नजरिया

चिंता का विषय

Posted on:Mon, 12 Jun 2017 03:41 AM (IST)
        

सरकार के संदेश ऊपर से नीचे की और चलते हैं और यदि अफसरशाही की लगाम नहीं कसी जाती तो उसकी चाल बदलना मुश्किल होता है।और पढ़ें »

कर बढ़ाने के पहले सोचें

Posted on:Mon, 12 Jun 2017 02:22 AM (IST)
        

बिजली पर निगम कर बढ़ाकर प्रदेश सरकार भले ही वित्तीय स्थिति मजबूत कर ले, लेकिन इससे प्रदेश के लोग कतई खुश नहीं होंगे।और पढ़ें »

एक जरूरी कदम

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 01:19 AM (IST)
        

सरकार और रिजर्व बैंक को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि कर्ज लेने और लौटाने की पूरी प्रक्रिया पारदर्शी होने के साथ ही जवाबदेही वाली हो।और पढ़ें »

सशक्त होती आधी आबादी

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 04:05 AM (IST)
        

राज्य के तमाम निकायों के चुनाव में जिस तरह महिलाओं का दबदबा सामने आया, वह साफ संकेत है कि महिलाएं सशक्त हो रही हैं।और पढ़ें »

अफवाहों की चुनौती

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 03:57 AM (IST)
        

पूरा देश इस चुनौती का सामना कर रहा है। झारखंड भी। चुनौती है अफवाहों की। इसमें सबसे बड़ी भूमिका निभा रहा है सोशल मीडिया।और पढ़ें »

माकपा में बदलाव

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 03:52 AM (IST)
        

माकपा खुद को सांगठनिक स्तर पर मजबूत करने का प्रयास कर रही है। इस बाबत सांगठनिक ढांचे में भी बदलाव किया जा रहा है।और पढ़ें »

विस्तारीकरण जरूरी

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 03:47 AM (IST)
        

जम्मू एयरपोर्ट पर इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट के रन वे पर उतरते समय उसके चारों टायरों के फट जाने की घटना गहन चिंता का विषय है।और पढ़ें »

चेतने का समय

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 03:42 AM (IST)
        

यह पुलिस की अकर्मण्यता का ही परिणाम है कि अपराधी बेलगाम होते जा रहे हैं और लोगों को इंसाफ के लिए स्वयं कानून हाथ में लेना पड़ा।और पढ़ें »

सेना में हिमाचली अफसर

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 03:38 AM (IST)
        

एक छोटा प्रदेश होने के बावजूद अब तक चार बहादुर सैनिकों को सेना के सर्वोच्च सम्मान परमवीर चक्र से नवाजा गया है।और पढ़ें »

केंद्रीय मदद का सदुपयोग

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 03:34 AM (IST)
        

राज्य के अवस्थापना विकास को रफ्तार देने के लिए एक बार फिर केंद्रपोषित और बाह्य सहायतित योजनाओं से उम्मीदें बांधी गई हैं।और पढ़ें »

जरूरी है सख्ती

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 03:19 AM (IST)
        

दिल्ली के कई इलाकों में सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है। न तो नियमित कूड़ा उठाया जाता है और न ही नालों की सफाई होती है।और पढ़ें »

हादसे के सबक

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 02:43 AM (IST)
        

बरेली बस हादसे में 24 यात्रियों के जिंदा जल जाने के बाद परिवहन विभाग की नींद टूटी है।और पढ़ें »

रिश्तों पर नजर

Posted on:Sun, 11 Jun 2017 01:24 AM (IST)
        

हरित प्रदेश में यह क्या हो रहा है? कहीं जमीन व कहीं मामूली सी कहासुनी व लेनदेन में एक-दूसरे की जान लेने में जुटे हैं।और पढ़ें »

अशांत पहाड़

Posted on:Sat, 10 Jun 2017 04:45 AM (IST)
        

पहाड़ में गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (गोजमुमो) के आंदोलन ने उस वक्त उग्र रूप धारण कर लिया जब ममता बनर्जी अपने मंत्रियों के पूरे कुनबे के साथ दार्जिलिंग में मौजूद थीं।और पढ़ें »

विकास की लौ

Posted on:Sat, 10 Jun 2017 04:43 AM (IST)
        

पहाड़ी प्रदेश हिमाचल ने अस्तित्व में आने के बाद न केवल हर क्षेत्र में विकास के आयाम छुए हैं बल्कि लोगों के जीवन को सरल बनाने की दिशा में भी सरकारें प्रयासरत रही हैं।और पढ़ें »

हड़ताल खत्म करे सरकार

Posted on:Sat, 10 Jun 2017 04:40 AM (IST)
        

पिछले एक साल से वेतन न मिलने के विरोध में फीमेल मल्टीपर्पज वर्कर्स के समर्थन में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों का हड़ताल पर जाना स्वभाविक है।और पढ़ें »

अतिरिक्त सतर्कता जरूरी

Posted on:Sat, 10 Jun 2017 04:38 AM (IST)
        

पंजाब में एक-एक कर आतंकियों के पकड़े जाने से यह बात साफ हो जाती है कि प्रदेश को अशांत करने के प्रयास अब भी जारी हैं।और पढ़ें »

शैक्षणिक सुधार की पहल

Posted on:Sat, 10 Jun 2017 04:36 AM (IST)
        

इस बार भी जैक बोर्ड के मैटिक और इंटर के खराब रिजल्ट को देखते हुए यह जरूरी हो गया है कि शिक्षा प्रणाली में अब गुणात्मक सुधार हो।और पढ़ें »

कुप्रथाओं का खात्मा

Posted on:Sat, 10 Jun 2017 04:33 AM (IST)
        

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की इस घोषणा का स्वागत और समर्थन किया जाना चाहिए कि अक्टूबर से राज्य में दहेज और बाल विवाह के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। और पढ़ें »

गैर जिम्मेदार तंत्र

Posted on:Sat, 10 Jun 2017 04:30 AM (IST)
        

उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून में पढ़ाई कर रहे दानिश को भले ही अपनी गलती एहसास समय रहते हो गया और वह समाज की मुख्य धारा में लौट आया है।और पढ़ें »

    यह भी देखें