PreviousNext

स्मार्ट फोन को करें री-यूज

Publish Date:Tue, 15 Aug 2017 03:41 PM (IST) | Updated Date:Wed, 13 Sep 2017 01:13 PM (IST)
स्मार्ट फोन को करें री-यूजस्मार्ट फोन को करें री-यूज
हर साल स्मार्ट फोन बनाने वाली कंपनियां नए फीचर्स वाले नए मॉडल लॉन्च करती हैं लेकिन लेटेस्ट स्मार्ट फोन यूज करने वालों के सामने यह समस्या होती है कि आखिऱ पुराने फोन का क्या किया जा

हर साल स्मार्ट फोन बनाने वाली कंपनियां नए फीचर्स वाले नए मॉडल लॉन्च करती हैं लेकिन लेटेस्ट स्मार्ट फोन यूज करने वालों के सामने यह समस्या होती है कि आखिऱ पुराने फोन का क्या किया जाए!
टेकज्ञान
तकनीक की दुनिया में सबसे तेजी से क्रांति होती है। स्मार्ट फोन इससे अछूते नहीं हैं। एक स्मार्ट फोन जल्दी ही अपने फीचर्स के कारण पुराना लगने लगता है। ऐसे में आपका पुराना फोन किसी काम का नहीं रह जाता। अगर आप भी ऐसा सोचते हैं तो टेक्नो एक्सपर्ट सौरव मिश्रा के टिप्स पर गौर करें। वह बता रहे हैं कि कैसे पुराने स्मार्ट फोन को री-यूज किया जा सकता है।
सिक्योरिटी कैमरा
स्मार्ट फोन काफी अच्छे कैमरे के साथ आते हैं। इसलिए इसका इस्तेमाल आसपास की निगरानी करने में किया जा सकता है। इसके लिए बस आपको आईपीवेबकैम या टिनी कैंप मॉनिटर जैसे ऐप की जरूरत होगी। इनका इस्तेमाल वेब ब्राउजर के जरिये लाइव विडियो देखने, रिकॉर्ड विडियो को क्लाउड स्टोरेज सर्विस पर अपलोड करने के लिए किया जा सकता है।
कार जीपीएस
जब भी आप किसी नई जगह या नए शहर में जाते हैं तो आपको सही रास्ता ढूंढने में बड़ी परेशानी होती है। ऐसे में आप अपने पुराने स्मार्ट फोन का कार में जीपीएस के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए बस आपको अपने पुराने फोन में हेयरवीगो या गूगल मैप्स जैसे ऐप डाउनलोड करने हैं, जो आपको वॉयस नेविगेशन की सुविधा प्रदान करते हैं। इसके अलावा आप ऑफ लाइन यूज के लिए अपने फोन से फुल मैप भी डाउनलोड कर सकते हैं।
डिजिटल फोटो फ्रेम
हम सभी अपने ऑफिस डेस्क के आसपास अपने खास लोगों या परिवार की फोटो रखना पसंद करते हैं। आप अपने पुराने स्मार्ट फोन का इस्तेमाल डिजिटल फोटो फ्रेम की तरह कर सकते हैं। बस आपको डिजिटल फोटो फ्रेम जैसे ऐप को डाउनलोड करना है। ऐसे ऐप के जरिये तसवीरों को स्लाइड शो के रूप में देखा जा सकता है। इसके अलावा इन ऐप्स में ऐनिमेशन इफेक्ट, बैकग्राउंड साउंड जैसे ऑप्शन भी आते हैं।
मीडिया सर्वर
अगर आप किसी अलग डिवाइस में मल्टीमीडिया कंटेंट जैसे म्यूज‍िक या विडियो स्ट्रीम करना चाहते हैं तो इसके लिए अपने पुराने स्मार्ट फोन का इस्तेमाल मीडिया सर्वर के रूप में कर सकते हैं। प्लेक्स या बबलएनपी जैसे ऐप्स की मदद से आप आसानी से ऐसा कर सकते हैं। जयादातर डीएलएनए कंपैटिबल डिवाइस में स्ट्रीमिंग फीचर आसानी से काम करता है।
यूनिवर्सल रिमोट
आजकल लगभग सभी इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे एसी, टीवी, म्यूज‍िक सिस्टम आदि अलग रिमोट के साथ आते हैं लेकिन अगर आपके पुराने स्मार्ट फोन में आईआर ब्लास्ट से है तो आप सारे रिमोट की जगह अपने फोन का इस्तेमाल एक यूनिवर्सल रिमोट के रूप में कर सकते हैं। इसके लिए ईजी यूनिवर्सल टीवी रिमोट और पील स्मार्ट रिमोर्ट जैसे ऐप्स भी उपलब्ध हैं, जो लगभग सभी घरेलू उपकरणों को सपोर्ट करते हैं।
मीडिया प्लेयर
कुछ यूजर अपने हैंडसेट को साफ-सुथरा रखना पसंद करते हैं। मतलब वे जयादा गाने रखना पसंद नहीं करते लेकिन कई बार ऐसा होता है, जब आपको एक जगह पर स्टोर किए हुए गानों की जरूरत पड़े। ऐसे में काम आएगा आपका पुराना हैंडसेट। अपने हैंडसेट में अपने म्यूज‍िक प्ले लिस्ट को स्टोर कर लें और जब जरूरत हो, गाने प्ले कर लें। किसी छोटे कमरे के लिए मोबाइल का स्पीकर ही काफी होता है लेकिन बड़े कमरे के लिए आप अपने पुराने डिवाइस को ब्लूटुथ या 3.5 एमएम जैक से कनेक्ट करके गाना बजा सकते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि गाने चलते वक्त आपको फोन नहीं आएगा।
