1 | 2 | 3 | 4 | 5 | 6 | 7 | 8 | 9 | 10 | Next »

गोरखपुर

धरती हिली साथ में लोग भी

जागरण संवाददाता,गोरखपुर : शनिवार दिन करीब 11 बजकर 40 मिनट। जगह, उम्र और संवेदना के लिहाज से लोगों को अलग-अलग अहसास हुआ। स्वास्थ्य के प्रति संवेदनशील लोगों को चक्कर आने लगा। वाहन चलाने वालों को लगा कि वह पंचर हो गई। आफिस में काम करने वालों को लगा कि आजू-बाजू में बैठा कोई साथी कुर्सी या मेज हिला रहा है। पर चंद सेकेंड में ही डोलती धरती, हिलते पेड़, बहुमंजिला भवन, बिजली के खंभे, मोबाइल टावर, बाथरूम की... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 05:06 AM (IST)
        

मृतकों के परिजनों से मिले योगी, दी आर्थिक मदद

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : भूकंप आने के बाद मृतकों और घायलों के परिजनों से मिलने गोरक्षपीठाधीश्वर एवं सांसद योगी आदित्यनाथ मेडिकल कालेज और जिला अस्पताल पहुंचे। मृतकों के प्रति संवेदना जताई और घायलों को इलाज में हर संभव मदद का भरोसा दिया। साथ ही आर्थिक मदद भी दी। उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में हम पीड़ितों के परिजनों केसाथ हैं। योगी ने सभी घायलों के निश्शुल्क इलाज का निर्देश चिकित्सकों को दिया। प... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:53 AM (IST)
        

बहुमत के उन्माद में काम कर रही भाजपा : राजबब्बर

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : फिल्म अभिनेता व वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजबब्बर ने कहा कि भाजपा सकार बहुमत के उन्माद में काम कर रही है। केंद्र सरकार की गलत नीतियों के कारण ही आज किसानों को आत्म हत्या करने को मजबूर होना पड़ रहा है। यह सरकार किसान, गरीब व मजदूर विरोधी है। कहा कि किसानों की आत्महत्या नहीं बल्कि उनकी हत्या है। महराजगंज के फरेंदा विधानसभा क्षेत्र के हो रहे उपचुनाव के सिलसिले में गोरखपुर पहुं... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:52 AM (IST)
        

अचानक हिलने लगा प्लेटफार्म, भागने लगे यात्री

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : धरती हिली तो रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म भी कांपने लगे। सैकड़ों यात्रियों को समझ में नहीं आया कि यह अचानक क्या होने लगा। ऐसा लगा मानो ऊपर के शेड नीचे आ जाएंगे। जो जहां था वहीं से स्टेशन से बाहर निकलने की कोशिश करने लगा। ट्रेन और उसकी टाइमिंग भूल गई। प्लेटफार्मो पर यात्रियों में भगदड़ मच गई। रेलकर्मी, कुली और वेंडर भी प्लेटफार्मो से निकल गए। टिकट काउंटर पर लाइन में लगे य... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:51 AM (IST)
        

जान बचाकर भागे मरीज, डाक्टर व नर्स

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : मेडिकल कालेज में इलाज के लिए पहुंचे मरीजों के लिए शनिवार की दोपहर बेहद भारी पड़ी। भूकंप आने के बाद अफरा-तफरी व दहशत के बीच जो कुछ हुआ उसकी किसी ने कल्पना तक नहीं की थी। भूकंप की जानकारी होते मरीज, डाक्टर व नर्स सभी बदहवास इधर-उधर भागने लगे। अस्पताल से बाहर आकर ही राहत की सांस ली। बाहर मरीजों का हुजूम जमा हो गया। डाक्टरों के लाख समझाने के बावजूद लोग जब वार्डो में जाने क... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:49 AM (IST)
        

और दहशत में छत से कूद पड़े

गोरखपुर : महानगर स्थित हरि प्रसाद गोपी कृष्ण ज्वेलर्स में कार्यरत बबलू अग्रहरि भूकंप के समय उपरी मंजिल पर कार्य कर रहे थे। इस दौरान प्रतिष्ठान में भीड़ थी। धरती हिलते ही लोग सीढि़यों से होकर नीचे भागने लगे। बबलू को जगह नहीं मिली तो वह परेशान हो गए। इसी बीच छत और तेज गति से हिलने लगी। ऐसे में उन्होंने जान जोखिम में डालकर छत से ही छलांग लगा दी। जिसके चलते उनका एक हाथ और एक पैर जख्मी हो गया। उनका इलाज... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:48 AM (IST)
        

केंद्रीय राज्यमंत्री निरंजन ज्योति को प्रोटोकाल के लिए करना पड़ा इंतजार

जागरण संवाददाता, गोरखपुर: केंद्रीय राज्यमंत्री खाद्य प्रसंस्करण साध्वी निरंजना ज्योति को रेलवे स्टेशन पर रेलवे गेस्टहाउस जाने के लिए प्रतीक्षा करनी पड़ी। महराजगंज जिले के फरेंदा विधानसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी का प्रचार करने के लिए आई साध्वी शनिवार को सुबह वैशाली एक्सप्रेस से गोरखपुर रेलवे स्टेशन पर उतरी तो उनके स्वागत में न कोई प्रशासनिक अफसर मौजूद था, न वाहन ही आया था। उस समय कोई भाजपाई... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:47 AM (IST)
        

