PreviousNext

औद्योगिक विकास में झारखंड की छलांग, 21,344 लोगों को मिलेगा रोजगार

Publish Date:Fri, 19 May 2017 10:09 AM (IST) | Updated Date:Fri, 19 May 2017 04:44 PM (IST)
औद्योगिक विकास में झारखंड की छलांग, 21,344 लोगों को मिलेगा रोजगारऔद्योगिक विकास में झारखंड की छलांग, 21,344 लोगों को मिलेगा रोजगार
झारखंड में 21,184 लोगों को रोजगार हासिल होगा और इससे दोगुने लोग अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार से जुड़ेंगे।

राज्य ब्यूरो, रांची। फरवरी में आयोजित मोमेंटम झारखंड-2017 के आयोजन के महज तीन महीने के भीतर 19 कंपनियों के 21 प्रोजेक्ट का शिलान्यास और तीन कंपनियों का शुभारंभ कर राज्य सरकार ने औद्योगिक विकास की दिशा में बड़ी छलांग लगाई है। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गुरुवार को खेलगांव परिसर में एक साथ इन कंपनियों के प्रोजेक्ट की आधारशिला रख झारखंड के नवनिर्माण की नींव रखी। 710 करोड़ की इन परियोजनाओं के 6-7 माह में धरातल पर उतरने की बात कही जा रही है। इससे प्रत्यक्ष तौर पर 21,184 लोगों को रोजगार हासिल होगा वहीं, इससे दोगुने लोग अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार से जुड़ेंगे।

जिन 21 प्रोजेक्ट की आधारशिला रखी गई है उनमें पांच वस्त्र उद्योग से जुड़ी हैं। ये कंपनियां झारखंड में 323 करोड़ का निवेश कर रही हैं और इससे प्रत्यक्ष रूप से 19,350 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। वस्त्र उद्योग की सबसे बड़ी कंपनी ओरियंट क्राफ्ट कौशल विकास केंद्र की भी स्थापना करेगी। वहीं, वेयर हाउसिंग के जिन तीन प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया गया है उनसे 160 लोगों को प्रत्यक्ष तौर पर रोजगार हासिल होगा। रांची, बोकारो और गुमला में बनाए गए इन वेयर हाउस में 30.5 करोड़ रुपये का निवेश किया गया है।

इन कंपनियों की रखी गई आधारशिला

कंपनी प्रोजेक्ट ओरियंट क्राफ्ट लि. टेक्सटाइल-फुटवेयर वैद्यनाथ वेयरहाउसिंग वेयरहाउसिंग वैद्यनाथ वेयरहाउसिंग वेयरहाउसिंग, चांडिल कावेरी एग्री कोल्ड चेन, नगड़ी प्रेम फुटवेयर फुटवेयर देव आहार फूड स्नैक्स एंड नमकीन शॉ फार्मा ड्रग अमित ऑयल ऑयल एंड कैटल फीड डायमंड न्यूट्रीफूड्स कोल्ड चेन मेडिकेंट सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल हॉस्पिटल, बोकारो चारगेटेक इनर्जी लेड एंड बैट्री बायो जेनेटिक लैब बायोमेडिकल वेस्ट शाही एक्सपोर्ट टेक्सटाइल मैट्रिक्स क्लोथिंग टेक्सटाइल टैंगग्राइन डिजाइन लेदर एंड टेक्सटाइल बैग जालान फूड्स प्रोडक्ट्स फूड प्रोसेसिंग इंपीरियल ट्रेडिंग फूड प्रोसेसिंग, बेकरी प्रगति बीवरेज फूड प्रोसेसिंग कोरस एग्रो फूड प्रोसेसिंग त्रिवेणी एपरेल्स टेक्सटाइल-गारमेंट एसकेएफ मैन्यूफैक्च¨रग टेक्सटाइल-गारमेंट

इन प्रोजेक्ट का हुआ उद्घाटन

कंपनी प्रोजेक्ट बद्रीनाथ वेयरहाउसिंग वेयरहाउसिंग, रांची यादादरी वेयरहाउसिंग वेयरहाउसिंग, बोकारो वैंकटा अन्नपूर्णा वेयरहाउसिंग वेयरहाउसिंग, गुमला

