PreviousNext

मुस्लिम महिलाओं पर भाजपा डाल रही डोर, तीन तलाक को बनाया हथियार

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 10:55 AM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 05:04 PM (IST)
मुस्लिम महिलाओं पर भाजपा डाल रही डोर, तीन तलाक को बनाया हथियारमुस्लिम महिलाओं पर भाजपा डाल रही डोर, तीन तलाक को बनाया हथियार
इसलिए BjP निगम चुनाव में तीन तलाक के मुद्दे को उठाकर भाजपा मुस्लिम महिलाओं को अपने साथ जोडऩे की कोशिश कर रही है।

नई दिल्ली [ जेएनएन ] । दिल्‍ली नगर निगम चुनाव में भाजपा की नजर मुस्लिम महिला मतदाताओं पर टिकी है। पार्टी इस फ‍िराक में है कि तीन तलाक के विरोध से वह उन महिलाओं तक पहुंचने में कामयाब होगी, जो इस प्रथा की विरोधी हैं।

इसलिए वह निगम चुनाव में तीन तलाक के मुद्दे को उठाकर भाजपा मुस्लिम महिलाओं को अपने साथ जोडऩे की कोशिश कर रही है।

इसी कड़ी में केंद्रीय खेल राज्य मंत्री विजय गोयल ने मुस्लिम महिलाओं के साथ एक रैली निकाली। तुर्कमान गेट से शुरू हुई रैली में महिलाएं तीन तलाक के खिलाफ नारे लगा रही थीं।

यह भी पढ़ेंः मनोज तिवारी का केजरीवाल पर हमला- उनकी 56 ईंच की जीभ जो चाहे बोलें 

गोयल ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दूरगामी सोच एवं विकास के मॉडल को हर तबके के लोगों ने सराहा है। तीन तलाक के मुद्दे पर भाजपा के रुख का मुस्लिम महिलाओं ने जोरदार स्वागत किया है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुस्लिम बहनों ने भाजपा का समर्थन देकर उस झूठ को नकारा जो कहता था कि मुस्लिम वर्ग कभी भाजपा को वोट नहीं दे सकता।

यह भी पढ़ेंः जानें क्यों टेलीविजन कार्यक्रम में फफक-फफककर रोने लगे मनोज तिवारी 

भाजपा महिला सशक्तिकरण और सामाजिक सुधार के लिए प्रतिबद्ध हैं। भाजपा सबका साथ सबका विकास के मंत्र को मानती है। मुस्लिम वेलफेयर मंच के महासचिव यासिर जिलानी ने कहा मोदी  मुस्लमानों के सच्चे शुभचिंतक हैं और उनके नेतृत्व में ही सकारात्मक परिवर्तन आएगा।

MCD चुनाव से जुड़ी खबरों के लिए क्लिक करें

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:ncr The BJP is trying to connect Muslim women with them in MCD election(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

MCD Election: रविवार को मौसम रहेगा मेहरबान, बढ़ सकता है मतदानMCD चुनाव: 'आप' विधायक राजेश ऋषि का दावा, तीनों निगमों में मिलेगी सत्ता
यह भी देखें