PreviousNext

बीजेपी की चुनावी जीत के बाद एफपीआई ने दिखाया जोश, मार्च महीने में किया 3.4 बिलियन डॉलर का निवेश

Publish Date:Sun, 19 Mar 2017 01:48 PM (IST) | Updated Date:Mon, 20 Mar 2017 09:52 AM (IST)
बीजेपी की चुनावी जीत के बाद एफपीआई ने दिखाया जोश, मार्च महीने में किया 3.4 बिलियन डॉलर का निवेशबीजेपी की चुनावी जीत के बाद एफपीआई ने दिखाया जोश, मार्च महीने में किया 3.4 बिलियन डॉलर का निवेश
एफपीआई ने इस साल मार्च महीने में अब तक 3.4 बिलियन डॉलर की पूंजी शेयर बाजार में निवेश की है।

नई दिल्ली: फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स (एफपीआई) ने इस साल मार्च महीने में अब तक 3.4 बिलियन डॉलर (22,074 करोड़ रुपए) की पूंजी शेयर बाजार में निवेश की है। पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी की बड़ी जीत के बाद से एफपीआई की यह उम्मीद तेज हो गई है कि सरकार जल्द ही बोल्ड रिफॉर्म पॉलिसी ला सकती है।

लगातार दूसरे महीने एफपीआई ने दिखाया जोश

आपको बता दें कि यह लगातार दूसरा महीना है जब एफपीआई ने बाजार में भरोसा जताया है। इससे पहले फरवरी में उन्होंने इक्विटी और डेट मार्केट में 15,862 करोड़ रुपए निवेश किए थे। हालांकि इसके पहले, एफपीआई ने अक्टूबर से जनवरी की अवधि के दौरान कुल 80,000 करोड़ रुपए मार्केट से खींच लिए थे।

डिपॉजिटरी डेटा के मुताबिक, एफपीआई ने 1 से 17 मार्च के बीच इक्विटी में कुल 17,124 करोड़ रुपए और डेट मार्केट में 4,950 करोड़ रुपए लगाए हैं। इस तरह से अगर कंबाइन्ड इनफ्लो की बात करें तो यह रकम 22,074 करोड़ बैठती है। यानी 3.33 बिलियन डॉलर।

बजाज कैपिटल के सीनियर वीपी और हेड इन्वेस्टमेंट एनालिटिक्स आलोक अग्रवाल ने बताया, “यूपी और उत्तराखंड में बीजेपी को मिली बड़ी जीत के बाद निवेशकों का मानना है कि सरकार अपनी बोल्ड रिफॉर्म पालिसी को जारी रखेगी। यूपी में भाजपा को मिली बड़ी जीत से निवेशकों का सेंटिमेंट पॉजिटिव हुआ है और इसी वजह से वो बाजार में पैसा लगा रहे हैं।”

वहीं जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के चीफ मार्केट स्ट्रैटजिस्ट आनंद जेम्स ने बताया कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की ओर से गत सप्ताह हुई बैठक में ब्याज दरों में 0.25 फीसद की बढ़ोतरी के बावजूद उनका घरेलू मार्केट में विश्वास बढ़ा है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Foreign investors pumped in more than 3 billion dollar in the capital markets(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

महंगाई पर जीएसटी के प्रभाव को परखेगा आयकर विभागसरकारी बैंकों में पूंजीगत निवेश की दूसरी किश्त के लिए सरकार ने दी मंजूरी
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »