PreviousNext

सेक्स रैकेट के दलालों के चंगुल में फंसी युवती, दुष्कर्म कर बूढ़े से बेचा

Publish Date:Mon, 30 Jan 2017 04:24 PM (IST) | Updated Date:Mon, 30 Jan 2017 10:42 PM (IST)
सेक्स रैकेट के दलालों के चंगुल में फंसी युवती, दुष्कर्म कर बूढ़े से बेचासेक्स रैकेट के दलालों के चंगुल में फंसी युवती, दुष्कर्म कर बूढ़े से बेचा
बिहार के कटिहार की एक युवती सेक्स रैकेट के दलालों के चंगुल में फंस गई। धंधेबाजों ने उसके साथ लगातार दुष्कर्म किया, फिर एक बूढ़े के हाथों 70 हजार में बेच दिया।

कटिहार [जेएनएन]। सेक्स रैकेट के दलालों ने युवती व उसकी मां का ट्रेन से अपहरण कर लिया। फिर, युवती को एक बूढ़े के हाथों 70 हजार रुपये में बेंच दिया। इसके पहले दलालों ने उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। बाद में युवती किसी तरह भागकर अपने गांव पहुंची तो लोगों को घटना की जानकारी मिली। पुलिपुलिस ने एफआइआर दर्ज कर अनुसंधान आरंभ कर दिया है।

जानकारी के अनुसार कटिहार के बरारी थाने अंतर्गत एक गांव की युवती 21 जनवरी को अपनी मां के साथ पश्चिम बंगाल के मालदा स्थित अपने पुराने घर से आ रही थी। सेमापुर स्टेशन पर दोनों मां-बेटी महानंदा एक्सप्रेस से उतरीं। रास्ते में बरेटा निवासी मो. काबुल, बोगिया खातून व जयबून खातून से उनकी भेंट हुई। तीनों ने मां-बेटी को नौकरी का झांसा दिया और बहला-फुसलाकर अपने घर लेकर चले गए।

यह भी पढ़ें: दबंगों ने महिला पर लगाया ये संगीन आरोप, सरेआम खूंटे से बांधकर पीटा

इसके बाद तीनों ने मां-बेटी का अपहरण कर लिया। आरोपी दोनों को पंजाब के चुंदी हरियाणा ले गए। वहां युवती को एक बूढ़े के पास 70 हजार रुपये में बेच दिया।

बेचने के पहले युवती के साथ लगातार दुष्कर्म किया जाता रहा। बेचंने के बाद उसे तीन-चार दिनों तक कमरे में बंद कर रखा गया। वहां उसके साथ बूढ़े ने भी दुष्कर्म किया।

यह भी पढ़ें: जीजा-साली का एेसा प्यार, साथ खाया जहर तो पत्नी बोली सौतन भी है मंजूर

एक दिन मौका पाकर युवती भाग निकली। रविवार को वह अपने गांव पहुंची। बरारी थाना अध्यक्ष अकमल खुर्शीद ने कहा कि पीडि़ता के आवेदन पर जांच शुरू कर दी गई है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Woman sold to an old man after rapped by dalals of sex racket(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

लाखों खर्च होने के बाद भी हलक सूखेदो वर्षों बाद भी स्कूल भवन अधूरा
यह भी देखें