गेमिंग डिवाइस
एंटरटेनमेंट या टाइम पास के लिए किसे गेम खेलना पसंद नहीं होगा। मोबाइल पर गेम खेलने का चस्का एक बार जिसे लग जाता है, वह मोबाइल में लगातार नए गेम अपलोड करने लगता है, जिससे मोबाइल का स्टोरेज फुल हो जाता है। अगर आप घर बैठे फुर्सत के पलों में गेम खेलना चाहते हैं तो पुराना हैंडसेट इस काम आ सकता है। हालांकि ऐसा करते समय आपको दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। हो सकता है कि पुराना होने के कारण इस गैजेट के स्पेसिफिकेशन आज की तारीख में लॉन्च किए गए गेम्स के लिए न्यूनतम जरूरतों को पूरा न करे। अब भी एंड्रॉयड और आईओएस पर कई ऐसे गेम हैं, जो आपके पुराने हैंडसेट पर चल जाने चाहिए। ध्यान रहे कि जयादा रिसोर्स की खपत करने वाला गेम इस्तेमाल न करें अन्यथा आपके पुराने हैंडसेट की स्पीड धीमी पड़ सकती है।
ईबुक रीडर
किताबों को डिजिटल रूप में पढऩे के लिए ई रीडर्स बेस्ट हैं लेकिन अगर आपके पास पहले से ईबुक रीडर नहीं है तो आप अपने स्मार्ट फोन का इस्तेमाल इसके लिए कर सकते हैं। बर्नस एंड नोबेल और कोबो जैसे ई रीडर बनाने वाली लगभग सभी कंपनियों के पास अपने ऐप हैं, जिनका इस्तेमाल ईबुक पढऩे के लिए किया जा सकता है।
वायरलेस हॉटस्पॉट
पुराने स्मार्ट फोन का इस्तेमाल वायरलेस हॉटस्पॉट के रूप में भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक 3जी या 4जी सिम लेकर अपने फोन का वायरलेस हॉटस्पॉट ऑप्शन ऑन करना होता है। पुराने फोन के जरिये यह वाई-फाई इस्तेमाल करने का आसान और सस्ता तरीका है।
बच्चों का पहला स्मार्ट फोन
एक जमाना था, जब बच्चे खिलौनों से खुश हो जाते थे। आज हर बच्चे को डिजिटल गैजेट और स्मार्ट फोन अच्छे लगते हैं। क्योंकि नया और महंगा स्मार्ट फोन बच्चों को देना नुकसानदेह हो सकता है, इसलिए जब बच्चे थोड़े बड़े हो जाएं और फोन की डिमांड करने लगें तो उन्हें अपना पुराना स्मार्ट फोन दे सकते हैं।
बैकअप हैंडसेट
नया मोबाइल खरीदने का मतलब यह नहीं है कि वह हमेशा ही आपके साथ है। कई बार दुर्घटना हो सकती है। मान लीजिए कि नया मोबाइल खराब हो जाए या फिर खो जाए। ऐसे में आप क्या करेंगे? क्या एक और नया हैंडसेट खरीदेंगे? ऐसा कोई नहीं कर पाता। ऐसे वक्त में काम आएगा, आपका वही पुराना फोन, जो लंबे वक्त तक आपका साथी रहा है। पुराना मोबाइल सबसे अहम रोल बैकअप हैंडसेट के तौर पर निभाता है।
स्टोरेज डिवाइस
अगर आपको तसवीरें लेने या फिर गाने स्टोर करने का शौक है तो कभी न कभी आपके गैजेट में स्टोरेज कम पड़ सकता है। आप अलग से मेमोरी कार्ड रखें भी तो उसकी एक सीमा होती है। ऐसे में आपका पुराना फोन एक स्टोरेज डिवाइस के तौर पर भी काम कर सकता है। हालांकि इसके लिए आपको एक खास क‍िस्म का सेटअप चाहिए। कम से कम डेटा केबल और कंप्यूटर डिवाइस की जरूरत तो पड़ेगी ही।
हालांकि ऐसा करते हुए यह भी ध्यान रखना होग कि फोन पुराना है और वह कभी भी धोखा दे सकता है यानी चलना बंद कर सकता है। इसलिए केवल उसे ही एकमात्र स्टोरेज डिवाइस के तौर पर इस्तेमाल न करें, बेकअप व्यवस्था भी रखें।

संगीता सिंह
 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:reuse the smart phone(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

फ्यूज़ बल्ब का रीयूज़अपने दुखों का कारण समझने में सक्षम हो जाएं तो जीवन बने सहज और सुंदर
यह भी देखें