परिवहन विभाग में पसरा सन्नाटा

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : भूकंप ने परिवहन विभाग और निगम को भी हिलाकर रख दिया। बस स्टेशनों में जहां यात्रियों के बीच अफरा-तफरी मची रही वहीं बसें जहां थीं वहीं खड़ी हो गई। यात्री बसों से उतरकर बाहर मैदान में खड़े हो गए। कुछ देर के लिए बसों में सन्नाटा पसर गया। एक घंटे बाद स्थिति सामान्य हुई तो बसों का संचलन दुरुस्त हुआ। परिवहन विभाग में तो कर्मचारी अपना टेबल छोड़ भाग खड़े हुए। अंग्रेजों के जमाने मे... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:47 AM (IST)
        

खौफ के साये में दी बीएड प्रवेश परीक्षा

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : भूकंप के झटकों के असर से राज्य स्तरीय बीएड प्रवेश परीक्षा भी नहीं बच सकी। आलम यह रहा कि पहली पाली की बीएड परीक्षा में जो अभ्यर्थी बीएड में अच्छा कालेज पाने के लिए पूरी मेहनत करते दिखे, वहीं दूसरी पाली में उनके चेहरे पर भय व्याप्त था। दरअसल पहली पाली के बाद आए भूकंप के झटके के बाद जब परीक्षार्थी दूसरी पाली की परीक्षा शुरू हुई तो परीक्षार्थियों के मन में बैठा भूकंप का खौफ... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:47 AM (IST)
        

नेपाल से मरीज आने पर सूचना पर बढ़ी चौकसी

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : वैसे तो बीआरडी मेडिकल कालेज के वार्डो से मरीजों के बाहर आने के चलते दोपहर से ही कालेज प्रशासन व चिकित्सक स्थिति संभालने में जुटे थे, पर अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे नेपाल से घायलों के आने की सूचना के बाद चौकसी बढ़ गई। डीएम, सीडीओ, एसएसपी व दूसरे अधिकारी मेडिकल कालेज पहुंच गए। तब तक यह अनुमान लगाया जा रहा था कि नेपाल में घायलों की तादाद हजारों में हो सकती है। ऐसे में बी... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:46 AM (IST)
        

..और खुले मैदान में भागे लोग

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : भूकंप के खौफ का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पहले झटके के बाद लोग घरों, दुकानों से बाहर निकल आए और खुले मैदानों की ओर इस कदर बदहवास भागने लगे मानों मौत उनका पीछा कर रही है। देखते-देखते घनी आबादी वाले मोहल्लों के मकानों में सन्नाटा पसर गया और खुले मैदान महिलाओं, बच्चों, बुजुर्गो और युवाओं से पट गए। किसी को घर-दुकान, सामान की फिक्र नहीं, सभी को जान बचाने की चिंता रही... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:45 AM (IST)
        

1934 के बाद का सबसे तीव्र भूकंप

गोरखपुर: हिमालय की तलहटी में आए भूकंप की तीव्र हलचल ने नेपाल में तो तबाही मचाई ही, उत्तर भारत में भी अफरा-तफरा मचा दी। गोरखपुर- बस्ती मंडल में भी इससे जनहानि हुई है। भूकंप के लिहाज से अत्यंत संवेदनशील इस क्षेत्र में 1934 के बाद आया यह सबसे तेज झटका है। 1934 में तीव्रता 8.3 थी। शनिवार को तीव्रता 7.9 मापी गई। इससे पहले भी देश के पूर्वी हिस्से की धरती के भीतर कई बार हलचल पैदा हुई है। इन हलचलों का क्... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:45 AM (IST)
        

नेहरू अस्पताल में कई जगह गिरा प्लास्टर, दीवारों में दरार

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : बीआरडी मेडिकल कालेज व नेहरू अस्पताल के भवनों में कई जगह भूकंप के झटकों का असर साफ देखा गया। कई जगह जहां दीवारों पर दरार पड़ गए वहीं प्लास्टर भी टूट कर गिरे। नेहरू अस्पताल में ओटी की तरफ जाने वाली रैंप जहां से शुरू होती है वहां की दीवार की प्लास्टर टूट हुए हैं वहीं दूसरी मंजिल पर रैंप से लगी पिलर में भी दरार पड़ गई। इसके साथ ही वार्ड संख्या बारह-चौदह आदि के भवनों पर असर द... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:45 AM (IST)
        

