Dainik Jagran Hindi News

www.jagran.com
October 24,2014

कढ़ी

सेव की कढ़ी

विधि : बेसन को छानकर, एक बर्तन में निकाल लें और 2 भागों में बांट लें। बेसन के एक भाग में थोड़ा सा नमक और 1 टेबल स्पून तेल डालकर, चपाती के आटे से भी नरम आटा गूंथ लीजिए और आटे को ढककर 15 मिनट के लिए रख दें। कलछी से सेव बनाने के लिए: कड़ाही में तेल ... और पढ़ें »

Posted on: Wed, 30 Jul 2014 02:27 PM (IST)
        

डुबकी कढ़ी

विधि : मूंग की दाल को साफ कीजिए, उसे धोइए और 3-4 घंटे के लिए पानी में भिगो दीजिए। दाल फूलने के बाद दाल से अतिरिक्त पानी निकालिए, फिर दाल को हल्का दरदरा पीस कर किसी बड़े बर्तन में निकाल लीजिए। दाल को एकदम महीन न करें बल्कि हल्का दरदरा रखें तभी डुबकी य... और पढ़ें »

Posted on: Tue, 08 Jul 2014 11:22 AM (IST)
        

वेजीटेबल कढ़ी

विधि : दही और बेसन को मिलाकर अच्छी तरह फेंट लें, और उसमें अदरक हरी मिर्च पेस्ट, करी पत्ते, नमक और 2 कप पानी मिलाकर रख दें। एक पैन में तेल गर्म करें और उसमें जीरा और सरसों को 30 सेकेंड तक भूनें। हींग और लाल मिर्च भी डाल दें। दही और बेसन वाला मिश... और पढ़ें »

Posted on: Tue, 06 Aug 2013 11:16 AM (IST)
        

टमाटर की कढ़ी

विधि : टमाटर को बड़े टुकड़ों में काटें। इन्हें पानी और दालचीनी डालकर उबाल लें मिक्सी में पीसे और छानकर रस निकाल लें। रस पतला ही रखें। इस रस में बेसन घोल लें। सहजन को 2 इंच के टुकड़ों में काटे और छीले। प्याज के टुकड़े काट लें। कड़ाही में तेल गरम करें।... और पढ़ें »

Posted on: Tue, 11 Dec 2012 11:32 AM (IST)
        

मूंगदाल की कढ़ी

विधि : एक भारी तले के बर्तन में दाल का पेस्ट और छाछ को अच्छी तरह मिलाकर पकाये। दस मिनट तक लगातार चलाते रहें। आंच को धीमी करके आधे घंटे तक पकने दें। अब इसमें उबली हुई सब्जियां डालकर 15 मिनट तक पकाये। तड़का लगाकर, बारीक कटे हरे धनिये से सजाकर गर्... और पढ़ें »

Posted on: Mon, 09 Jul 2012 04:37 PM (IST)
        

पालक की कढ़ी

विधि : 1. पालक को साफ कर पानी से अच्छी तरह धो लें और चाकू से बारीक काट लें। 2. दही को मथकर उसमें छना हुआ बेसन डालकर अच्छी तरह घोल लें, इसमें पानी मिलाकर पतला कर लें। 3. कड़ाही में तेल डालकर गरम करें। अब इसमें हींग और जीरा डाल दें। जब जीरा चटक... और पढ़ें »

Posted on: Tue, 25 Mar 2008 12:40 AM (IST)
        

सिंधी कढ़ी

विधि : 1. सबसे पहले दो टेबलस्पून तेल को गर्म करके उसमें बेसन मिलाइए। इसे 10-15 मिनट तक भूनिए, जब तक ये थोड़ा सा गहरे रंग का न हो जाये और इसमें से खुशबू न आने लगे। 2. अब इसमें हल्दी, नमक और चार गिलास पानी मिलाइए। इसे हिलाते हुए उबालिए। 3. अब एक ... और पढ़ें »

Posted on: Fri, 28 Oct 2005 12:00 AM (IST)
        

कढ़ी पकौड़ा

विधि : पकौडों के लिए: तेल को छोड़कर पकौड़ो की सभी सामग्रियां मिलाकर पानी डालकर गाढ़ा घोल बना लें। कड़ाही में तेल गर्म करें घोल में आलू और कटी प्याज भी मिला दें हाथ से थोड़ा-थोड़ा सा घोल कड़ाही में डाले और पकौड़े तल लें। कढ़ी के लिए: दही को अ... और पढ़ें »

Posted on: Sat, 01 Dec 2001 12:00 AM (IST)
        

दाल कढ़ी

विधि : गर्म पानी में चने की दाल को आधा घंटा भीगने दें और फिर पानी निथार कर अलग रख दें। 2 कप पानी डालकर दाल को कुकर में पकाएं। फ्राईपैन में तेल गर्म कर जीरा डाल दें। जब जीरा चटखने लगे तब हींग, अदरक हरी मिर्च पेस्ट मिलाकर कुछ मिनट तक चलाते हुए पकाएं। अ... और पढ़ें »

Posted on: Tue, 20 Nov 2001 12:00 AM (IST)
        

अमिया की कढ़ी

विधि : आम को पानी में डालकर तब तक पकाएं जब तक गल न जाए। इस मिश्रण को किसी साफ बर्तन में अच्छी तरह मथ दें ताकि उसमें आम के टुकड़े दिखाई न दें। चार कप के हिसाब से इसमें थोड़ा पानी भी मिला दें। इसमें धनिया, गरम मसाला, नमक और चीनी मिलाएं। कढ़ाई में तेल ग... और पढ़ें »

Posted on: Wed, 22 Aug 2001 12:00 AM (IST)
        



    श्री कृष्ण ने की थी गोवर्धनपूजा की शुरुआत, पढ़िए पुराणों में विख्यात एक दिलचस्प कथा

    प्रकृति जीवन का आधार है. पेड़-पौधे और पशु-पक्षी ही मिलकर हमें आगे बढ़ने में सहायता प्रदान करते हैं. हिंदू धर्म में प्रकृति की महत्ता को दर्शाने के लिए कई पेड़ों और जानवरों को भगवान का दर्जा दिया गया है. इसी परंपरा को और भी आगे ले जाते हैं हमारे पर्व जैसे नाग पंचमी और गोवर्धन [...]