फर्जी मामलों से परेशान महिला थाना

Publish Date:Tue, 18 Jul 2017 03:06 AM (IST) | Updated Date:Tue, 18 Jul 2017 03:06 AM (IST)
फर्जी मामलों से परेशान महिला थानाफर्जी मामलों से परेशान महिला थाना
एक दूसरे से बदला लेने के लिए महिला थाने में लोग दर्ज करा दे रहे केस। जांच करने पर झूठी निकलती

एक दूसरे से बदला लेने के लिए महिला थाने में लोग दर्ज करा दे रहे केस

जांच करने पर झूठी निकलती है बात

जागरण संवाददाता पटना : महिलाओं को न्याय दिलाने वाला महिला थाना फर्जी मामलों की तहकीकात करने से परेशान है। हेल्पलाइन नंबर पर कभी फर्जी काल तो कभी बदला लेने की नीयत से लोग केस दर्ज करा दे रहे हैं। मामले की जांच करने के लिए टीम माथा-पच्ची करती है तो केस फर्जी निकलता है।

दूसरी शादी में बदली हत्या की बात

दानापुर की रहने वाली शोभा अपने मायके गई थी। कुछ दिनों बाद पति उसे लेने गया मगर रास्ते से ही कहीं गायब हो गया। बड़ी खोजबीन हुई पर वह नहीं मिला। कुछ दिन बाद दोनों पक्षों ने एक दूसरे के ऊपर हत्या करने का आरोप लगाते हुए महिला थाने में मामला दर्ज करा दिया। करीब दो साल तक तथ्य की पुष्टि करने में महिला थाने की टीम जुटी रही। हाल ही में थाने के द्वारा जांच करने में पता चला कि लड़के ने दूसरी शादी कर ली है।

अलग रहने के लिए दहेज प्रताड़ना का झूठा आरोप

खगौल की रहने वाली रूबी का शादी के बाद जीवन हंसी-खुशी बीत रहा था, मगर रूबी को अपने पति के साथ उसके घर पर रहना पसंद नहीं था। जिसके लिए उसने विरोध करना शुरू किया। सारे बहाने भी बना दिए। जब बात नहीं बनी तो ससुराल वालों पर उसने दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज करा दिया। महिला थाने ने जांच शुरू की तो पता चला कि वह पति के साथ नहीं रहना चाहती थी इस लिए उसने मामला दर्ज करा दिया था।

मांगे पूरी कराने के लिए पति पर दर्ज कराया केस

राधा की शादी चार साल पहले हुई थी। पति ने शुरुआत में उससे बड़ी-बड़ी बात करके उसे काफी सपने दिखाए थे। कुछ दिनों में पति की आर्थिक स्थिति का पूरा ब्योरा उसे मिल गया। पति राधा की रोजाना बढ़ने वाली मांगों को पूरा नहीं कर सका। उसके खर्च को कम करने के लिए राधा ने परिवार से अलग रहने की भी बात कही, मगर उसका पति नहीं माना। उसने इसका उपाए सोचा और लड़के के परिवार वालों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगा दिया। जांच होने पर सारी बातें खुल कर सामने आई।

बताचीत

रोजाना कई केस आते हैं। इसमें ये जानना मुश्किल होता है कि कौन केस सही है कौन गलत। फर्जी मामलों की संख्या बढ़ी है। टीम का काफी समय इस तरह के मामलों के निपटारे में बीत जाता है। महिला थाने पर फेक कॉल करने के मामले भी सामने आए हैं।

- विभा कुमारी, थाना अध्यक्ष

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Women police station harassed by fake cases(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

यह भी देखें