घर रहे या बाहर रातभर जागे नैन

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : भूकंप के झटके, मन में दहशत, चेहरे पर खौफ, मोबाइल पर अफवाहों का गर्म बाजार। यह माहौल है शनिवार को आए भूकंप के झटकों के बाद शहर का। डर और अफवाहों के चलते आलम यह है कि आमतौर पर रात दस बजे तक सूनी हो जाने वाली शहर की सड़कों पर रात 12 बजे के बाद तक लोगों की चहल-कदमी थी। शनिवार की रात लोगों का ठिकाना उनका घर नहीं, कॉलोनियों के पार्क और खाली प्लॉट बने। सैंकड़ों की संख्या में लोग ... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:44 AM (IST)
        

दहशत में चिल्लाए बच्चे भागो आया भूकंप

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : धरती के हिलते ही सरकारी और कान्वेंट विद्यालयों के बच्चे दहशत के मारे चिल्लाने लगे। उनके चेहरे पर डर चस्पा कर गया। रोते-बिलखते बच्चों को घर की याद और और भागो भूकंप आ गया बोलते हुए कक्षा से भागने लगे। इसे देख शिक्षक भी हिल गए। प्रबंधन भी सहम गया। आनन-फानन शिक्षकों ने बच्चों को कक्षा से बाहर किया। कहीं मैदान में तो कहीं प्रार्थना स्थल पर बच्चों को ठहराया गया। इसी दौरान गिरत... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:42 AM (IST)
        

संवेदनशील इलाका, पूर्वानुमान संभव नहीं

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : दुनिया केसबसे पहले एटम बम के विस्फोट से जो ऊर्जा निकली उससे शायद 10,000 गुना ज्यादा ऊर्जा एक तीव्र भूकंप से निकलती है। इसके अलावा खौफ खाने की एक और वजह है कि भूकंप किसी भी वातावरण, मौसम और दिन के किसी भी वक्त में आ सकता है। हालांकि वैज्ञानिक इस बात का थोड़ा-बहुत अंदाजा तो लगा सकते हैं कि किस जगह पर जबरदस्त भूकंप आएगा मगर कब आएगा इसका वे ठीक-ठीक पता नहीं लगा सकते। भूकं... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:42 AM (IST)
        

विद्यालयों में दिखी लाचारी, बिलखते रहे बच्चे

गोरखपुर : सिविल लाइंस स्थित एचपी चिल्ड्रेन एकेडमी में कक्षा 4 डी में पढ़ने वाली श्रद्धा को अपना बेंच हिलता महसूस हुआ। उनको लगा कि अक्सर शैतानी करने वाला उनका पार्टनर जानबूझ कर बेंच हिला रहा है। उन्होंने उससे कहा भी कि बेंच क्यों हिला रहे हो? जवाब में उसने कहा कि मेरी भी समझ में नहीं आ रहा कि ब्रेंच क्यों हिल रही है। तभी शिक्षक ने भूकंप आने की बात कहकर उन्हें कमरे से निकलकर तत्काल मैदान में पहुंचने... और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:41 AM (IST)
        

मृतकों के परिजनों को दिए सात लाख

गोरखपुर: मृतकों के परिजनों को जिला प्रशासन ने शनिवार को मुख्यमंत्री द्वारा घोषित आपदा राहत धनराशि प्रदान की है। जिलाधिकारी रंजन कुमार ने मृतकों के परिजनों को सात-सात लाख का चेक प्रदान किया। घायलों को 4300 का चेक दिया।और पढ़ें »

Updated on: Sun, 26 Apr 2015 01:40 AM (IST)
        

पूर्वोत्तर रेलवे में अब डबल डेकर ट्रेन

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : पूर्वोत्तर रेलवे में भी डबल डेकर ट्रेन दौड़ेगी। रेलवे बोर्ड के निर्देश पर रेल प्रशासन ने चलाने की तैयारी पूरी कर ली है। यह ट्रेन लखनऊ से आनंद विहार टर्मिनल के बीच चलाई जाएगी। रविवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रेलमंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु और रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा आनंदविहार टर्मिनल से नई ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। इसके बाद पहली मई से यह ट्रेन प्रत्येक शु... और पढ़ें »

Updated on: Sat, 25 Apr 2015 11:15 PM (IST)
        

भूकंप में ढहे मकान व पेड़, बड़ी तादात में लोग घायल

जागरण संवाददाता, गोरखपुर : नेपाल में आए भूकंप से गोरखपुर में भी भारी तबाही हुई है। भूकंप के झटकों से बड़ी संख्या में मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं। इसमें जहां तीन लोगो की मौत हो गई, वहीं बड़ी तादात में लोग घायल हुए हैं। गंभीर रूप से घायल 25 से अधिक लोगों को जिला अस्पताल और मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। कई लोगों का निजी अस्पतालों में भी इलाज चल रहा है। बहुमंजिली इमारतों में रहने वाले कुछ लोगों ... और पढ़ें »

Updated on: Sat, 25 Apr 2015 09:50 PM (IST)
        
(News from Gorakhpur-city, Uttar-pradesh)
1 | 2 | 3 | 4 | 5 | 6 | 7 | 8 | 9 | 10 | Next »
यह भी देखें