PreviousNext

म्युचुअल फंड में कीजिए निवेश, यह है सबसे सस्ता और आसान रास्ता

Publish Date:Fri, 17 Mar 2017 05:24 PM (IST) | Updated Date:Fri, 17 Mar 2017 05:40 PM (IST)
म्युचुअल फंड में कीजिए निवेश, यह है सबसे सस्ता और आसान रास्ताम्युचुअल फंड में कीजिए निवेश, यह है सबसे सस्ता और आसान रास्ता
जानिए कैसे आसानी से म्युचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं

नई दिल्ली। आज के व्यस्ततम माहौल में अधिकांश वित्तीय लेन-देन ऑनलाइन माध्यम से किए जाते हैं, फिर वो चाहे अपने माता-पिता को पैसे भेजना हो या फिर फिल्म की टिकट बुक करानी हो अब सब कुछ बस इंटरनेट की एक क्लिक पर आ गया है। हालांकि जब बात निवेश की आती है तब अधिकांश लोग एजेंट के जरिए वाला परंपरागत रास्ता ही अपनाना पसंद करते हैं। हम इस खबर के माध्यम से आपको बताने की कोशिश करेंगे कि आप कितनी आसानी से म्युचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं।

एसेट मैनेजमेंट कंपनी (एएमसी) वेबसाइट:

ज्यादातर फंड कंपनियां म्युचुअल फंडों में ऑनलाइन लेनदेन करने की सुविधा प्रदान करती हैं। आपको सबसे पहले वेबसाइट से स्कीम फॉर्म डाउनलोड करना होगा, आरंभिक जांच के साथ अपनी डिटेल भरनी होगी, पेन कार्ड (पर्मानेंट अकाउंट नंबर) की फोटो कॉपी और केवाईसी (नो योर कस्टमर) लेटर जमा कराना होगा। ऑनलाइन लेनदेन के लिए आपको व्यक्तिगत पहचान संख्या (पिन) के लिए भी आवेदन करना होगा। एक बार जब आपको पिन के साथ एक फोलियो नंबर सौंप दिया जाता है, आप फोलियो में आने वाले सभी लेन-देन अपने बैंक अकाउंट के जरिए ऑनलाइन माध्यम से कर पाएंगे। हालांकि, अगर आप अन्य फंड हाउसों में भी निवेश करना चाहते हैं, तो आपको पूरी प्रक्रिया में फिर से जाना होगा। यह निवेशकों के लिए सबसे आसान रास्ता है क्योंकि यह सुविधा पूरी तरह से मुफ्त है। जैसे कि एचडीएफसी फंड, डीएसपी ब्लैक रॉक, आईसीआईसीआई प्रू एमसी आदि।

ब्रोकर: आज के समय में बड़े ब्रोकर एनएसई या बीएसई म्युचुअल फंड एक्सचेंज प्लेटफॉर्म से जुड़े हुए हैं। आपको बस इतना करना होगा कि आपको ब्रोकर के ऑनलाइन ट्रेडिंग टर्मिनल पर जाकर लॉग ऑन करना होगा और पोर्टल पर उपलब्ध योजनाओं की सूची से अपनी पसंद की योजना का चयन करना होगा। यूनिट को सीधे आपके डीमेट अकाउंट में जमा कर दिया जाएगा। आप अपनी इच्छा के मुताबिक एसआईपी-SIP (सिस्टेमैटिक इनवेस्टमेंट प्लान) या एकमुश्त निवेश कर सकते हैं। इसके लिए लिया जाने वाला शुल्क बेहद मामूली होता है, हालांकि यह ब्रोकर के हिसाब से अलग-अलग होता है। उदाहरण के तौर पर अगर आप आईसीआईसीआई के जरिए 8 लाख के नीचे का निवेश सिप के माध्यम से करते हैं तो यह शुल्क सिप अमाउंट का 1.5 फीसद या 30 रुपए होता है। वहीं इसी राशि में अगर आप एकमुश्त निवेश करते हैं तो आपसे 100 रुपए का शुल्क लिया जाएगा।

उन लोगों के लिए जिनके पास डीमेट अकाउंट नहीं है, वो अगर ब्रोकर के साथ जुड़ते हैं तो उनसे अलग अलग तरह के शुल्क लिए जाते हैं, जैसे कि खाता खोलने के लिए 250-750 रुपए का शुल्क वसूला जाएगा और सालाना मेंटिनेंस चार्ज 300 से 550 रुपए होगा। कई ऑनलाइन ब्रोकरेज आपको आपके निवेश खाते के साथ मौजूदा म्यूचुअल फंड (म्यूचुअल फंड) निवेशों को मैप करने की भी अनुमति देते हैं।

स्वतंत्र पोर्टल: बाजार में काफी सारे इंडिपेंटेंड यानी स्वतंत्र पोर्टल हैं जैसे कि फंड्सइंडिया और फंड्सुपरमार्ट, ये दोनों ही साल 2009 में अस्तित्व में आए, जो कि म्युचुअल फंड निवेशकों को बिना किसी शुल्क के साथ खरीद और बिक्री की सुविधा उपलब्ध करवाते हैं। इसके लिए आपको इनके साथ अकाउंट खोलना होगा, ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा, आपको इस प्री-फिल्ड ऑनलाइन फॉर्म का प्रिंट आउट लेना होगा, इस पर साइन करने होंगे और इसमें अपने पैन नंबर और केवाईसी एकनॉलेजमेंट की एक कॉरी नत्थी कर इसे इन्हें (पोर्टल को) भेजना होगा। एक बार यह प्रक्रिया हो जाने के बाद आप करीब 41 फंड हाउस से म्युचुअल फंड की खरीद कर पाएंगे। निर्बाध ऑनलाइन पेमेंट के लिए इन पोर्टलस का दिग्गज बैंकों के साथ टाईअप (करार) है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Know the easiest way to Invest in mutual funds(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

बदले नियम, जानिए ग्रेच्युटी बेनिफिट से जुड़ी पांच बड़ी बातेंसिप में निवेश करके भी आप बन सकते हैं करोड़पति जानिए
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »