PreviousNext

काउंसलर कॉर्नर

Publish Date:Wed, 18 Mar 2015 12:15 PM (IST) | Updated Date:Wed, 18 Mar 2015 12:36 PM (IST)
काउंसलर कॉर्नर
मैं बीटेक फस्र्ट ईयर (मैकेनिकल) से पढ़ रहा हूं। एक सब्जेक्ट में मेरी बैक आ गई है। मैं गवर्नमेंट यूनिवर्सिटी या कॉलेज में जाना चाहता हूं। मैं यह भी जानना चाहता हूं कि क्या प्राइवेट

IMPROVE YOUR KNOWLEDGE

प्रैक्टिकल स्किल से पाएं पहचान

मैं बीटेक फस्र्ट ईयर (मैकेनिकल) से पढ़ रहा हूं। एक सब्जेक्ट में मेरी बैक आ गई है। मैं गवर्नमेंट यूनिवर्सिटी या कॉलेज में जाना चाहता हूं। मैं यह भी जानना चाहता हूं कि क्या प्राइवेट से भी अच्छी जॉब मिल सकती है?

सचिन

गवर्नमेंट यूनिवर्सिटी या कॉलेज में जाने के लिए तो आपको फिर से एंट्रेंस देना और मेरिट लिस्ट में ऊंचा स्थान लाना होगा। इसमें आपका एक साल बेकार हो सकता है। बेहतर यही होगा कि आप बैक पेपर को क्लीयर करते हुए आगे के सेमेस्टर्स को सीरियसली लें और उसमें बेहतर प्रदर्शन करके अच्छा परिणाम हासिल करें। अभी एक साल ही बीता है, इसलिए आपके पास अपनी कमजोरी को ताकत बनाने का काफी मौका है। चूंकि आप मैकेनिकल से इंजीनियरिंग कर रहे हैं, तो बेहतर होगा कि आप क्लास के थ्योरी लेक्चर के साथ-साथ पार्टटाइम में अपनी प्रैक्टिकल नॉलेज भी बढ़ाने की दिशा में खुद से पहल करें। अपने शहर के ऑटोमोबाइल सर्विस सेंटर्स या वर्कशॉप्स में संपर्क करके वहां खुद को सिखाने की गुजारिश करें। जब तक बीटेक की पढ़ाई चले, तब तक अपनी प्रैक्टिकल स्किल को इसी तरह निखारते रहें। चौथे साल तक आप अपने ब्रांच में इतने माहिर हो जाएंगे कि आपको कोई भी कंपनी आसानी से जॉब दे देगी। ईमानदारी से कदम आगे बढ़ाएं।

स्टे्रटेजी बनाकर करें तैयारी

पिछले साल मैंने इकोनॉमिक्स और साइकोलॉजी से ग्रेजुएशन कंपलीट किया था। सिविल सर्विसेज में जाना चाहता हूं। कृपया मेरी मदद करें।

शुभम चतुर्वेदी

सिविल सर्विसेज में जाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको स्ट्रेटेजी बनाकर रेगुलर तैयारी करनी होगी। जैसा कि आप जानते होंगे, सिविल सर्विसेज के लिए यूपीएससी द्वारा लिए जाने वाले एग्जाम में तीन चरण होते हैं-पहला, प्रारंभिक परीक्षा, जिसमें सामान्य अध्ययन और सिविल सर्विसेज एप्टीट्यूड टेस्ट के ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्नों पर आधारित दो पेपर होते हैं। इस स्क्रीनिंग परीक्षा को क्वालिफाई करने वाले कैंडिडेट्स को दूसरे चरण के मेन एग्जाम में एंट्री दी जाती है। मेन्स के कंपल्सरी पेपर्स में जनरल स्टडीज के चार पेपर और एस्से का एक पेपर होता है। इसके अलावा, जनरल इंग्लिश और जनरल हिंदी के क्वालिफाइंग कंपल्सरी पेपर भी होते हैं। इन दोनों के माक्र्स मेरिट लिस्ट बनाते समय तो नहीं जोड़े जाते, पर इन दोनों पेपर्स को पास करना जरूरी होता है।?इसके बाद ही बाकी पेपर्स की आंसरशीट चेक की जाती है। मेन्स के लिए आपको एक ऑप्शनल सब्जेक्ट भी लेना होता है, जिसके दो पेपर होते हैं। जरूरी नहीं कि यह सब्जेक्ट आपने ग्रेजुएशन में पढ़ा ही हो। मुख्य परीक्षा क्वालिफाई करने वालों को संघ लोक सेवा आयोग के नई दिल्ली स्थित मुख्यालय धौलपुर हाउस में इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। इसके बाद मेन्स व इंटरव्यू के माक्र्स के आधार पर मेरिट लिस्ट बनाकर चयनित कैंडिडेट्स के नामों की घोषणा की जाती है। जीएस की तैयारी के लिए आप एनसीईआरटी की 12वीं तक किताबों के साथ नेशनल न्यूज पेपर्स रेगुलर पढ़ें और उनसे नोट्स भी बनाएं। क्वैश्चंस के पैटर्न को समझने के लिए पिछले कुछ वर्षों के पेपर देखें।

