PreviousNext

जदयू नेता का बयान- पार्टी में कोई टूट नहीं, शरद के मंसूबे फेल

Publish Date:Wed, 13 Sep 2017 06:56 PM (IST) | Updated Date:Wed, 13 Sep 2017 10:51 PM (IST)
जदयू नेता का बयान- पार्टी में कोई टूट नहीं, शरद के मंसूबे फेलजदयू नेता का बयान- पार्टी में कोई टूट नहीं, शरद के मंसूबे फेल
जदयू नेता आरसीपी सिंह ने कहा कि चुनाव आयोग ने शरद यादव के आवेदन का संज्ञान तक नहीं लिया। उनके सारे मंसूबे फेल हो गये। पार्टी में किसी तरह की टूट नहीं है।

पटना [राज्य ब्यूरो]। राज्यसभा में जदयू संसदीय दल के नेता एवं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आरसीपी सिंह ने शरद यादव पर पलटवार करते हुए कहा कि जदयू में कोई टूट नहीं है। यह बात चुनाव आयोग ने अपने आदेश में स्पष्ट कर दी है।

शरद यादव के इस दावे पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए जदयू नेता ने कहा कि चुनाव आयोग ने अभी अपना पूरा फैसला नहीं सुनाया है। सिंह ने आदेश की प्रति दिखाते हुए कहा कि चुनाव आयोग ने तो शरद यादव के आवेदन का संज्ञान भी नहीं लिया है। उनके सारे मंसूबे फेल हो गये।

चुनाव आयोग ने आदेश की प्रति आरसीपी सिंह को भी उपलब्ध कराई है जिसमें कहा गया है कि शरद यादव ने अपने दावे के पक्ष में कोई दस्तावेज नहीं उपलब्ध कराया है। सिंह ने कहा कि हम लोगों ने भी 5 सितंबर को चुनाव आयोग को आवेदन दिया था जिसमें सभी सांसदों, विधायकों, विधान पार्षदों के अलावा पार्टी पदाधिकारियों के शपथ पत्र भी संलग्न थे। हमने चुनाव आयोग से जल्द निर्णय लेने का आग्रह किया था क्योंकि पार्टी में टूट को लेकर भ्रम फैल रहा था।

 

शरद यादव की ओर से 25 अगस्त को आवेदन दिया गया था। उन्हें 27 अगस्त को गांधी मैदान में आयोजित राजद की रैली में शामिल होना था। पार्टी ने उन्हें आगाह किया था कि अगर वह रैली में जाएंगे तो लक्ष्मण रेखा लांघेंगे।

 

दरअसल, शरद यादव की मंशा थी कि चुनाव आयोग में इस मामले को लंबे समय तक लंबित रखा जाए, परन्तु चुनाव आयोग ने ऐसा नहीं किया। उसने आदेश में यह स्पष्ट कहा है कि चुनाव चिह्नों के पारा 15 के तहत शरद यादव के आवेदन का संज्ञान भी नहीं लिया गया है। यह भी कहा है कि जो आवेदन आया था उसपर शरद यादव के हस्ताक्षर भी नहीं थे।

 

सिंह ने कहा कि दस साल तक शरद यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे। जदयू को पहले कई राज्यों में मान्यता प्राप्त थी। झारखंड और उत्तर प्रदेश में जदयू मंत्रिमंडल में भी शामिल रहा। परन्तु उनके कार्यकाल में पार्टी की अन्य राज्यों में मान्यता भी चली गई।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:JDU leader rcp singh says no break in party EC does not take cognizance of Sharad application(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जिउतिया स्नान के दौरान डूबने से 13 मरे, दो लापताकेंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने के बाद पहली बार पटना पहुंचे अश्विनी चौबे, हुआ भव्य स्वागत
यह भी देखें