PreviousNext

कॉग्निजैंट में छटनी का खतरा, जा सकती है 6,000 से भी ज्यादा लोगों की नौकरी

Publish Date:Mon, 20 Mar 2017 12:58 PM (IST) | Updated Date:Mon, 20 Mar 2017 01:01 PM (IST)
कॉग्निजैंट में छटनी का खतरा, जा सकती है 6,000 से भी ज्यादा लोगों की नौकरीकॉग्निजैंट में छटनी का खतरा, जा सकती है 6,000 से भी ज्यादा लोगों की नौकरी
कॉग्निजेंट करीब 6000 लोगों को नौकरी से निकाल सकती है

नई दिल्ली: अमेरिका की दिग्गज आईटी कंपनी कॉग्निजेंट में छटनी का खतरा मंडरा रहा है। जानकारी के मुताबिक कंपनी करीब 6000 लोगों को नौकरी से निकाल सकती है। छटनी का यह आंकड़ा करीब 2.3 फीसद का है। इस पूरे मामले की जानकारी रखने वालों के मुताबिक साल 2016 के लिए कर्मचारियों की वेरियेबल पेआउट पर भी असर पड़ता दिख रहा है।

टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक कंपनी में होने वाली यह छटनी आमतौर पर की जाने वाली सामान्य वार्षिक एक्सरसाइज से ज्यादा है, जिसमें कंपनी एक फीसद ऐसे कर्मचारियों की छटनी करता है जो एन्युअल अप्रेजल प्रक्रिया (जो मार्च में खत्म हो रहा है) के तहत नॉन पर्फोमिंग होते हैं। कॉग्निजेंट के मुताबिक कंपनी ने आईटी क्षेत्र में ऑटोमेटशन के चलते यह फैसला लिया है।
बीते वर्ष कंपनी ने एक से दो फीसद लोगों की छटनी की थी, जबकि उससे पहले साल एक फीसद की थी। 31 दिसंबर तक कॉग्निजेंट में वैश्विक स्तर पर 2,60,200 कर्मचारी है, जिसमें से 1,88,000 या 72 फीसद भारत में हैं।

कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा, “हमारी वर्कफोर्स मैनेजमेंट स्ट्रैटिजी के तहत हम नियमित तौर पर प्रदर्शन की समीक्षा कर यह सुनिश्चित करते हैं कि क्लायंट्स की जरूरतों को पूरा करने और बिजनेस लक्ष्य को प्राप्त करने लिए हमारे पास जरूरी स्किल है। इस प्रक्रिया में बदलाव होता है और कुछ कर्मचारी कंपनी से बाहर जाते हैं।”

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Cognizant to lay off 6000 employees(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

IDEA वोडाफोन मर्जर: कुमार मंगलम बिड़ला होंगे चेयरमैन, वोडाफोन चुनेगी सीएफओजीएसटी के सप्लीमेंट्री और कंपनसेशन बिलों को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में मिली मंजूरी
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »