PreviousNext

विमानन करार के लिए महिंद्रा ऐंड महिंद्रा के साथ वार्ता कर रहा है रूस

Publish Date:Sat, 18 Mar 2017 10:50 AM (IST) | Updated Date:Sat, 18 Mar 2017 11:58 AM (IST)
विमानन करार के लिए महिंद्रा ऐंड महिंद्रा के साथ वार्ता कर रहा है रूसविमानन करार के लिए महिंद्रा ऐंड महिंद्रा के साथ वार्ता कर रहा है रूस
रूस अपने आधुनिक सुखोई सुपर जेट के लिए कलपुर्जा उत्पादन के स्थानीयकरण को लेकर पूरी तरह से तैयार है इसके लिए वो महिंद्रा एंड महिंद्रा से बातचीत कर रहा है।

नई दिल्ली: रूस अपने आधुनिक सुखोई सुपर जेट के लिए कलपुर्जा उत्पादन के स्थानीयकरण को लेकर पूरी तरह से तैयार है। रूस के व्यापार और उद्योग मंत्री डेनिस मान्तुरोव ने शुक्रवार को बताया कि रूस एमसी21 नागर विमानन विमान के लिए भागीदारी को महिंद्रा एंड महिंद्रा से बातचीत कर रहा है।

ईईपीसी इंडिया की ओर से आयोजित अंतर्राष्ट्रीय इंजीनियरिंग सोर्सिंग शो (आईईएसएस) में मान्तुरोव ने कहा, “हमारे पास मॉर्डन एयरक्राफ्ट का एक बेहतर नमूना है, सुखोई सुपर जेट प्रोडक्ट। हम दोनों तरह से इसके लिए तैयार हैं, भारतीय बाजार में इसके निर्यात के लिए और इसके कुछ कंपोनेंट प्रोडक्शन के स्थानीयकरण के लिए भी। हम एक अन्य सिविल एविएशन प्रोजक्ट पर काम कर रहे हैं, एमसी21 एयरक्राफ्ट, जिसकी पहली उड़ान जल्द ही आयोजित की जाएगी और हम भारतीय एयरोस्पेस कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा के साथ बातचीत कर रहे हैं।”

उन्होंने बताया कि महिंद्रा की अनुषंगी सुखोई सुपर जेट के इंटीरियर्स का विनिर्माण कर रही है। मंत्री ने कहा, “मेरा मानना है कि वे एमसी21 परियोजना का भी हिस्सा हो सकते हैं। इसमे कलपुर्जों का विनिर्माण और विमान का इंटीरियर्स दोनों शामिल है।

मान्तुरोव ने भारत की वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री निर्मला सीतारमण से अंतर्राष्ट्रीय इंजीनियरिंग सोर्सिंग शो (आईईएसएस) में द्विपक्षीय वार्ता के दौरान कहा कि वो भारत के रक्षा क्षेत्र से जुड़े रहे हैं और रूस देश के नागरिक उड्डयन के साथ भी जुड़ने के लिए उत्सुक है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Russia In Talks With Mahindra and Mahindra To Scale Up Aviation Tie Up(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

11.35 लाख करोड़ के अतिरिक्त खर्चे के लिए सरकार ने मांगी सदन से मंजूरीउत्तर प्रदेश में शहरी ढांचे के विकास के लिए मंजूर हुए 4,239 करोड़ रुपये, तेंलगाना और तमिलनाडु को भी सौगात
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »