PreviousNext

बिहार में सिख रेजीमेंट के सैनिक की गोली मारकर हत्या, झाड़ी में फेंक दिया शव

Publish Date:Sun, 14 Feb 2016 12:00 PM (IST) | Updated Date:Mon, 15 Feb 2016 08:00 AM (IST)
बिहार में सिख रेजीमेंट के सैनिक की गोली मारकर हत्या, झाड़ी में फेंक दिया शव
पंजाब के गुरुदासपुर निवासी सेना के एक जवान का शव कटिहार पुलिस ने मनिहारी थाना क्षेत्र के महियारपुर के समीप एक बांस की झाड़ी से बरामद किया है। जवान की हत्या गोली मारकर की गयी है। उ

कटिहार। पंजाब के गुरुदासपुर निवासी सेना के एक जवान का शव कटिहार पुलिस ने मनिहारी थाना क्षेत्र के महियारपुर के समीप एक बांस की झाड़ी से बरामद किया है। जवान की हत्या गोली मारकर की गयी है। उसकी पहचान मंजीत सिंह के रुप में हुई है।

मंजीत सिंह सिख रेजीमेंट (गुवाहाटी) में लांस नायक थे। छुट्टी के बाद वे नौ फरवरी को दिल्ली से नार्थ इस्ट एक्सप्रेस से गुवाहाटी के लिए रवाना हुए थे। शव की स्थिति से स्पष्ट है कि उसकी हत्या 48 घंटा पूर्व की गयी है।

शव की पहचान पाकेट से मिली आइ कार्ड, एटीएम, मोबाइल व अन्य कागजात के आधार पर हुई है। सूचना पर सेना के अधिकारी भी पहुंच रहे हैं। साथ ही परिजन भी कटिहार के लिए निकल गये हैं।

विदित हो कि शनिवार की शाम में महियारपुर बांस झाड़ी में एक शव के लटके रहने की सूचना मिली थी। पुलिस ने उसकी तलाशी के दौरान आइ कार्ड, पंजाब नेशनल बैंक का एटीएम, मोबाइल, पैन कार्ड, आधार कार्ड बरामद किए। उनके आधार पर शव की शिनाख्त हो पायी।

बता दें कि नार्थ इस्ट एक्सप्रेस कटिहार होकर ही गुवाहाटी जाती है। मनिहारी-महियारपुर इसका लूप लाइन है। ऐसे में फौजी का शव वहां से बरामद होना एक साथ कई सवालों को खड़ा कर रहा है। पुलिस भी अभी तक इस गुत्थी को सुलझा नहीं पायी है।

पुलिस फिलहाल लूटपाट के दौरान हत्या की आशंका से भी इंकार कर रही है। फौजी के कान के नीचे गोली लगी हुई है, जो आरपार कर गयी है। इसके अलावा शरीर के कई अन्य हिस्सों में भी जख्म के निशान मिले हैं।

यह भी पढ़ें : ACID ATTACK : एक लाख रुपये नहीं दिए तो दहेजलोभी बना शैतान

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Dead body of Army man recovered from katihar(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

कैरम प्रतियोगिता का शुभारंभसिख रेजिमेंट के सैनिक का शव लेकर कटिहार से लौटे परिजन
यह भी देखें