार समिति ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया है। समिति ने मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में कहा कि केदारनाथ यात्रा में लगे 387 डोली मालिकों की 3870 डोलियां विगत जून माह में आई आपदा की भेंट चढ़ ग... और पढ़ें »

Updated on: Tue, 22 Apr 2014 05:43 PM (IST)
        

केदारनाथ को पैदल मार्ग का विकल्प जरूरी

बृजेश भट्ट, रुद्रप्रयाग आपदा के बाद जल्दबाजी में बनाया नया पैदल मार्ग प्रशासन के लिए मुसीबत बन गया है। लिनचोली से आगे कई फीट बर्फ व ऊंची पहाड़ी से टूटकर आए ग्लेशियर हटाने में स्पेशल टॉस्क फोर्स के पसीने छूट रहे हैं। लिनचोली क्षेत्र में मई तक कई फीट बर्फ रहती है। ऐसे में प्रत्येक वर्ष बर्फ हटाने के लिए प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी होगी, जबकि पुराने रास्ते में ऐसी स्थितियां नहीं थी। ऐसे में केदारनाथ ... और पढ़ें »

Updated on: Mon, 21 Apr 2014 07:23 PM (IST)
        

शराब की दुकान का फेगू में भी विरोध

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: जिले में बडे़थ के लिए स्वीकृत हुई अंग्रेजी शराब की दुकान के फेगू में संचालित होने पर यहां ग्रामीणों ने विरोध शुरू कर दिया है। इस संबंध में डीएम से मिले शिष्टमंडल ने दुकान को तीन दिन के भीतर अन्यत्र स्थानान्तरित करने की मांग की। गत माह में जिले में नौ शराब की दुकानों के लिए लाटरी निकाली गई थी। इसमें से आठ दुकानों का संचालन का कार्य तो ठीक चल रहा है, लेकिन बडे़थ के लिए स्... और पढ़ें »

Updated on: Mon, 21 Apr 2014 07:19 PM (IST)
        

माई की मंडी में लगी ट्रॉली का रस्सा टूटा

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: जिला मुख्यालय में माई की मंडी के लिए मंदाकिनी पर लगी ट्रॉली का रस्सा टूटने से लोगों को आवाजाही में दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। इस संबंध में ट्रेनरों ने लोक निर्माण विभाग (लोनिवि) के अधिकारियों को अवगत भी कराया, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। दो दिन पूर्व माई की मंडी स्थित ट्रॉली का रस्सा टूट गया था। इस रस्से को खींचकर ही ग्रामीण ट्रॉली से दूसरे छोर में पहुंचत... और पढ़ें »

Updated on: Mon, 21 Apr 2014 06:13 PM (IST)
        

बोर्ड परीक्षाओं के मूल्यांकन को लेकर तैयारियां पूरी

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: राइंका अगस्त्यमुनी में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षाओं का मूल्यांकन कार्य मंगलवार से शुरू हो जाएगा। बोर्ड ने मूल्यांकन के लिए 275 परीक्षक एवं 50 अंकेक्षक की तैनाती की है। मूल्यांकन के लिए विद्यालय प्रशासन ने भी तैयारियां पूरी कर ली हैं। जिले में राइंका अगस्त्यमुनी को बोर्ड परीक्षाओं का मूल्यांकन केंद्र बनाया गया है। इसमें मंगलवार से हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की ब... और पढ़ें »

Updated on: Mon, 21 Apr 2014 06:01 PM (IST)
        

केदारनाथ मंदिर परिसर से बर्फ हटाने का काम शुरू

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: बदरी केदार मंदिर समिति की टीम ने केदारनाथ मंदिर परिसर से बर्फ हटाने का कार्य शुरू कर दिया है। वहीं, टास्क फोर्स ने लिनचोली से आगे केदारनाथ मंदिर तक पैदल मार्ग पर बर्फ हटाने का काम भी शुरू कर दिया है। गत दिवस 10 सदस्यीय मंदिर समिति की टीम केदारनाथ धाम पहुंच गई थी। रविवार को मौसम ठीक होने पर समिति की टीम ने मंदिर परिसर से बर्फ हटाने का कार्य शुरू कर दिया है। मंदिर समिति ... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 20 Apr 2014 07:05 PM (IST)
        

