PreviousNext

नियोजित शिक्षकों ने स्कूलों में की तालाबंदी

Publish Date:Thu, 20 Apr 2017 03:08 AM (IST) | Updated Date:Thu, 20 Apr 2017 03:08 AM (IST)
नवादा। समान काम के लिए समान समान वेतन की मांग को लेकर बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ ने

नवादा। समान काम के लिए समान समान वेतन की मांग को लेकर बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ ने बुधवार को विद्यालयों में तालाबंदी कर विरोध जताया। इसके साथ ही संघ से जुड़े नियोजित शिक्षक अनिश्चिकालीन हड़ताल पर चले गए। संघ के जिलाध्यक्ष रामजी प्रसाद ने हड़ताल को पूर्णत: सफल बताया। उन्होंने कहा कि मांग पूरा होने आंदोलन जारी रहेगा। संघ के प्रधान सचिव कुमार देवेंद्र सहित कई शिक्षक हड़ताल को सफल बनाने में जुटे रहे।

नरहट प्रखंड के सरकारी प्राथमिक व मध्य विद्यालय के नियोजित शिक्षकों के सामूहिक हड़ताल पर चले जाने से विद्यालयों में ताला लटक गया है। बुधवार को शिक्षकों की टोली स्कूलों में तालाबंदी कराते दिखे। नेतृत्व संघ के अध्यक्ष रविन्द्र पांडेय कर रहे थे। शिक्षकों की अनुपस्थिति से विद्यार्थी वापस घर लौट गए। नियमित शिक्षक अपनी हाजिरी बना कर बैठे थे। संघ के सचिव मुकेश कुमार ने कहा कि हर कीमत पर हमलोगों को सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के आधार पर समान काम के बदले समान वेतन दिया जाए। अन्यथा हम लोग अनिश्चित कालीन हड़ताल पर डटे रहेंगे। मौके पर सुकृता सिन्हा, संजय कुमार, नवीन कुमार, इशरत परवीन, ज्योति कुमारी, अर्चना कुमारी, नुशरत खातून, मो. मशरूर आलम, राम भज्जू प्रसाद, दीपक कुमार, संजीव कुमार, मीना कुमारी, नवीन कुमार, संगीता, इंदु कुमारी, रतन लाल यादव, शैलेन्द्र प्रसाद, मीरा कुमारी,निरंजन कुमार, अपराजिता कुमारी सहित काफी संख्या में शिक्षक उपस्थित थे ।

अकबरपुर प्रखंड के नियोजित शिक्षकों ने समान कार्य का समान वेतन को लेकर पठन-पाठन ठप कर दिया। जिससे विद्यालयों में पढने वाले बच्चों को भारी परेशानियां झेलनी पड़ी। प्रखंड संघ के अध्यक्ष प्रमोद भारती ने बताया कि राज्य सरकार प्रारंभिक शिक्षकों के साथ दोरंगी नीति अपना रही है। जबतक मांगे पूरी नहीं की जाएगी तबतक हड़ताल चलता रहेगा।

रजौली प्रखंड के प्रारंभिक शिक्षक अध्यक्ष अजीत कुमार के नेतृत्व में हड़ताल पर चले गए। प्रखंड के सभी 143 विद्यालयों बाधित हो गया है। प्रखंड अध्यक्ष ने बताया कि एक-दो विद्यालयों में जहां नियमित शिक्षक है वहां पठन पाठन का कार्य किया जा रहा है, लेकिन हड़ताल का असर वहां भी है। हड़ताल को सफल बनाने के लिए दो कमेटी बनाई गई है, जिसमें शामिल शिक्षक विद्यालयों का भ्रमण कर देखेंगे कि कहीं नियोजित शिक्षक शिक्षण का कार्य तो नहीं कर रहे हैं। सुशील कुमार दानी, कुणाल ¨सह, राकेश ¨सह, रितेश कुमार, दीपू कुमार, संतोष राय, महफूज आलम, मिथिलेश कुमार आदि कमेटी में शामिल किए गए हैं।

हिसुआ प्रखंड व नगर के स्कूलों में हड़ताल का असर दिखा। संघ के के जिला उपाध्यक्ष जितेन्द्र कुमार आर्यन ने बताया कि शिक्षकों की यह निर्णायक लड़ाई है। बिहार के नियोजित शिक्षकों की दीन हीन स्थिति पर बिहार सरकार की पूरी दुनिया में किरकरी हो रही है, बावजूद सरकार शिक्षकों को बार बार अपमानित कर रही है। संपूर्ण बिहार के शिक्षक हड़ताल पर हैं तो बच्चों का पठन-पाठन पूरी तरह से प्रभावित है। इसके लिए पूर्ण रूप से सरकार जवाबदेह है।

रोह प्रखंड में हड़ताल को सफल बनाने के लिए इंटर विद्यालय रोह के प्रांगण में नियोजित शिक्षकों ने एकजुटता प्रदर्शित किया। प्रखंड अध्यक्ष रंजीत कुमार ने बताया कि प्रखंड के अधिकांश विद्यालय में ताला लटक गया है तथा पठन पाठन का कार्य पूरी तरह से ठप है। वक्ताओं ने कहा कि जब तक मांग पूरी नहीं होगी तब तक हम लोग इसी प्रांगण में विद्यालय अवधि में अपनी एकजुटता का प्रदर्शन करते रहेंगे। हड़ताल को सफल बनाने के लिए संकुलवार कमेटी का भी गठन किया गया। मौके पर हरिश्चंद्र प्रसाद, माधुरी कुमारी, रीना राय,प्रतिमा कुमारी,सरजू प्रसाद, कृष्ण नंदन, मिथिलेश कुमार, पवन कुमार, श्याम राज वर्मा,पूनम कुमारी, सुधीर कुमार, बाली कुमार, हीरालाल साहनी आदि उपस्थित थे। सिरदला प्रखंड के सभी नियोजित शिक्षक भी हड़ताल पर चले गए। हड़ताली शिक्षकों ने प्रखंड कार्यालय स्थित अम्बेडकर मैदान के हड़ताली स्थल पर बैठक किया। बैठक के बाद बीडीओ को मांग से संबंधित ज्ञापन सौंपा। विद्यालय में तालाबंदी के बाद क्षेत्र के स्कूलों में पठन-पाठन ठप हो गया है। मौके पर प्रखंड अध्यक्ष मो. शफीक उद्दीन, सचिव सुरेन्द्र प्रसाद, कोषाध्यक्ष मनीष कुमार शुक्ला, मीडिया प्रभारी सतेन्द्र कुमार, जिला उपाध्यक्ष सुनील चन्द्र घोष, राजेश भारती, सुनील दिवाकर, आशा कुमारी, दयमंती देवी आदि मौजूद थे। संघ के अनुसार प्रखंड के सभी 670 नियोजित शिक्षक हड़ताल पर हैं। नारदीगंज में समान काम के बदले समान वेतन की मांग को लेकर प्रारंभिक शिक्षक संघ से जुड़े प्रखंड के शिक्षक अनिश्चिकालीन हड़ताल पर चले गए। शिक्षकों ने कहा कि मांग पूरी होने तक आंदोलन जारी रहेगा। मौके पर प्रखंड अध्यक्ष अमरेंद्र कुमार, राकेश कुमार, अशोक कुमार, अवधेश कुमार, पंकज कुमार, मंजू कुमारी आदि उपस्थित थे।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Employed teachers lock in schools(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

गरीब बच्चों को तकनीक आधारित शिक्षा जरूरी : डीएममहज तीन मेगावाट बिजली की आपूर्ति
यह भी देखें