PreviousNext

MCD Election: रविवार को मौसम रहेगा मेहरबान, बढ़ सकता है मतदान

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 11:32 AM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 05:02 PM (IST)
MCD Election: रविवार को मौसम रहेगा मेहरबान, बढ़ सकता है मतदानMCD Election: रविवार को मौसम रहेगा मेहरबान, बढ़ सकता है मतदान
सुबह तो गर्म होगी, मगर दिन में न तो उतनी तेज धूप ही होगी और न लू चलेगी। अनुमान है कि ऐसे में मतदान का फीसद भी बेहतर हो सकता है।

नई दिल्ली (जेएनएन)। फिलहाल भले ही भीषण गर्मी एवं लू उम्मीदवारों के पसीने छूटा रही हो, मगर रविवार को मतदान के दिन मौसम जरा मेहरबान ही रहेगा। सुबह तो गर्म होगी, मगर दिन में न तो उतनी तेज धूप ही होगी और न लू चलेगी। अनुमान है कि ऐसे में मतदान का फीसद भी बेहतर हो सकता है।

मौसम विज्ञानियों के अनुसार, शुक्रवार से दिल्ली के तापमान पर एक पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव नजर आने लगेगा। हालांकि यह पश्चिमी विक्षोभ बहुत मजबूत नहीं है। इसीलिए इसका असर जितना पहाड़ी इलाकों में होगा, उतना मैदानी क्षेत्रों में तो नहीं होगा। तब भी शुक्रवार को जहां आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे, वहीं शनिवार को हल्की बारिश भी हो सकती है। इसके परिणामस्वरूप तापमान में भी हल्की गिरावट आएगी।

यह भी पढ़ें: MCD Polls: हवाला की तर्ज पर शराब बांटने की तैयारी, जितना बड़ा नोट, उतना बड़ा ब्रांड

मौसम विज्ञानी बताते हैं कि चूंकि पहाड़ी इलाकों के बदले मौसम का असर भी राजधानी पर पड़ता है, इसलिए अगले दो-तीन दिन कम से कम इतनी गर्मी तो नहीं ही रहेगी। मौसम विभाग की मानें तो रविवार को सुबह का तापमान 27 डिग्री सेल्सियस, जबकि दिन का 40 डिग्री सेल्सियस के लगभग रहने की संभावना है। ऐसे में लू चलने के भी आसार नहीं हैं। मतलब, गर्मी के तेवर अपेक्षाकृत हल्के ही रहेंगे। इसलिए उम्मीद की जा सकती है कि मौसम मतदाताओं को मतदान केंद्र पहुंचने से रोकेगा नहीं, बल्कि प्रोत्साहित करेगा।

यह भी पढ़ें: MCD Election 2017: मतदान के दिन सुबह 4 बजे से चलने लगेगी मेट्रो



 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:ncr Weather will be favorable on sunday voting percentage may increase(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

दिल्ली MCD चुनाव : EC के निर्देश पर दो दिन तक बंद रहेंगे शराब के ठेकेमुस्लिम महिलाओं पर भाजपा डाल रही डोर, तीन तलाक को बनाया हथियार
यह भी देखें