PreviousNext

होटल से गायब महेंद्र सिंह धौनी के तीनों मोबाइल फोन मिले

Publish Date:Sun, 19 Mar 2017 09:07 PM (IST) | Updated Date:Sun, 19 Mar 2017 09:33 PM (IST)
होटल से गायब महेंद्र सिंह धौनी के तीनों मोबाइल फोन मिलेहोटल से गायब महेंद्र सिंह धौनी के तीनों मोबाइल फोन मिले
पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के गायब हुए तीनों मोबाइल फोन पुलिस ने बरामद कर लिए हैं।

नई दिल्ली। द्वारका के फाइव स्टार होटल वेलकम से पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के गायब हुए तीनों मोबाइल फोन पुलिस ने बरामद कर लिए हैं। होटल में आग लगने के बाद एक दमकल कर्मी धौनी के कमरे से फोन लेकर चला गया था। इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

जिला पुलिस उपायुक्त सुरेंद्र कुमार ने बताया कि शुक्रवार सुबह वेलकम होटल परिसर स्थित मॉल में आग लग गयी थी। विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड टीम की अगुआई कर रहे धौनी होटल के रूम नंबर 937 में ठहरे हुए थे। होटलकर्मी आकाश हंस ने धौनी को होटल में आग लगने की जानकारी दी और उन्हें सुरक्षित बाहर निकाला। वहां से निकलने के बाद धौनी वसंतकुंज चले गये।
दोपहर में धौनी का ट्रैवल मैनेजर संदीप फोगट और असिस्टेंट विकास उनका सामान लेने होटल पहुंचे। जहां पता चला कि धौनी का आइ फोन 6 प्लस, रिलायंस लाइफ और लावा फोन गायब हैं। विकास ने इसकी जानकारी धौनी को दी। उसके बाद धौनी ने द्वारका साउथ थाने में अपने फोन के गायब होने के बाबत शिकायत दर्ज करवायी। पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। 
जांच के दौरान पुलिस ने होटल में लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला। जिसमें पता चला कि आग लगने के बाद धौनी के कमरे में तीन दमकलकर्मी गए थे। पुलिस ने तीनों  से संपर्क किया। कीर्ति नगर स्थित अग्निशमन केंद्र में तैनात फूल कुमार ने बताया कि उसके पास धौनी के तीनों फोन हैं। पुलिस ने बताया कि फूल कुमार ने चोरी की नीयत से फोन नहीं लिए थे। बल्कि आग लगने के बाद कमरों की जांच के दौरान फोन उठाए थे। उसे इस बात की जानकारी नहीं थी कि फोन क्रिकेटर धौनी के हैं। 
अभी धौनी को नहीं सौंपे गए फोन
पुलिस उपायुक्त सुरेंद्र कुमार ने बताया कि तीनों फोन पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिए हैं। कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही धौनी को फोन दिए जाएंगे। वहीं, सूत्रों के मुताबिक पुलिस इस बात का भी पता लगा रही है कि फोन के डाटा के साथ तो छेड़छाड़ नहीं की गई है। अगर इस तरह की बात सामने आती है तो संबंधित व्यक्ति पर कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।
पुलिस की थ्योरी नहीं उतर रही गले
अगर आग से बचाव के लिए फोन फायरकर्मी लेकर गया था तो उसने उसी समय पुलिस को क्यों नहीं सौंपे। घटना के दो दिन बाद पुलिस के सतर्क होने के बाद वह फोन देने क्यों आया। ऐसे में संबंधित फायरकर्मी की नीयत पर सवाल उठना लाजिमी है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Mahendra Singh Dhonis three mobile phones are available(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

बीसीसीआइ ने लिया बड़ा फैसला, मुंबई से छीनी पूर्ण सदस्यतारांची टेस्ट जीत सकती है टीम इंडिया, अब गेंदबाजों पर सारा दारोमदार
यह भी देखें