PreviousNext

बिहार में शराबबंदी के आफ्टर इफेक्ट, सड़क हादसों में आई कमी

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 03:07 PM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 11:36 PM (IST)
बिहार में शराबबंदी के आफ्टर इफेक्ट, सड़क हादसों में आई कमीबिहार में शराबबंदी के आफ्टर इफेक्ट, सड़क हादसों में आई कमी
शराबबंदी के बाद बिहार मे सड़क दुर्घटनाओं में कमी आई है। जहां 2015 में यहां सड़क दुर्घटनाओं में 867 लोगों की मौत हुई थी, वहीं 2016 में यह संख्या 326 हो गई है।

पटना [जेएनएन]। बिहार में शराबबंदी के आफ्टर इफेक्ट अब साफ दिखने लगे हैं। राज्य सरकार के इस फैसले के बाद एक तो सामाजिक क्रांति आई है और दूसरी यह बात जानकार आपको हैरानी होगी कि राज्य में सड़क दुर्घटनाओं के मामलों में 60 प्रतिशत की कमी हुई  है। 

एक समाचार पत्र के मुताबिक, 2015 में यहां सड़क दुर्घटनाओं में 867 लोगों की मौत हुई थी, वहीं 2016 में यह संख्या 326 हो गई है।

बिहार में रोड ऐक्सिडेंट्स में कमी के मामले ऐसे समय में सामने आ रहे हैं जब देश इस बात पर चर्चा कर रहा है कि क्या वाकई शराब बैन करने से सड़क हादसे कम होंगे। ये नतीजे तब सामने आए हैं जब नैशनल और स्टेट हाइवे के 500 मीटर के दायरे में शराब की दुकानों पर पाबंदी से जुड़े सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर केंद्र और राज्य सरकारें, दोनों ही पशोपेश में हैं।

यह भी पढ़ें: खाड़ी देशों में 15 महीने में दफन हो गए यहां के 37 युवक, जानिए

बिहार पुलिस के सूत्रों ने कहा कि शराबबंदी ने वाकई सड़कों पर होने वाली दुर्घटनाओं और मौतों की संख्या को कम कर दिया है। बिहार में 2016 में सड़क दुर्घटनाओं में 2015 की तुलना में 541 मौतें कम दर्ज की गई हैं। इस कमी का कारण राज्य में शराब की बिक्री पूरी तरह से बैन होना माना जा रहा है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO) की रिपोर्ट के अनुसार पूरी दुनिया में सड़क दुर्घटनाओं की मुख्य वजह शराब पीकर गाड़ी चलाना है। संपन्न देशों में 20% लोग शराब पीकर गाड़ी चलाते हुए पाए गए जबकि मध्यम आय वाले देशों में 69% लोग ड्रंक ड्राइविंग करते हुए पाए गए।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:After effect of liquor ban in bihar road accidents cases are now decreases(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

एडवोकेट एक्‍ट के विरोध में सड़क पर उतरे वकील, कोर्ट कार्य बाधितसुमो ने मिट्टी-मॉल-जमीन घोटाले में लालू यादव को फिर घेरा, पूछे सवाल
यह भी देखें