PreviousNext

प्री बजट रैली: शेयर बाजार में लगातार चौथे दिन बढ़त, सेंसेक्स 174 अंक चढ़कर बंद

Publish Date:Fri, 27 Jan 2017 03:51 PM (IST) | Updated Date:Fri, 27 Jan 2017 05:56 PM (IST)
प्री बजट रैली: शेयर बाजार में लगातार चौथे दिन बढ़त, सेंसेक्स 174 अंक चढ़कर बंदप्री बजट रैली: शेयर बाजार में लगातार चौथे दिन बढ़त, सेंसेक्स 174 अंक चढ़कर बंद
सेंसेक्स 174.32 अंकों की तेजी के साथ 27,882.46 के स्तर पर और निफ्टी 38.50 अंकों की तेजी के साथ 8641.25 के स्तर पर बंद हुआ है

नई दिल्ली। लगातार चौथे दिन भी शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुए हैं। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 174.32 अंकों की तेजी के साथ 27,882.46 के स्तर पर और निफ्टी 38.50 अंकों की तेजी के साथ 8641.25 के स्तर पर बंद हुआ है। दोंनों सूचकांक में आधे फीसदी की तेजी देखने को मिल रही है। आम बजट से ठीक एक हफ्ते पहले शेयर बाजर में तेजी देखने को मिली है।

सबसे ज्यादा तेजी बैंकिंग क्षेत्र में
सेक्टोरियल इंडेक्स की बात करें तो एफएमसीजी (1.84 फीसदी) और रियल्टी (0.60 फीसदी) को छोड़ सभी सूचकांक हरे निशान में कारोबार कर बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा तेजी बैंकिंग क्षेत्र में देखने को मिल रही है। ऑटो (0.47 फीसदी), फाइनेंशियल सर्विस (1.62 फीसदी), आईटी (0.17 फीसदी), मेटल (0.02 फीसदी) और फार्मा (0.33 फीसदी) की बढ़त देखने को मिली है। वहीं, नैशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप (0.87 फीसदी) और स्मॉलकैप (0.77 फीसदी) की तेजी हुई है।

5.50 फीसदी तक उछला भेल का शेयर
दिग्गज शेयर्स की बात करें तो निफ्टी में शुमार शेयर्स में से 32 हरे निशान में और 18 गिरावट के साथ कारोबार कर बंद हुए हैं। सबसे ज्यादा तेजी भेल (5.50 फीसदी), भारतीएयरटेल (5.03 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (4.50 फीसदी), बैंक ऑफ बड़ौदा (3.58 फीसदी) और एनटीपीसी (3.44 फीसदी) के शेयर्स में देखने को मिली है। वहीं, गिरावट आईटीसी (2.94 फीसदी), बॉश लिमिटेड (2.24 फीसदी), ल्यूपिन (1.76 फीसदी), विप्रो (1.61 फीसदी) और टाटा मोटर्स (1.57 फीसदी) के शेयर्स में देखने को मिली है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:in pre budget rally share market closes green straight fourth day in a row(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

तीसरी तिमाही में HDFC बैंक के कर्मचारियों की संख्या 4500 कम हुई, ऑटोमेशन रही बड़ी वजहमारुति की कार 8000 रुपये तक महंगी हुईं, कंपनी ने पांच महीने बाद फिर बढ़ाए दाम
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »