PreviousNext

डॉ. कलाम का बंगला मंत्री जी को आवंटित, AAP ने जताया एतराज

Publish Date:Thu, 29 Oct 2015 09:21 AM (IST) | Updated Date:Thu, 29 Oct 2015 10:50 AM (IST)
डॉ. कलाम का बंगला मंत्री जी को आवंटित, AAP ने जताया एतराज
केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री महेश शर्मा को पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का बंगला आवंटित किए जाने पर एक नया विवाद शुरू हो गया है।

नई दिल्ली । केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री महेश शर्मा को पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का बंगला आवंटित किए जाने पर एक नया विवाद शुरू हो गया है। डॉ. कलाम वर्ष 2007 में राष्ट्रपति पद का कार्यकाल समाप्त होने के बाद से नई दिल्ली इलाके के राजाजी मार्ग स्थित 10 नंबर बंगले में रह रहे थे। टाइप आठ का यह बंगला महेश शर्मा को दिए जाने पर आप ने सवाल उठाए हैं।

पार्टी के नेता कपिल मिश्रा ने कहा है कि शर्मा टाइप आठ के बंगले के हकदार नहीं हैं। ऐसे में डॉ. कलाम के बंगले को किसी को आवंटित करने के बजाय नॉलेज सेंटर में तब्दील कर उसको आम जनता के लिए खोल दिया जाना चाहिए। बताया जाता है कि महेश शर्मा को सात त्यागराज मार्ग स्थित बंगला आवंटित किया गया था, लेकिन वे वहां नहीं जा सके थे, क्योंकि इसे अभी खाली नहीं किया गया था।

सीपीडब्ल्यूडी के अधिकारियों का कहना है कि नियमों के मुताबिक टाइप आठ के बंगले कैबिनेट मिनिस्टर को ही आवंटित किए जाते हैं। अधिकारियों के अनुसार पहली बार सांसद व राज्यमंत्री बनने वाले को ऐसे बंगले नहीं दिए जाते। हालांकि, शर्मा इस बंगले का आवंटन किए जाने से बेहद खुश हैं।

मालूम हो कि महेश शर्मा द्वारा दिल्ली की औरंगजेब रोड का नाम पूर्व राष्ट्रपति डॉ. अब्दुल कलाम के नाम पर रखे जाने के बयान पर भी विवाद हो चुका है। तब शर्मा ने कहा था कि औरंगजेब रोड का नाम बदलकर उस महापुरुष के नाम पर रखा जाए, जो मुसलमान होते हुए भी बहुत बड़ा राष्ट्रवादी और मानवतावादी इंसान था। बाद में औरंगजेब रोड का नाम बदलकर एपीजे कलाम रोड कर दिया गया।

डॉ. कलाम के घर भेजा जाएगा सामान
डॉ. कलाम के बंगले को 31 अक्टूबर तक खाली किया जाएगा। बंगले में मौजूद उनके सामान में शामिल किताबों और उनकी वीणा को उनके गृह नगर रामेश्वरम ले जाया जाएगा।

स्मारक बनाने की नीति नहीं
किसी सरकारी बंगले को स्मारक या नॉलेज सेंटर बनाए जाने की मांग को लेकर जानकार बताते हैं कि लुटियन जोन स्थिति सरकारी बंगलों को स्मारक का रूप नहीं देने की सरकार की नीति रही है। इससे पहले भी राष्ट्रीय लोक दल के नेता अजित सिंह ने तुगलक रोड स्थिति उनके बंगले को चौधरी चरण सिंह का स्मारक घोषित करने की मांग की थी, जिसे सरकार ने स्वीकार नहीं किया था।

बंगले की खासियत

- यह बंग्ला राजाजी मार्ग पर स्थिति है।

- इसका कुल क्षेत्रफल 7 हजार 367 वर्गमीटर है, इसमें 1,094 वर्गमीटर में बंगला बना हुआ है, बाकी खुली जगह है।

- यह बंगला एडविन लुटियंस ने खुद अपने लिए बनाया था।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Dr. Kalam's bungalow allotted to the Minister, AAP object(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

केरला हाउस में मेन्यू में फिर शामिल हुआ भैंसे का मीट, 45 मिनट में चटदिल्ली HC: भारत मे facebook व व्हाट्स एप के भविष्य का फैसला हम करेंगे
यह भी देखें