PreviousNext

वायु प्रदूषण से बढ़ती है साइनस की परेशानी

Publish Date:Thu, 20 Apr 2017 03:24 PM (IST) | Updated Date:Thu, 20 Apr 2017 03:24 PM (IST)
वायु प्रदूषण से बढ़ती है साइनस की परेशानीवायु प्रदूषण से बढ़ती है साइनस की परेशानी
साइनस मानव खोपड़ी में हवा भरी कैविटी होती है, जो सिर को हल्कापन देती है और सांस के दौरान हवा को अंदर लेने में सहायक होती है।

वायु प्रदूषण का एक और बड़ा खतरा सामने आया है। ताजा शोध के मुताबिक, उच्च प्रदूषण वाले इलाकों में रहने वालों को साइनस से जुड़ी गंभीर परेशानियों का खतरा रहता है। अमेरिका की जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने इस संबंध में चूहों पर शोध किया। साइनस मानव खोपड़ी में हवा भरी कैविटी होती है, जो सिर को हल्कापन देती है और सांस के दौरान हवा को अंदर लेने में सहायक होती है। प्रदूषण कण साइनस में ही फिल्टर होते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि ज्यादा समय तक प्रदूषित वायु में सांस लेने से प्रदूषण के कण साइनस कैविटी को भरने लगते हैं। इससे सिर दर्द, जुकाम, सिर भारी होना और ऐसी ही अन्य सांस संबंधी परेशानियां हो जाती हैं। समय पर इलाज न मिलने से ऑपरेशन की नौबत आ जाती है। 

-आइएएनएस

यह भी पढ़ें:


इंसुलिन से संभव हो सकता है ग्लूकोमा का इलाज

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Air pollution ups risk of chronic sinus problems(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जन्म के समय बच्चे के वजन का लीवर पर पड़ता है असरब्रेन कैंसर मरीजों को नए उपचार से लाभ
यह भी देखें