केदारनाथ यात्रा सिर पर, तैयारी अधूरी

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: चार मई को केदारनाथ धाम के कपाट खुलने हैं, लेकिन व्यवस्थाएं अभी तक दुरुस्त नहीं हुई हैं। आपदा के बाद केदारनाथ पैदल मार्ग खस्ताहाल है और यहां अभी तक विद्युत व्यवस्था भी सुचारु नहीं हो सकी है। लिनचोली से आगे मार्ग बनने के बाद ही विद्युत व्यवस्था सुचारु हो सकेगी। क्योंकि, रास्ता बदहाल होने के कारण यहां विद्युत सामग्री पहुंचाने में दिक्कतें आ रही हैं। हालांकि, ऊर्जा निगम कुछ... और पढ़ें »

Updated on: Sat, 19 Apr 2014 06:45 PM (IST)
        

यात्री बढ़े तो गड़बड़ाएगी व्यवस्था

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: आपदा के बाद केदारनाथ धाम में तबाह हुई बुनियादी व्यवस्थाएं पटरी पर लाना प्रशासन के लिए कड़ी चुनौती है। पूर्व में प्रशासन केदारनाथ मंदिर व यात्रा पड़ाव पर दो से पांच सौ यात्रियों के रहने की व्यवस्था में जुटा था, लेकिन मुख्यमंत्री ने एक हजार यात्रियों के लिए धाम में व्यवस्था जुटाने की घोषणा कर दी। इससे अधिकारी परेशान हैं। फिलवक्त जो हालात हैं उससे नहीं लगता कि इतनी बड़ी संख्या... और पढ़ें »

Updated on: Fri, 18 Apr 2014 06:56 PM (IST)
        

बर्फबारी से रुका केदारनाथ पैदल मार्ग का निर्माण कार्य

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: शुक्रवार को केदारनाथ धाम में भारी बर्फबारी के कारण पैदल मार्ग निर्माण में जुटे मजदूर पूरे दिन टेंट में ही रहे। हालांकि टास्क फोर्स की टीम पहली बार केदारनाथ मंदिर पहुंचने में सफल रही, लेकिन लगातार भारी बर्फबारी के चलते वापस लिनचोली लौट आई। गत गुरुवार से केदारनाथ धाम में जबरदस्त बर्फबारी का दौर जारी है। बर्फबारी होने से लिनचोली व केदारनाथ के बीच पैदल मार्ग से बर्फ हटाने ... और पढ़ें »

Updated on: Fri, 18 Apr 2014 05:54 PM (IST)
        

केदारनाथ रवाना हुई मंदिर समिति की टीम

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति की 70 सदस्यीय टीम शुक्रवार को केदारनाथ धाम के लिए रवाना हो गई है। यह दल केदारनाथ मंदिर व उसके आसपास से बर्फ हटाने के साथ ही धाम में अन्य व्यवस्थाएं जुटाएगी। आगामी चार मई को भगवान केदारनाथ के कपाट खुलने हैं, ऐसे में धाम की सफाई व अन्य व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के लिए मंदिर समिति ने भी कमर कसनी शुरू कर दी है। इसी के तहत शुक्रवार को मंदिर समि... और पढ़ें »

Updated on: Fri, 18 Apr 2014 05:28 PM (IST)
        