वस्त्र उद्योग में बांग्लादेश को पीछे छोड़ेगा झारखंड: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने विश्वास दिलाया है कि वस्त्र उद्योग में झारखंड जल्द ही बांग्लादेश को पीछे छोड़ देगा। शिलान्यास समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड में यह क्षमता है कि वस्त्र उद्योग समेत अन्य उद्योगों में वह प्रतिद्वंद्वियों से आगे निकल सके। देश को आर्थिक सुपर पावर बनाने में झारखंड बहुत बड़ी भूमिका अदा कर रहा है। उन्होंने यह भी भरोसा दिलाया कि आने वाले तीन चार सालों में झारखंड विकासित राज्यों में शुमार किया जाएगा।

झारखंड जल्द ही अपनी परंपरागत पहचान को बदलेगा। आने वाले समय में यह राज्य वस्त्र, फूड प्रोसेसिंग, हेल्थकेयर, फार्मा उद्योग के लिए भी जाना जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड सरकार ने निवेशकों से जो वादा किया था उसे निभाया। 16-17 फरवरी को रांची में आयोजित ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट के महज तीन महीने के अंदर 21 प्रोजेक्ट का शिलान्यास और तीन का उद्घाटन इसकी बानगी है। इस मौके पर उन्होंने निवेशकों को भरोसा दिलाया कि सरकार के दरवाजे उनके लिए 24 घंटे सातों दिन खुले हैं। निवेशकों के सुझाव पर नियम कानून में बदलाव के लिए भी सरकार तैयार है।

जुलाई में 30-35 कंपनियों की रखी जाएगी आधारशिला

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि जुलाई में दोबारा इस तरह का आयोजन होगा, जिसमें 30-35 कंपनियों की आधारशिला रखी जाएगी। इस दौरान मैन्यूफैक्च¨रग, ऑटो कंपोनेंट, ऑटो सेक्टर की कंपनियां शामिल हैं।

किसी को माहौल बिगाड़ने की अनुमति नहीं

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने विकास विरोधी तत्वों को सीधी चेतावनी देते हुए कहा कि किसी को राज्य का माहौल बिगाड़ने की अनुमति नहीं हैं। सीएम ने ऐसी शक्तियों को चेताते हुए कहा कि यदि वे राज्य का वातारण खराब करेंगे तो कानून अपना काम करेगा। मुख्यमंत्री के इस वक्तव्य को बुधवार को रांची में हुई आदिवासी सेंगेल अभियान की रैली के पलटवार के रूप में देखा जा रहा है। सीएनटी-एसपीटी संशोधन विधेयक पर एक बार फिर स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा कि किसी की जमीन नहीं छिनेगी, ऐसा कौन पैदा हुआ है जो किसी की जमीन छीन ले।

निवेशकों ने की सरकार की तारीफ, छह माह में शुरू करेंगे उत्पादन:

धींगरा खेलगांव में टेक्सटाइल एंड फुटवेयर उद्योग लगाने वाले ओरियंट क्राफ्ट के एमडी सुधीर धींगरा ने कहा कि झारखंड गारमेंट उद्योग में बांग्लादेश को पीछे छोड़ सकता है। इस उद्योग में सबसे अधिक रोजगार मिलता है। किसी निरक्षर व्यक्ति को भी तीन माह का प्रशिक्षण देकर इसमें रोजगार दिला सकते हैं। उन्होंने गारमेंट उद्योग के लिए 25 एकड़ जमीन देने के लिए सरकार के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि कंपनी छह माह में उत्पादन शुरू कर देगी। यहां पंद्रह हजार लोगों को रोजगार मिलेगा।

एक हजार लोगों को रोजगार: अग्रवाल

चावल मिल, खाद्य तेल व पशु आहार फैक्ट्री खोलने वाले अमित ऑयल प्रा.लि. के एमडी सीपी अग्रवाल ने कहा कि फैक्ट्री की स्थापना से एक हजार लोगों को प्रत्यक्ष और परोक्ष रोजगार मिलेगा। 

यह भी पढ़ेंः सीएम रघुवर दास का कद हुआ ऊंचा, हनक भी बढ़ी

यह भी पढ़ेंः बच्चा चोरी की अफवाह में सात को पीट-पीट कर मार डाला, तनाव

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:21344 people to get jobs in Jharkhand(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

झारखंडः प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की दौड़ में सुबोधकांत आगेरांची में सेक्स रैकेट का खुलासा, तीन लड़कियां व एक ग्राहक गिरफ्तार
यह भी देखें