PreviousNext

शिबू-हेमंत के खिलाफ रघुवर के बयान पर भड़का झामुमो

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 05:59 AM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 09:18 AM (IST)
शिबू-हेमंत के खिलाफ रघुवर के बयान पर भड़का झामुमोशिबू-हेमंत के खिलाफ रघुवर के बयान पर भड़का झामुमो
झामुमो ने मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ तगड़ी मोर्चाबंदी की। दास ने झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन और हेमंत सोरेन को लुटेरा कहा था।

राज्य ब्यूरो, रांची। झारखंड मुक्ति मोर्चा ने गुरुवार को मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ तगड़ी मोर्चाबंदी की। बुधवार को दुमका से सटे लिट्टीपाड़ा में रघुवर दास ने झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन और हेमंत सोरेन को लुटेरा, रिश्वतखोर बताते हुए लोगों से कहा था कि वे कबतक शिबू सोरेन को ढोते रहेंगे। हेमंत सोरेन ने तत्काल इसपर आपत्ति दर्ज कराई थी। गुरुवार को रांची से लेकर दुमका तक झामुमो के नेताओं ने रघुवर दास को निशाने पर लिया।

झारखंड में भी वीआइपी कल्चर पर रोक

  पार्टी मुख्यालय में महासचिव सह प्रवक्ता विनोद पांडेय ने कहा कि एक तरफ सीएम खुद को शिबू सोरेन का बेटा बताते हैं तो दूसरी ओर उनके खिलाफ मर्यादा लांघते हैं। लगता है कि सीएम मानसिक संतुलन खो बैठे हैं। रघुवर दास को उन लोगों से माफी मांगनी चाहिए जिनकी भावनाएं शिबू सोरेन के साथ जुड़ी हुई हैं। 27 अप्रैल को होने वाला विधानसभा का विशेष सत्र झामुमो के विधायक बाधित कर देंगे। मुख्यमंत्री को सदन में माफी मांगनी होगी। लिट्टीपाड़ा विधानसभा उपचुनाव के परिणाम से भी मुख्यमंत्री ने सबक नहीं लिया है।
झामुमो महासचिव ने कहा कि रघुवर दास को यह ख्याल रखना चाहिए कि शिबू सोरेन ने अलग राज्य के आंदोलन में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। वे राज्य के मुख्यमंत्री भी रहे हैं। पूर्व सीएम और नेता प्रतिपक्ष के खिलाफ भी उन्होंने अमर्यादित शब्दों का प्रयोग किया है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पार्टी कार्यकर्ताओं को उन्होंने हर जिले में रघुवर दास का पुतला फूंकने का निर्देश दिया।

धरने पर बैठे बाबूलाल मरांडी, गोड्डा में स्थिति तनावपूर्ण

-----------
हेमंत के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं : आजसू
-राजनीतिक तकरार के बीच आजसू ने खोला तीसरा मोर्चा
रघुवर दास के खिलाफ झामुमो के तल्ख तेवर के बीच आजसू पार्टी ने सवाल उठाया है कि सरकार हेमंत सोरेन के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं करती। मुख्यमंत्री लगातार कह रहे हैं कि हेमंत सोरेन ने सीएनटी-एसपीटी एक्ट का उल्लंघन कर जमीनें खरीदी है और रांची, जमशेदपुर, धनबाद, बोकारो, दुमका में महल खड़े किए हैं। पार्टी प्रवक्ता देवशरण भगत ने कहा कि यह गंभीर विषय है। मुख्यमंत्री रघुवर दास को यह बताना चाहिए कि अगर हेमंत सोरेन ने कानून तोड़ा है तो उनके खिलाफ सरकार कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है?

अनोखी शादीः न घोड़ा न गाड़ी, जेल से आया दूल्हा लगाए हथकड़ी

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:JMM raged over statement of Raghuvar against Shibu andHemant(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

झारखंड में भी वीआइपी कल्चर पर रोकताइक्वांडो खिलाड़ी ने कहा, ब्लैकमेल कर दर्ज करवाई थी प्राथमिकी
यह भी देखें