जीएसटी पर जानिये सब कुछ

एक्सपर्ट से पूछें जीएसटी से संबंधित अपने सवाल...

Click here +
और पढ़ें »

आपके सवालों के जवाब

  • मैंने जीएसटी में माईग्रेशन की प्रक्रिया तो पूरी कर ली है लेकिन मुझे अभी तक रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट नहीं मिला है। मुझे क्या करना होगा?

    अगर आपने माईग्रेशन प्रक्रिया पूरी कर ली है और आपको एआरएन नंबर जनरेट हो गया है तो आप 27 जून के बाद जीएसटी कॉमन पोर्टल पर डाउनलोड सर्टिफिकेट पर जाकर देखें वहां से प्रोविजनल सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते हैं।

    यह सवाल सीए मनोज पी गुप्ता के साथ हुई बातचीत पर आधारित हैं।

  • मैंने अभी तक जीएसटी में अपना वैट नंबर माइग्रेट नहीं करवाया है। 1 जुलाई से मैं किस तरह से व्यापार कर सकूंगा?

    यदि आपने अभी तक जीएसटी में अपना वैट नंबर माइग्रेट नहीं करवाया है तो भी घबराने की कोई बात नहीं है। माइग्रेशन प्रक्रिया फिर से 25 जून से चालू होगी और फिर अगले 3 महीने तक चलती रहेगी। माईग्रेशन के वक्त आपको प्रोविजनल आईडी जारी किया जाएगा। वो ही आपका जीएसटीआईएन नंबर रहेगा। इस नंबर का इस्तेमाल करके आप बिल जारी कर सकते हैं।

    यह सवाल सीए मनोज पी गुप्ता के साथ हुई बातचीत पर आधारित हैं।

  • जीएसटी में 30, जून को शेष रही वैट की इनपुट टैक्स रिबेट लेने के लिए क्या हमें वित्तीय वर्ष 2015-16 का वैट का असेसमेंट करना होगा?

    30 जून को शेष रही वैट की इनपुट टैक्स रिबेट को जीएसटी में आगे ले जाया सकता है। इसके लिए आपको पिछले 6 माह का टैक्स और रिटर्न जमा कराना होगा। आगे ले जाई जा रही इनपुट टैक्स रिबेट की रकम की जानकारी जुलाई 1 से 90 दिनों के अंतर टीआरएनएस-1 फॉर्म में इलेक्ट्रॉनिक मोड से जीएसटी के कॉमन पोर्टल पर देना होगी। इसी के साथ अप्रैल 15 से जून 17 की अवधि में उपयोग किए गए सी/एफ/एच/ई-1/ई2 फॉर्म की जानकारी भी देना होगी तभी इनपुट टैक्स रिबेट आगे ले जाई जा सकेगी। इनपुट टैक्स रिबेट के लिए वित्तीय वर्ष 2015-16 के वैट का असेसमेंट कराए जाने की आवश्यकता नहीं है।

    यह सवाल सीए मनोज पी गुप्ता के साथ हुई बातचीत पर आधारित हैं।

  • ब्रांडेड और नॉन-ब्रांडेड हैंड मेड वुडेन फर्नीचर पर टैक्स स्लैब क्या अलग-अलग है? अगर एक है तो क्यों है?

    वस्तु एवं सेवाकर के अंतर्गत ब्रांडेड और गैर-ब्रांडेड लकड़ी के फर्नीचरों पर समान दर से कर लगाए जाने का विचार है।

    सवाल आपके जवाब जागरण के। यह सवाल जवाब जीडी लोहानी,कमिश्नर, सेंट्रल एक्साइज, सीबीईसी से हुई बातचीत पर आधारित हैं।

  • जीएसटी के बाद टैक्स फ्री स्टॉक का रिफंड मिलेगा या नहीं?

    प्रश्न: मैं जानना चाहता हूं कि किसी व्यापारी द्वारा किसी ऐसे उत्पाद का स्टॉक किया गया है जिस पर वैट तो है पर जीएसटी में उसे कर मुक्त रखा गया है, इस स्थिति में व्यापारी द्वारा भुगतान किए गए कर का रिफंड हो सकेगा या नहीं?

    उत्तर: अगर किसी व्यापारी की ओर से किसी ऐसे उत्पाद का स्टॉक किया गया है जिस पर वैट तो है पर जीएसटी में उसे कर मुक्त रखा गया है तो ऐसी स्थिति में व्यापारी की ओर से भुगतान किए गए टैक्स का रिफंड हो नहीं होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि रिफंड के लिए आप पात्र नहीं होंगे।

    सवाल आपके जवाब जागरण के। यह सवाल जवाब जीडी लोहानी,कमिश्नर, सेंट्रल एक्साइज, सीबीईसी से हुई बातचीत पर आधारित हैं।

और पढ़ें »
यह भी देखें