PreviousNext

52 लाख रुपये के सोने की ईंट छुपाकर ले जा रहे थे तस्कर, हुए गिरफ्तार

Publish Date:Mon, 10 Apr 2017 11:04 AM (IST) | Updated Date:Mon, 10 Apr 2017 11:34 PM (IST)
52 लाख रुपये के सोने की ईंट छुपाकर ले जा रहे थे तस्कर, हुए गिरफ्तार52 लाख रुपये के सोने की ईंट छुपाकर ले जा रहे थे तस्कर, हुए गिरफ्तार
हाजीपुर में पुलिस ने दो तस्करों को 1 किलो 750 ग्राम के सोने की ईंट के साथ धर दबोचा है। बरामद सोने के ईंट की कीमत 52 लाख रुपये बताई जा रही है।

वैशाली [जेएनएन] । रविवार की सुबह वैशाली पुलिस ने लगभग 52 लाख रुपये की सोने की ईंट के साथ दो बदमाशों को धर दबोचा। बरामद सोने की वजह 1 किलो 750 ग्राम बताई गई है। पकड़े दोनों बदमाश कैरियर बताए गए है। दोनों पश्चिम बंगाल के मिदनापुर के रहने वाले बताए गए हैं।

सोने की ईंट पर बने निशान से पुलिस ने आशंका जाहिर की है कि संभवत: सोने की यह ईंट थाईलैंड या म्यांमार से तस्करी कर लाई गई थी। पुलिस ने इस मामले में कस्टम विभाग से भी संपर्क किया है। पुलिस पकड़े गए दोनों बदमाशों से पूछताछ व मोबाइल सीडीआर के सहारे उसके लोकल संपर्क को खंगालने में जुट गई है। 

इस संबंध में एसपी राकेश कुमार ने बताया कि रविवार की सुबह सूचना मिली थी कि कुछ लोग औद्योगिक थाने के डीटीओ आफिस के सामने स्थित बगीचे में किसी गैरकानूनी सामान की खरीद-फरोख्त में जुटे हुए हैं।

सेक्स रैकेट: एक लड़की, एक महिला सहित 3 लोगों को पुलिस ने रंगे हाथों पकड़ा

सूचना मिलते ही औद्योगिक थानाध्यक्ष मधुरेंद्र कुमार, वैशाली थानाध्यक्ष सुमन कुमार, सहायक अवर निरीक्षक मनोज ठाकुर, विजय कुमार, मनोज कुमार, चंद्रशेखर व पुलिस बल की टीम गठित कर छापेमारी का निर्देश दिया गया। पुलिस टीम जैसे ही डीटीओ आफिस के सामने स्थित बगीचे में पहुंची। सभी बदमाश पुलिस को देखकर भागने लगे। पुलिस ने खदेड़ कर दो बदमाशों को पकड़ लिया।

पकड़े गए बदमाशों में पश्चिम बंगाल के पश्चिमी मिदनापुर जिला के मोहनपुर थाना क्षेत्र के बोइटाबाड़ी गांव का नज्जो उर्फ नज्जो साह तथा पूर्वी मिदनापुर के पतासपुर थाना के खरई का मो. फखरुद्दीन उर्फ फकीरउद्दीन बताए गए हैं। पुलिस ने उसके पास से 1.750 ग्राम वजन के सोने की ईंट, दो मोबाइल, दो निडिल के साथ एक ड्रील मशीन व एक हथौड़ा बरामद किया है। 


काफी देर तक पुलिस को चकमा देने का किया प्रयास 

पकड़े गए दोनों बदमाशों ने काफी देर तक पुलिस टीम को चकमा देने का प्रयास किया। पुलिस ने दोनों की तलाशी के दौरान ड्रील मशीन, छेनी, हथौड़ा आदि तो बरामद कर लिया लेकिन सोने की ईंट बरामद करने में पुलिस को काफी पसीना बहाना पड़ा।

दोनों काफी देर तक पुलिस को सोना छिपा कर रखे होने की बात कह चकमा देते रहे। वे दोनों पुलिस को अपने साथ दो जगह पर भी ले गए लेकिन वहां भी सोना नहीं मिला। इस दौरान पुलिस ने दोनों की दो बार तलाशी भी लेकिन दोनों ने काफी शातिराना अंदाज में अपने पास ही सोने की ईंट को छिपाए रखा।

इसी दौरान एक बदमाश पुलिस को यह कहकर गाड़ी से नीचे उतरा कि उसे लघुशंका आई है। संभवत: वह अपने पास छिपाकर रखे गए सोने की ईंट को वहां छिपाना चाहता था। इसी दौरान पुलिस की नजर सोने की ईंट पर पड़ गई। 

बरामद मोबाइल खोलेंगे कई राज 

बदमाशों के पास से बरामद मोबाइल राजा व मुन्ना नामक व्यक्ति के बताए गए हैं। पुलिस के अनुसार इन्हीं दोनों युवकों की मदद से नज्जो व फकीरउद्दीन हाजीपुर पहुंचा था। दोनों किसी स्वर्ण व्यवसायी से सोने की ईंट बेचने वाले थे लेकिन उसके पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

एसपी राकेश कुमार ने बताया कि पकड़े गए दोनों बदमाशों से पूछताछ व बरामद मोबाइल के सीडीआर के आधार पर मुन्ना व राजा की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है। 

हुलिया बदलने के लिए विग का इस्तेमाल करते थे बदमाश 

सोने की ईंट के साथ पकड़े गए बदमाश नज्जो व फकीरउद्दीन पुलिस को चकमा देने के लिए विग के सहारे अपना हुलिया भी बदलने में माहिर हैं। पुलिस ने उसके पास से एक विग भी बरामद किया है। पुलिस के हत्थे चढ़ा नज्जो चोरी के एक मामले में मिदनापुर में जेल भी जा चुका है। 

पुलिस से कहा, समुद्र किनारे मिली सोने की ईंट 

पकड़े गए दोनों बदमाश काफी शातिर बताए गए हैं। सोने की ईंट के संबंध में पूछे जाने पर दोनों ने बताया कि बहुत पहले समुद्र में एक जहाज डूब गया था। उस जहाज पर तस्करी कर लाई जा रही सोना की बड़ी खेप थी। अक्सर समुद्र किनारे वहां के लोगों को सोने की ईंट भी मिलती है।

उन दोनों को भी समुद्र किनारे ही सोने की ईंट मिली थी। सोने की ईंट मिलने पर दोनों ने इसे बेचने के लिए पटना के कई व्यवसायियों से संपर्क किया। इसी दौरान मुन्ना व राजा से उसकी पहचान हुई। मुन्ना व राजा ने यहां के कई व्यवसायियों से उसका संपर्क कराया था। 

छोटी मछली हैं पकड़े गए बदमाश 

पुलिस की माने तो पकड़े गए दोनों बदमाश सोने की तस्करी से जुड़े अवैध कारोबार में बहुत ही छोटी मछली है। संभवत: तस्करी के अवैध कारोबार से जुड़ी बड़ी मछलियां इन दोनों का कैरियर के रूप में इस्तेमाल करते हैं। फिलहार पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस को उम्मीद है कि इस मामले में कई बड़े लोगों के नाम भी खुलकर सामने आएंगे।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Police arrested 2 smugglers with gold brick worth 52 lakh rupees(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

ऐतिहासिक स्थलों के विकास को सरकार तत्पर : अनीता देवीअंबेदकर आवासीय विद्यालय की आठ छात्राएं अस्पताल में भर्ती
यह भी देखें