इंट्रेस्ट लेकर सुधारें अंग्रेजी

मैंने 2013 में 55 प्रतिशत अंकों से मैट्रिक पास किया है, लेकिन इंग्लिश में सिर्फ 16 नंबर है। आइएएस बनना चाहता हूं। क्या सरकारी जॉब में प्रॉब्?लम होगी? अभी कॉमर्स से 12वीं कर रहा हूं।

रितेश कुमार

सबसे पहले तो इस धारणा को दूर कर लें कि अंग्रेजी के नंबरों के आधार पर आइएएस या किसी सरकारी नौकरी में दिक्कत हो सकती है। आइएएस के लिए किसी भी श्रेणी में ग्रेजुएशन पास होना चाहिए। हां, चूंकि प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा में अंग्रेजी से जुड़े प्रश्न और पेपर होते हैं, जिन्हें क्वालिफाई करना जरूरी होता है, इसलिए आपको अपनी अंग्रेजी थोड़ी ठीक करनी होगी। इसके लिए आप 10वीं-12वीं के स्तर की अंग्रेजी को प्रैक्टिकली रिवाइज करके और अंग्रेजी के न्यूज पेपर रेगुलर पढ़कर ठीक कर सकते हैं। अगर थोड़ा इंट्रेस्ट लेकर अंग्रेजी सुधार लेंगे, तो इसका आपको करियर में फायदा ही मिलेगा।

सभी सेक्शंस पर देना होगा ध्यान

बीए फस्र्ट ईयर का स्टूडेंट हूं। बैंकिंग में जाना चाहता हूं। कृपया मेरा मार्गदर्शन करें।

पप्पू कुमार

अगर आप गवर्नमेंट सेक्टर के बैंक में नौकरी पाना चाहते हैं, तो आपको आईबीपीएस (इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सोनेल सलेक्शन) द्वारा आयोजित किया जाने वाला कॉमन रिटेन एग्जाम क्लीयर करना होगा। हालांकि इस कॉम्पिटिटिव एग्जाम को क्वालिफाई करने के लिए आपको मेहनत से तैयारी करनी होगी। एसबीआइ अपना एग्जाम खुद और अन्य सभी सरकारी बैंकों के लिए आईबीपीएस एग्जाम लेता है। इन दोनों द्वारा आयोजित किए जाने वाले एग्जाम के पैटर्न को समझने के लिए आप इनकी वेबसाइट से सिलेबस और क्वैश्चन पेपर्स प्राप्त कर सकते हैं। इससे आपको तैयारी करने में सहूलियत होगी। एग्जाम के सभी सेक्शंस की एक समान तैयारी करें, ताकि आप सभी के प्रश्न समान रूप से हल कर सकें।

करियर से संबंधित सवाल

counselor@nda.jagran.com

पर ईमेल करके पूछ सकते हैं..

अरुण श्रीवास्तव

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Counselor Corner(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

इनलैक्स स्कॉलरशिपMake your Brain Sharp
यह भी देखें