PreviousNext

प्रद्युम्न के शरीर पर मिले बाल भी खोल सकते हैं हत्‍या के राज, जांच टीम ने सहेजा

Publish Date:Tue, 12 Sep 2017 11:51 AM (IST) | Updated Date:Sat, 16 Sep 2017 11:20 AM (IST)
प्रद्युम्न के शरीर पर मिले बाल भी खोल सकते हैं हत्‍या के राज, जांच टीम ने सहेजाप्रद्युम्न के शरीर पर मिले बाल भी खोल सकते हैं हत्‍या के राज, जांच टीम ने सहेजा
प्रद्युम्न के शरीर पर मिला बाल भी आरोपी को सलाखों के पीछे भेजने में मददगार हो सकता है। शरीर पर मिले बाल को भी जांच का हिस्सा बनाया गया है।

गुरुग्राम [ महावीर यादव ] । मासूम प्रद्युम्न के शरीर पर मिला बाल भी आरोपी को सलाखों के पीछे भेजने में मददगार हो सकता है। शरीर पर मिले बाल को भी जांच का हिस्सा बनाया गया है। बाल के अलावा भी कई सबूत सील करके सोमवार को लैब में मधुबन भेजे गए है।

दो नमूने आरटीसी भोंडसी स्थित फोरेंसिक लैब में भेजे गए है। जांच टीम ने सोमवार को रेयान स्कूल की नर्स से भी पूछताछ की। जांच के लिए बनाई गई एसआइटी इस मामले में फूंक-फूंक कर कदम रख रही है।

यह भी पढ़ें: प्रद्युम्न हत्याकांड - जानिए, पोस्टमार्टम का सच, शोर में दब गई वो मौत की चीख

सभी सबूतों को बारीकी से जांचा परखा जा रहा है। उस समय वाशरूम में मौजूद दूसरी कक्षा के दो मासूम छात्रों को भी इसमें गवाह बनाया गया है। उन दोनों मासूमों के सोमवार को मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज कराए है।

शुक्रवार को रेयान स्कूल के वाशरूम में सात वर्षीय मासूम प्रद्युम्न की चाकू से गला रेत कर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने स्कूल बस के हेल्पर अशोक निवासी घामडौज को ही मासूम की हत्या का आरोपी बनाया।

यह भी पढ़ें:  प्रद्युम्न की हत्या में शामिल दूसरा शख्‍स कौन, सही निकला मां का शक

लोगों को पुलिस की इस जांच पर यकीन ही नही हुआ। बाद में इसकी जांच के लिए एसआइटी का गठन किया गया। जांच में प्रद्युम्न के शरीर पर एक बाल मिला। पुलिस ने इस बाल को सील करके मधुबन लैब में आरोपी के बाल से मिलान कराने के लिए भेजा है।

एसआइटी से जुड़े पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आरोपी अशोक बस में रखे चाकू को लेकर वाशरूम में धोने के लिए ले गया था। वहां जाकर वह गलत काम करने लगा। इतने में ही प्रद्युम्न वहां आ गया।

उसे देखकर उसकी नियत खराब हो गई। उसने उसको कुकर्म करने की नियत से अंदर खींच लिया। शोर मचाने पर वह घबरा गया और उसका मुंह दबाकर दूसरे हाथ में चाकू से उसका गला रेत दिया।

इस दौरान अशोक की कमीज पर खून के धब्बे लग गए जिनको उसने बाहर जाकर धो लिया। इतने में ही बाथरूम से तड़पता प्रद्युम्न बाहर आ गया।

उसी दौरान स्कूल के माली ने उस मासूम को देखा। उसने स्कूल प्रशासन को इसकी जानकारी दी। स्कूल की नर्स उसे लेकर अस्पताल गई। उस नर्स से भी आज एसआईटी की टीम ने काफी गहनता से पूछताछ की।

इस बात पर भी सवाल खड़े किए जा रहे थे कि प्रद्युम्न के जूते व जूराब कैसे निकले? इसके लिए नर्स ने बताया कि जूते व जूराब उसने बच्चे के तलवे रगडऩे के लिए निकाले थे।

आरोपी अशोक की कमीज, पैंट ,अंडरवियर व चाकू भी सबूत के तौर पर सील किए है। इनको जांच के लिए सोमवार को फोरेंसिक लैब में भेजा गया है।

पुलिस आयुक्त संदीप खिरवार ने बताया है प्रद्युम्न हत्या के मामले में जांच के किसी भी पहलु को छोड़ा नही जा रहा है। प्रद्युम्न के शरीर पर मिले बाल को जांच का हिस्सा बनाया गया है। हर पहलू से जांच करके सबूतों को एकत्रित करके आरोपी को सजा दिलाने का काम किया जा रहा है। बस चालक व माली को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया है। चालक का जो बयान मीडिया में चल रहा है वह गलत है।

यह भी पढ़ें: रेयान मामला: सुप्रीम कोर्ट का केंद्र, CBI, CBSE और हरियाणा सरकार को नोटिस

यह भी पढ़ें: रेयान मामला: बैकफुट पर हरियाणा सरकार, CM खट्टर CBI जांच को राजी

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:ncr The hair found on the body of Pradyuman can also open the secret of murder(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जानिए, प्रद्युम्न हत्याकांड में माली फैक्‍टर, जिसके सच को पुलिस मानती रही झूटजवानों से बदसुलूकी करने वाली महिला गिरफ्तार, पुलिस ने जब्त की कार
यह भी देखें