प्राथमिक विद्यालय के सभी शिक्षिकों का वेतन बंद

Publish Date:Sat, 20 May 2017 03:07 AM (IST) | Updated Date:Sat, 20 May 2017 03:07 AM (IST)
प्राथमिक विद्यालय के सभी शिक्षिकों का वेतन बंदप्राथमिक विद्यालय के सभी शिक्षिकों का वेतन बंद
प्रखंड विकास पदाधिकारी रवि जी व अंचलाधिकारी राजेश रंजन ने दो दिनों पूर्व प्राथमिक विद्यालय तिरवा का औचक निरीक्षण किया था तब विद्यालय बंद मिला था।

नवादा। प्रखंड विकास पदाधिकारी रवि जी व अंचलाधिकारी राजेश रंजन ने दो दिनों पूर्व प्राथमिक विद्यालय तिरवा का औचक निरीक्षण किया था तब विद्यालय बंद मिला था। स्कूल बंद रहने को गंभीरता से लेते हुए प्रधान शिक्षक सहित सभी शिक्षकों का वेतन बंद करने का आदेश दिया है।

बताया जाता है कि तिरवा गांव में दिनेश पासवान की हुई हत्या के बाद बीडीओ, सीओ और थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार सहित कई जनप्रतिनिधि वहां पहुंचे थे। इसी दौरान ग्रामीणों ने विद्यालय की नारकीय स्थिति की ओर अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराया था। विद्यालय के प्रधान शिक्षक कौन हैं इसके बारे में ग्रामीण बहुत कुछ बताने की स्थिति में नहीं थे। ग्रामीणों ने साफ कहा कि विद्यालय खुलता ही नहीं है। शिकायतों के आलोक में बीडीओ, सीओ और थानाध्यक्ष विद्यालय का निरीक्षण करने पहुंचे। जांच में ग्रामीणों की शिकायतें सत्य पाई गई। इस बाबत बीडीओ ने बीईओ हीरा साह से संपर्क करना चाहा तो संपर्क नहीं हो पाया। दूसरे दिन संपर्क हुआ तो विद्यालय की विस्तृत जानकारी मांगी गई तो नहीं मिला। अंतत: बीडीओ ने गुरुवार को उक्त विद्यालय के सभी शिक्षकों पर कारवाई करते हुए वेतन बंद करने का आदेश दे दिया। इतना ही नहीं इस मामले को लेकर शिक्षकों के साथ ही बीईओ से भी स्पष्टीकरण की मांग की है। इस बाबत माध्यान्न भोजन प्रभारी आलोक कुमार चंचल ने बताया कि मैंने पिछले माह उक्त विद्यालय की जांच किया था तब बच्चों की उपस्थिति संतोषजनक नहीं पाई गई थी।

बता दें कि जांच के दौरान कबला पंचायत के पैक्स अध्यक्ष नल कुमाल उर्फ बब्लु ¨सह, जदयू नेता टुनटुन पासवान सहित कई अन्य लोग मौजूद थे। कमोवेश यही हाल सिलौर, भलुआ, रेवार, गुलनी, चढि़यारी, करतारा, ¨सदुआरा, उल्टायन, बुधन बिगहा, तुर्कवन, रेहड़ी, दुर्गापुर, धमौल, निजाय, बुधौली, सुदनपुर, डोला, खपुरा, बिहटा, भलकी, एरूरी, शामदेव, गोपालपुर, रामपुर सहित अन्य गांवों के विद्यालयों का है। इन विद्यालयों में तो सभी शिक्षक नियमित उपस्थित नहीं हो पाते हैं। बीईओ अपने कार्यालय में बैठे-बैठे जांच प्रक्रिया को पुरा करते हैं। जिसके कारण प्रखंड में शिक्षा व्यवस्था चौपट होती जा रही है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:sallery has been stoped(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

यह भी देखें