शराब की दुकान खोलने का विरोध

गुप्तकाशी : नागजगई में संचालित हो रही अंग्रेजी शराब की दुकान का स्थानीय लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया है। ग्रामीणों ने कहा कि यदि यहां से ठेका नहीं हटाया जाता है तो ग्रामीण आमरण अनशन के लिए बाध्य होंगे। क्षेत्रीय ग्रामीणों ने बताया कि गत वर्ष जून माह में आई त्रासदी के कारण नागजगई, ल्वारा व लंबगौंडी गांव आपदा से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं, लेकिन सरकार ने वहां ठेका खोलकर ग्रामीणों के साथ मजाक... और पढ़ें »

Updated on: Thu, 17 Apr 2014 06:42 PM (IST)
        

कार्य में मौसम बन रहा खलनायक

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: यात्रा व्यवस्थाओं में जुटे सरकारी तंत्र के सामने मौसम खलनायक बन कर आ रहा है। गौरीकुंड हाइवे व पैदल मार्ग पर हजारों मजदूर काम में जुटे हैं, बारिश व बर्फबारी होने से निर्माण कार्य बंद पड़ जाता है। यदि मौसम का यही रुख रहा तो समय से यात्रा व्यवस्थाएं पूरी होने में भी संशय पैदा हो गया है। विगत जून माह में आई प्राकृतिक आपदा ने चारधाम का नक्शा ही बदल कर रख दिया था। सबसे ज्याद... और पढ़ें »

Updated on: Thu, 17 Apr 2014 06:27 PM (IST)
        

केदारनाथ यात्रा की तैयारियों में जुटा प्रशासन

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: गत जून की आपदा से सबक लेकर प्रशासन केदारनाथ यात्रा की तैयारियों में जुटा है। आपदा की स्थिति में कम जनहानि हो इसको भी ध्यान में रखा जा रहा है। कई स्थानों को चिह्नित कर पड़ावों को सुरक्षित बनाया जा रहा है ताकि आपदा की स्थिति में यहां अधिक यात्रियों को सुरक्षित रखा जा सके। इन स्थानों पर ट्रेंड सुरक्षा कर्मी तैनात किए जा रहे हैं। साथ ही वायरलैस सिस्टम लगाया जा रहा है ताकि आप... और पढ़ें »

Updated on: Thu, 17 Apr 2014 05:55 PM (IST)
        

केदारनाथ पैदल मार्ग बनने में लगेंगे कुछ और दिन

संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग: केदारनाथ धाम तक पैदल मार्ग से बर्फ हटाना टास्कफोर्स के लिए मुश्किल साबित हो रहा है। पैदल मार्ग खुलने के इंतजार में ऊर्जा निगम, जल संस्थान व अन्य विभागों के उच्च अधिकारी लिनचोली में ही डेरा जमाए हैं। सैकड़ों मजदूर मार्ग बनाने में जुटे हुए हैं। दरअसल, टीम ने पैदल मार्ग पर बेस कैंप से आगे बर्फ तो हटाई है, लेकिन आवाजाही करना संभव नहीं है, जबकि केदारनाथ धाम तक बर्फ हटाया ज... और पढ़ें »

Updated on: Thu, 17 Apr 2014 05:43 PM (IST)
        

बीएसएनएल के दोअफसरों पर मुकदमा

रुद्रप्रयाग: लोकसभा चुनावों में लापरवाही बरतने के आरोप में बीएसएनएल के अधिकारियों के खिलाफ कोतवाली रुद्रप्रयाग में एफआइआर दर्ज की गई है। जिला मुख्यालय में लोक सभा चुनावों को सुव्यवस्थित ढ़ंग से संपादन करने के लिए बीएसएनएल ने कंट्रोल रूम में टोल फ्री नम्बर 1950 स्थापित तो किया था, लेकिन यह नम्बर अभी तक स्थायी रूप से सेवा में नहीं आया है। इससे लोक सभा निर्वाचन से संबंधी शिकायत एवं लोक सूचनाओं के आ... और पढ़ें »

Updated on: Mon, 14 Apr 2014 06:44 PM (IST)
        
(News from Rudraprayag, Uttarakhand)
1 | 2 | 3 | 4 | 5 | 6 | 7 | 8 | 9 | 10 | Next »